Rajasthan Politics: सतीश पूनिया बोले, 36 कौम के लोग तय करेंगे 2023 में कांग्रेस की विदाई

Rajasthan सतीश पुनिया ने कहा कि ओसियाा में भाजपा ने विपरीत परिस्थितियों में कमल का फूल खिलाया। यह चुनाव परिणाम आगामी 2023 के विधानसभा चुनाव का ट्रेलर है। कांग्रेस के कुशासन के खिलाफ 36 कौम के लोग तय करेंगे 2023 में कांग्रेस की विदाई।

Sachin Kumar MishraSun, 19 Sep 2021 03:55 PM (IST)
सतीश पूनिया बोले, 36 कौम के लोग तय करेंगे 2023 में कांग्रेस की विदाई। फाइल फोटो

जोधपुर, संवाद सूत्र। राजस्थान भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पुनिया की अध्यक्षता में जोधपुर के ओसिया में हुई धन्यवाद सभा में कांग्रेस और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर जुबानी हमले हुए। अशोक गहलोत को अपनी कुर्सी की चिंता बढ़ने वाला मुख्यमंत्री बताते हुए सतीश पूनिया ने प्रदेश की चरमराई कानून व्यवस्था पर तंज कसा।उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के साथ-साथ गहलोत गृह मंत्री भी हैं, लेकिन प्रदेश में महिलाओं की बदतर स्थिति गहलोत को दिख नहीं रही है, जिस व्यक्ति को अपनी कुर्सी बचाने की चिंता ज्यादा हो और राजस्थान के लोगों की सुरक्षा कैसे करेगा। जोधपुर के ओसियां में प्रधान बदन कवर खेतासर मैं शनिवार को पंचायत समिति में पदभार ग्रहण किया था, जिसमें शिरकत करने के बाद सतीश पूनिया खेल मैदान में आयोजित धन्यवाद सभा में बोल रहे थे। कार्यक्रम में केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत मुख्यअथिति के रूप में तो केंद्रीय कृषि व किसान कल्याण राज्य मंत्री कैलाश चौधरी , पूर्व मंत्री व पूर्व सांसद पीपी चौधरी विशिष्ठ अथिति के रूप में मौजूद रहे।

इस मौके पर भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पुनिया ने कहा कि ओसियाा में भाजपा ने विपरीत परिस्थितियों में कमल का फूल खिलाया। यह चुनाव परिणाम आगामी 2023 के विधानसभा चुनाव का ट्रेलर है। कांग्रेस के कुशासन के खिलाफ 36 कौम के लोग तय करेंगे 2023 में कांग्रेस की विदाई। मोदी सरकार आने के बाद देश के गरीब तबके के आदमी को संबल मिला। उन्होंने प्रधानमंत्री के द्वारा जनता की कल्याणकारी योजनाओं के बारे में जानकारी दी। साथ ही, राहुल गांधी पर भी किसानों के साथ कर्जा माफी के वादाखिलाफी पर तंज कसा। मुख्य अतिथि केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने राजस्थान की सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री कभी बीमारी तो कभी रिकवरी को लेकर कमरे में बैठे हैं। ऐसे में राजस्थान में सभी तरह के विकास कार्य ठप पड़े हैं।

पानी पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि राजस्थान को उन्होंने सबसे पहले दो हजार करोड़ रुपये का बजट दिया। लेकिन सरकार खर्च नहीं कर पाई और बजट लैप्स हो गया। अभी उन्होंने फिर से 10180 करोड़ का बजट दिया, लेकिन सरकार केवल 200 करोड़ खर्च पाई। पिछले 70 साल में केवल तीन करोड़ 23 लाख घर मे पानी था, लेकिन मोदी सरकार में जल शक्ति मंत्रालय बनने के बाद मात्र 21 महीने के समय में पांच करोड़ घरों में पानी पहुचाने का कार्य किया है। वहीं, केंद्रीय कृषि व किसान कल्याण राज्य मंत्री चौधरी ने ओसियां की जनता का बहुत बहुत आभार जताते हुए कहा कि जनता ने भरोसा जताकर भाजपा को बहुमत देते हुए सेवा का अवसर दिया। जनप्रतिनिधि का दायित्व बनता है कि वो जितने के बाद जनता की सेवा करें, लेकिन राज्य की वर्तमान सरकार को जनता की जरा भी फिक्र नहीं है।

ओसिया में रहा रोचक मुकाबला

पंचायत चुनाव में ओसियां क्षेत्र में चुनाव बड़ा रोचक रहा था। यहां से हालांकि कांग्रेस की दिव्य मदेरणा विधायक हैं, उन्हीं की माता लीला मदेरणा जोधपुर के जिला प्रमुख पद पर जीती है। लेकिन ओसियां क्षेत्र में कांग्रेस और भाजपा की बराबर सीटें रही थी, जबकि एक सीट हनुमान बेनीवाल की पार्टी रालोपा के खाते में गई थी। राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी मैं यहां भारतीय जनता पार्टी को समर्थन देकर भाजपा का प्रधान बनाया है। ओसिया प्रधान बदन कवर खेतासर भारतीय जनता पार्टी के दिग्गज नेता और अशोक गहलोत के सामने चुनाव लड़ चुके शंभू सिंह खेतासर के परिवार की सदस्य है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.