Dubai World Expo: ‘दुबई वर्ल्ड एक्सपो’ में भाग लेगा राजस्थान, निवेश के लिए अनुकूल माहौल को गहलोत सरकार सक्रिय

Dubai World Expo दुबई वर्ल्ड एक्सपो के दौरान राजस्थान सरकार भारतीय पवेलियन में स्टाल रिटेल शाप मीटिंग रूम एम्फीथिएटर मल्टीपरपज हाल आदि बुक करेगी जिनमें बिजनेस सेमिनार बी2बी तथा राउंड टेबल बैठकों और बिजनेस एग्जीबिशन का आयोजन किया जाएगा।

Sachin Kumar MishraThu, 09 Sep 2021 05:01 PM (IST)
राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत। फाइल फोटो

नई दिल्ली/जयपुर। राजस्थान सरकार प्रदेश में निवेश के लिए अनुकूल माहौल का प्रचार-प्रसार कर निवेशकों को राजस्थान में आमंत्रित करने के लिए लगातार सक्रिय है। इस क्रम में सरकार भारतीय वाणिज्य व उद्योग परिसंघ (फिक्की) की ओर से 12 से 18 नवंबर, 2021 को दुबई में आयोजित होने वाले अंतरराष्ट्रीय उद्योग सम्मेलन ‘दुबई वर्ल्ड एक्सपो’ में भाग लेगी, ताकि अंतरराष्ट्रीय निवेशकों को प्रदेश में उद्योग स्थापित करने के लिए आकर्षित किया जा सके। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दुबई वर्ल्ड एक्सपो में राजस्थान की ब्रांडिंग से जुड़ी विभिन्न गतिविधियों के लिए पांच करोड़ रुपये के अतिरिक्त प्रावधान के प्रस्ताव को स्वीकृति दी है। सम्मेलन के दौरान उद्योग विभाग के रीको, ब्यूरो आफ इन्वेस्टमेंट प्रमोशन (बीआइपी) तथा पर्यटन विभाग आदि के अधिकारी देश-विदेश के उद्यमियों और निवेशकों के साथ प्रदेश में विभिन्न सेक्टर में निवेश की संभावनाओं पर चर्चा करेंगे।

राजस्थान सरकार दुबई वर्ल्ड एक्सपो के दौरान भारतीय पवेलियन में स्टाल, रिटेल शाप, मीटिंग रूम, एम्फीथिएटर, मल्टीपरपज हाल आदि बुक करेगी, जिनमें बिजनेस सेमिनार, बी2बी तथा राउंड टेबल बैठकों और बिजनेस एग्जीबिशन का आयोजन किया जाएगा। साथ ही, क्षेत्रीय सिनेमा की शोकेसिंग, सांस्कृतिक कार्यक्रम और फूड फेस्टिवल आदि के माध्यम से उद्यमियों तथा व्यवसायियों को राज्य की अद्वितीय परंपराओं व कला-संस्कृति से रूबरू करवाया जाएगा। गहलोत के इस निर्णय से अंतरराष्ट्रीय निवेशकों के बीच प्रदेश की बेहतर ब्रांडिंग की जा सकेगी तथा उन्हें राजस्थान में निवेश के लिए प्रोत्साहित और आमंत्रित किया जा सकेगा।

गौरतलब है कि इससे पहले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा था कि प्रदेश में निवेश में आ रही अड़चनों को दूर कर नए प्रोजेक्ट्स समयबद्ध तरीके से शुरू हों यह सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि पिछले दो साल में राज्य सरकार ने प्रदेश में निवेश बढ़ाने के लिए कई महत्वपूर्ण नीतियां व कार्यक्रम लागू किए हैं। राजस्थान निवेश प्रोत्साहन योजना (रिप्स-2019), राजस्थान इंडस्टि्रयल डवलपमेंट पालिसी- 2019, वन स्टॉप शॉप प्रणाली एवं सिंगल विंडो सिस्टम के माध्यम से उद्यमियों एवं निवेशकों को कई तरह की सुविधाएं दी जा रही हैं। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्रदेश में निवेश बढ़ाने के लिए हरसंभव प्रयास किए जाएं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.