top menutop menutop menu

Venus Transit 2019 Effects: 24 फरवरी को होने वाले इस राशि परिवर्तन का जानिए क्या होगा आप पर प्रभाव

शुक्र का ग्रह गोचर

शुक्र ग्रह ने 29 जनवरी 2019 को वृश्चिक राशि से धनु राशि में प्रवेश किया था आैर अब इससे निकल कर 24 फरवरी को मकर राशि में प्रवेश करेंगे। इस स्थान पर वो 22 मार्च तक रहेंगे। शुक्र को भारतीय ज्योतिष में एक स्त्री ग्रह के रूप में पहचाना जाता है जबकि पश्चिम में इसे सौंदर्य का प्रतीक कहा जाता है। वैदिक ज्योतिष में ये वृषभ और तुला राशियों का स्वामी माना जाता है।  हमारी कुंडलियों में ये विवाह, संतान आैर प्रेम का ग्रह माना जाता है। एेसा माना जाता है जिनकी कुंडली में शुक्र प्रभावी होता है उनको धन आैर वैभव की प्राप्ति होती है। आइये जानें कैसा होगा शुक्र के ग्रह गोचर का आपकी राशि पर प्रभाव।

राशि पर प्रभाव

मेष राशि: शुक्र परिवर्तन के बाद मेष राशि वालों के दसवें घर का दौरा करेगा। यह अवधि आपको अपने बहुप्रतिक्षित लक्ष्यों को प्राप्त के नए अवसर उपलब्ध कराने का सर्वोत्तम समय साबित होगी। यह समय उन लोगों के लिए विशेष रूप से अच्छा है जो स्टार्टअप खोलने की योजना बना रहे हैं।

वृष राशि:  शुक्र आपकी राशि का स्वामी है आपके नौवें घर में आयेगा। इस दौरान आप स्वास्थ्य, वित्त और रोमांटिक मोर्चे पर अच्छे भाग्य का आनंद ले सकते हैं। आपको किसी नए मित्र से सही समय आवश्यक सहायता मिलेगी या आप उसकी सहायता करेंगे।

मिथुन राशि: आपके अष्टम भाव में शुक्र होगा, इसलिए इस अवधि के दौरान उन क्षेत्रों में संपत्ति निवेश की उच्च संभावनाएं हैं जिनकी आप लंबे समय से योजना बना रहे हैं। आपकी आमदनी में वृद्धि होगी जिससे भौतिकवादी सुख-सुविधाओं में बढ़ोत्तरी होगी।

कर्क राशि: आपके सातवें घर में शुक्र आयेगा जिसका मतलब होगा कि आप अपने जीवनसाथी के साथ सौहार्दपूर्ण संबंध का आनंद लेंगे। ये दुविधा का कारण भी बन सकता है जिससे आपको निर्णय लेने में कठिनाई होगी।

सिंह राशि: शुक्र आपके छठे भाव में स्थित होगा, साथ ही सूर्य जो आपकी राशि का स्वामी है वो भी 14 फरवरी से उसी घर में स्थित है। इस अवधि में आपको अपनी सेहत का पूरा ध्यान रखना होगा। बेहतर होगा इस समय अपने खर्चों को नियंत्रित रखें और फालतू भौतिकवादी चीजों पर खर्च न करें।

कन्या राशि: इस अवधि के दौरान आपका पांचवां घर शुक्र का स्थान रहेगा। इस दौरान काम के मोर्चे की चीजें आपके पक्ष में होंगी।

तुला राशि:  शुक्र आपके चौथे भाव में है जिसका तात्पर्य यह है कि मित्र या सहकर्मी तथ्यों में हेरफेर करके आपकी छवि को खराब करने का प्रयास कर सकते हैं, अत: सावधान रहें।

वृश्चिक राशि: इस अवधि में शुक्र आपके पराक्रम क्षेत्र या तीसरे घर में स्थानांतरित होने के साथ आपको अपने रिश्तों और साझेदारियों में थोड़ा संभलकर रहने की आवश्यकता है। तनावपूर्ण स्थितियों से सावधान रहें जहां आप अपना नियंत्रण खो सकते हैं। एक शांत रहें और इस तरह की स्थितियों से चातुर्य और कूटनीति से निपटें।

धनु राशि: आपकी राशि में शुक्र गोचर के बाद दूसरे घर में उतरेगा। यह स्थिति आपके लिए मौद्रिक लाभ को इंगित करती है। आपको पारिवारिक मुद्दों को शांत और संयत दिमाग से संभालने की जरूरत है, खासतौर पर तब जब आप अपने भाई-बहनों या चचेरे भाई-बहनों के साथ कोई मतभेद हो।

मकर राशि: आपके पहले घर में शुक्र आपके प्रेम जीवन को खूबसूरत बनायेगा। इस समय अवधि के दौरान सिंगल लोगों को नया प्यार मिल सकता है और विवाहित अपने बीच किसी भी असहमति को सुलझा लेंगे।

कुंभ राशि: आपका बारहवां घर गोचर के बाद शुक्र की मेजबानी करेगा। यदि आप अपने प्रयासों में ज्यादा मेहनत किए बिना कुछ लाभ प्राप्त कर रहे हैं, तो परिवर्तन के बाद इन लाभों को बनाए रखने के लिए थोड़ी मेहनत करनी पड़ सकती है।

मीन राशि: गोचर आपकी राशि के ग्यारहवें घर में होगा जिसे वैदिक ज्योतिष में लाभ गृह के नाम से भी जाना जाता है। जो शुक्र के लिए अनुकूल स्थिति है। आपके लिए वित्तीय लाभ भी कार्ड पर हैं, साथ ही छोटे बहन या भाई से कुछ अच्छी खबर सुनने को मिलेगी।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.