Rajasthan Local Body Elections Results 2019: 20 निकायों में कांग्रेस और छह में भाजपा को स्पष्ट बहुमत

जयपुर, मनीष गोधा। Rajasthan Local Body Elections Results 2019: राजस्थान में लोकसभा चुनाव में बड़ी हार के बाद कांग्रेस को निकाय चुनाव में बड़ी सफलता हासिल हुई है। प्रदेश के 49 नगरीय निकायों के लिए 16 नवंबर हो हुए चुनाव में पार्टी ने 20 निकायों में स्पष्ट बहुमत हासिल किया है, वहीं प्रतिपक्षी भाजपा सिर्फ छह निकायों में स्पष्ट बहुमत हासिल कर पाई है। शेष बचे 23 निकायों में से पांच निकायों में निर्दलीय दोनों दलों पर भारी पड़े हैं, वहीं 18 निकायों में भाजपा और कांग्रेस को निर्दलीय व अन्य दलों के जीते हुए पार्षदों का सहयोग लेना पड़ेगा।

इस हिसाब से निर्दलीय और अन्य दलों के प्रत्याशियों के हाथ में इस बार लगभग आधे निकायों की सत्ता की चाबी है। इस चुनाव में 2105 वार्डों के लिए चुनाव हुआ था। इनमें से कांग्रेस को 961, भाजपा को 737, बसपा को 16, माकपा को तीन, अन्य को दो और निर्दलियों को 386 सीटें मिली हैं। अब सबकी नजर 26 नवंबर को होने वाले निकाय अध्यक्ष चुनावों पर हैं। इसके लिए दोनों बड़ी पार्टियों ने अपने जीते हुए पार्षदों की घेराबंदी कर ली है और निर्दलीय व अन्य दलों के निर्वाचित पार्षदों को अपने पक्ष में करने की कोशिशें शुरू कर दी हैं।

राजस्थान में निकाय और पंचायत चुनाव में आमतौर पर उसी दल को बढ़त मिलती रही है, जिसकी प्रदेश में सरकार होती है और यह परंपरा इस बार भी कायम रही है। राजस्थान के 195 में से 49 निकायों में यह चुनाव हुआ था। इनमें से छह नगरपालिकाएं नई थीं। वर्ष 2014 में जिन 43 निकायों में चुनाव हुआ था, उनमें से 36 में से भाजपा का बोर्ड था, जबकि सात में कांग्रेस का बोर्ड था। ऐसे में पिछले चुनाव से तुलना की जाए तो इस बार परिणाम लगभग पूरी तरह पलट गया है और परंपरानुसार कांग्रेस को बढ़त मिली है।

तीन निगमों में भाजपा आगे

इस चुनाव में कांग्रेस को बढ़त तो मिली है, लेकिन सीटों के लिहाज से देखें तो भाजपा को काफी हद तक ठीक-ठाक प्रदर्शन कर गई है। दोनों दलों के 224 सीटों का ही अंतर है। इसके अलावा तीन नगर निगम उदयपुर, बीकानेर और भरतपुर तीनों जगह कांग्रेस हार गई। उदयपुर में तो लगातार छठी बार भाजपा स्पष्ट बहुमत के साथ बोर्ड बनाएगी, वहीं बीकानेर में यह बहुमत के आंकड़े से तीन सीट ही दूर है, वहीं भरतपुर में भी भाजपा के पास बढ़त है।

आधे निकायों में निर्दलियो के हाथ सत्ता की चाबी

इस चुनाव की सबसे बडी बात यह है कि 49 में से 23 निकायों में सत्ता की चाबी निर्दलीय और अन्य दलों के पार्षदों के पास है। इनमें से पांच निकाय तो ऐसे हैं, जहां निर्दलीय और अन्य दल भाजपा व कांग्रेस पर भारी पडे है। इनमें भरतपुर नगर निगम भी शामिल है, वही पिलानी में तो 35 से 30 सीटें निर्दलियों ने जीती है। निर्दलियों और अन्य दलों को इस चुनाव में 407 सीटें हासिल हुई हैं, यानी कुल सीटों का करीब 20 प्रतिशत निर्दलियों और अन्य दलों के पास है।

नगर निकाय चुनाव के परिणाम

निकाय क्षेत्र कांग्रेस भाजपा निर्दलीय बीएसपी माकपा कुल वार्ड

ब्यावर नगर पालिका 16 29 15 0 0 60

पुष्कर नगर पालिका 9 14 2 0 0 25

नसीराबाद नगरपालिाका 8 10 2 0 0 20

अलवर नगर परिषद 19 27 19 0 0 65

भिवाड़ी नगर परिषद 23 23 12 2 0 65

थानागाजी नगरपालिका 10 9 6 0 0 25

बांसवाड़ा नगर परिषद 36 21 3 0 0 60

छबड़ा नगर पालिका 15 8 10 2 0 35

मांगरोल नगर पालिका 15 13 7 0 0 35

बाड़मेर नगर परिषद 33 18 4 0 0 55

बालोतरा नगर परिषद 16 25 4 0 0 45

भरतपुर नगर निगम 18 22 22 3 0 65

बीकानेर नगर निगम 30 38 11 1 0 80

चित्तौड़गढ़ नगर परिषद 36 24 0 0 0 60

निंबाहेड़ा नगर पालिका 28 16 1 0 0 45

रावतभाटा नगर पालिका 26 11 3 0 0 40

चूरू नगर परिषद 36 17 7 0 0 60

राजगढ़ नगर पालिका 15 11 7 7 0 40

गंगानगर नगर परिषद 19 24 22 0 0 65

सूरतगढ़ नगर पालिका 22 12 9 1 1 45

हनुमानगढ़ नगर परिषद 36 18 6 0 0 60

जैसलमेर नगर परिशद 21 20 4 0 0 45

भीनमाल नगर पालिका 14 18 8 0 0 40

जालौर नगर परिषद 14 18 8 0 0 40

बिसाऊ नगर पालिका 17 5 3 0 0 25

झुंझुनूं नगर परिषद 34 10 16 0 0 60

पिलानी नगर पालिका 2 3 30 0 0 35

फलौदी नगर पालिका 27 9 4 0 0 40

कैथून नगर पालिका 18 6 1 0 0 25

सांगोद नगर पालिका 16 7 2 0 0 25

डीडवाणा नगर पालिका 25 5 10 0 0 40

मकराना नगर परिषद 35 3 17 0 0 55

पाली नगर परिषद 22 29 14 0 0 65

सुमेरपुर नगर पालिका 9 18 8 0 0 35

नीमकाथाना नगर पालिका 19 12 4 0 0 35

सीकर नगर परिषद 36 18 10 0 1 65

माउंट आबू नगर पालिका 18 6 1 0 0 25

पिंडवाड़ा नगर पालिका 8 13 4 0 0 25

शिवगंज नगर पालिका 15 13 7 0 0 35

सिरोही नगर परिषद 22 9 4 0 0 35

आमेट नगर पालिका 17 8 0 0 0 25

नाथद्वारा नगर पालिका 29 10 1 0 0 40

टोंक नगर परिषद 27 23 10 0 0 60

कानौड नगर पालिका 7 7 6 0 0 20

उदयपुर नगर पालिका 20 44 5 0 1 70

प्रतापपुर गांधीनगर पालिका 10 11 4 0 0 25

रूपवास नगर पालिका 6 6 13 0 0 25

महुआ नगर पालिका 8 4 13 0 0 25

खाटूश्याम जी नगर पालिका 3 11 6 0 0 20

भाजपा की स्पष्ट बहुमत वाले निकाय

खाटू श्यामजी, पुष्कर, बालोतरा, पिण्डवाडा, उदयपुर और सुमेरपुर

जहां भाजपा को बढत हासिल है

पाली, बीकानेर अलवर, ब्यावर, नसीराबाद, पाली, जालौर, भीनमाल, प्रतापुर गढी

कांग्रेस के स्पष्ट बहुमत वाले निकाय

संगोद, कैथून, नाथद्वारा, निम्बाहेडा, चित्तौडगढ, रावतभाटा, बांसवाडा, माउंट आाबू, सिरोही, बाडमेर, फलौदी, मकराना, डीडवाना, नीमकाथाना, सीकर, बिसाउ, झुझुनूं, चूरू हनुमानगढ

ज्हां कांग्रेस भाजपा से आगे है

सूरतगढ, राजगढ, भिवाडी, टोंक, जैसलमेर, मंगरोल, छबडा, शिवगंज,थानागाजी

जहां निर्दलियो ने बाजी मारी

भरतपुर, पिलानी, रूपपवास, महुआ, कनोड

सीएम अशोक गहलोत बोले, हम लोग काम करने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे

इस बीच, राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने ट्वीट में लिखा है कि उम्मीद और अपेक्षा के अनुकूल ही निकाय चुनाव में परिणाम आते दिख रहे हैं। यह बहुत प्रसन्नता की बात है कि सरकार जिस रूप में परफॉर्म कर रही है उसी रूप में जनता ने मैंडेट दिया है। मैं जनता को कहना चाहूंगा कि आप निश्चिंत रहें, हम लोग काम करने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे।

गहलोत के मुताबिक, आज आए निकाय चुनाव के नतीजे सुखद हैं। जिला परिषद उपचुनाव, पंचायती राज उपचुनाव एवं विधानसभा (मण्डावा, खींवसर) उपचुनाव के बाद निकाय चुनाव में भी प्रदेश की जनता ने हमारी सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं और विकास कार्यों को अपना समर्थन देकर संवेदनशील, जवाबदेह एवं पारदर्शी शासन और गुड गवर्नेंस देने की हमारी प्रतिबद्धता को और मजबूत किया है।

मैं सभी मतदाताओं का आभार प्रकट करता हूँ और कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता, पदाधिकारी व विजयी उम्मीदवारों को बधाई देता हूं।

यह भी पढ़ेंः राजस्थान निकाय चुनाव में कांग्रेस को बढ़त

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.