राजस्थान: प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण में राजसमंद देश में पहले स्थान पर

राजस्थान: प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण में राजसमंद देश में पहले स्थान पर

राजस्थान के राजसमंद जिले को प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण में श्रेष्ठ प्रदर्शन करने पर देश में पहला स्थान मिला है । राजसमंद जिले में पिछले तीन सालों में 10289 आवासों के लक्ष्य के मुकाबले 10 हजार 79 आवासों का निर्माण कार्य हुआ है ।

Pooja SinghThu, 17 Dec 2020 04:31 PM (IST)

जयपुर, ब्यूरो। राजस्थान के राजसमंद जिले को प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण में श्रेष्ठ प्रदर्शन करने पर देश में पहला स्थान मिला है । राजसमंद जिले में पिछले तीन सालों में 10,289 आवासों के लक्ष्य के मुकाबले 10 हजार 79 आवासों का निर्माण कार्य हुआ है । इस योजना के तहत राजसमंद जिले ने 98.7 फीसदी लक्ष्य हासिल किया है । देश में यह सबसे अधिक है ।

प्रदेश के ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव रोहित कुमार सिंह ने बताया कि केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के क्रियान्वयन की जिलेवार रैंकिंग जारी की जाती है । योजना के तहत 16 दिसंबर को जिलेवार कार्य निष्पादन रिपोर्ट के आधार पर राजसमंद जिले को रेंकिंग में पहला स्थान मिला है ।

प्रदेश स्तर पर राजसमंद पिछले पांच साल से पहले स्थान पर आ रहा है । उन्होंने बताया कि राजसमंद जिले को यह रैंकिंग कारीगरों को 45 दिन के प्रशिक्षण,प्रशिक्षित कारीगरों द्वारा 62 आवासों को काफी कम समय में पूरा करने,पंचायत समिति द्वारा आवास सॉफ्टवेयर पर ग्राम सभा की ओर से अनुमोदित प्राथमिकता सूची अपलापेड़ करने,पात्र परिवारों की वरीयता सूची,आधार सिडिंग,कार्य स्वीकृति,किस्तों का भुगतान और काम पूरा करने के बिंदुओं प्राप्त करने के कारण संभव हुआ है। प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत देश के प्रथम 100 जिलों की सूची बनाई गई है ।इनमें राजस्थान के 14 जिले शामिल हैं ।

बूंदी,दौसा,सवाईमाधोपुर,डूंगरपुर,पाली,भीलवाड़ा,हनुमानगढ़,नागौर,श्रीगंगानगर,प्रतापगढ़,बांसवाड़ा,उदयपुर व जालौर जिले शामिल है । प्रदेश में प्रथम चरण में स्वीकृत 6.87 लाख आवासों में से 6.70 लाख आवासों का निर्माण हो चुका है ।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.