Rajasthan: अजमेर में बिजली चोरी वाले इलाकों में रहेगी सख्त निगरानी

Rajasthan अजमेर विद्युत वितरण निगम ने बिजली चोरी के खिलाफ चलाए विशेष ऑपरेशन में 1861 बिजली चोरी के मामले पकड़े हैं। निगम के 573 अफसरों ने रेड मार कर यह चोरियां पकड़ी। निगम अब चोरी वाले क्षेत्रों में सख्त मॉनिटरिंग रखेगा।

Sachin Kumar MishraWed, 16 Jun 2021 08:37 PM (IST)
अजमेर में बिजली चोरी वाले इलाकों में रहेगी सख्त निगरानी। फाइल फोटो

अजमेर, संवाद सूत्र। राजस्थान के अजमेर विद्युत वितरण निगम ने बिजली चोरी के खिलाफ चलाए विशेष ऑपरेशन में 1861 बिजली चोरी के मामले पकड़े हैं। निगम के 573 अफसरों ने रेड मार कर यह चोरियां पकड़ी। निगम अब चोरी वाले क्षेत्रों में सख्त मॉनिटरिंग रखेगा। बिजली चोरों के खिलाफ 3.20 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया गया है। डिस्कॉम ने अपने सभी 12 वृत्तों में छापेमारी कर 1861 बिजली चोरी व अनियमितताओं के मामले दर्ज किए है। प्रबंध निदेशक वीएस भाटी ने बताया कि अजमेर डिस्कॉम ने बिजली चोरों के विरुद्ध विशेष ऑपरेशन का आगाज 15 जून को डिस्कॉम के क्षेत्राधीन सभी 11 जिलों में किया। इस विशेष ऑपरेशन के तहत डिस्कॉम ने पहले दिन बिजली चोरों पर 3.20 करोड़ रुपयों का निर्धारण किया है। डिस्कॉम के 573 अफसरों ने 3935 परिसरों की जांच की। जांच में 1660 परिसरों में बिजली चोरी के तथा 201 परिसरों में विद्युत के गलत इस्तेमाल के मामले दर्ज कर कार्रवाई की गई है।

उन्होंने बताया कि इस विशेष ऑपरेशन के तहत अजमेर सिटी सर्किल ने 53 बिजली चोरों पर 7.95 लाख, भीलवाड़ा सर्किल ने 145 बिजली चोरों पर 18.88 लाख, नागौर सर्किल ने 362 बिजली चोरों पर 63.72 लाख, झुंझुनू सर्किल ने 232 बिजली चोरों पर 43.43 लाख, सीकर सर्किल ने 163 बिजली चोरों पर 41.39 लाख, बांसवाड़ा सर्किल ने 77 बिजली चोरों पर 07.24 लाख, चित्तौड़गढ़ ने 230 बिजली चोरों पर 37.26 लाख, डूंगरपुर ने 40 बिजली चोरों पर 4.23 लाख, डिस्कॉम की एमएंडपी विंग ने 46 बिजली चोरों पर 19.34 लाख, आइएंडएस विंग ने चार बिजली चोरों पर 0.73 लाख, विजिलेंस विंग ने 274 बिजली चोरों पर 48.51 लाख तथा प्रोजेक्ट विंग ने 34 बिजली चोरों पर 6.02 लाख रुपयों का जुर्माना लगाया।

इसके अतिरिक्त डिस्कॉम की टीम ने 201 जगह बिजली के गलत इस्तेमाल के मामले पकड़े जिनमें 21.54 लाख रुपयों का जुर्माना लगा कर कार्रवाई की गई। प्रबंध निदेशक वीएसभाटी ने बताया कि आने वाले समय में इस अभियान को और अधिक गति दी जाएगी, जिससे विद्युत छीजत में कमी आएगी। निगम ने इस वित्तीय वर्ष में विद्युत छीजत को 11 प्रतिशत से भी कम लाने का लक्ष्य लिया है, इसके तहत ज्यादा छीजत वाले पांच जिलों में बिजली चोरों के खिलाफ अभियान लगातार जारी रहेगा। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.