Rajasthan Congress: पायलट समर्थक विधायक ने कहा, मुझे हैनीट्रैप में फंसा सकते हैं राजनीतिक विरोधी

राजस्थान कांग्रेस में नेताओं का आपसी विवाद खत्म होने के स्थान पर बढ़ता जा रहा है। पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट के विश्वस्त विधायक वेदप्रकाश सोलंकी ने विरोधियों पर खुद को हैनीट्रैप में फंसाने की साजिश का आरोप लगाया है।

Vijay KumarTue, 14 Sep 2021 09:47 PM (IST)
राजस्थान कांग्रेस में नेताओं का आपसी विवाद, पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट

जागरण संवाददाता, जयपुर! राजस्थान कांग्रेस में नेताओं का आपसी विवाद खत्म होने के स्थान पर बढ़ता जा रहा है। पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट के विश्वस्त विधायक वेदप्रकाश सोलंकी ने विरोधियों पर खुद को हैनीट्रैप में फंसाने की साजिश का आरोप लगाया है। सोलंकी ने कांग्रेस में ही अपने राजनीतिक विरोधियों पर निशाना साधते हुए कहा कि मेरे पीछे ब्लैकमेल करने वाली महिलाओं को लगा दिया है।

सालंकी ने कहा, जो महिलाएं ब्लैकमेल कर रही है, उन्होंने मुझे कई बार वीडियो कॉल किए हैं। मेरी आवाज दबाने के लिए कुछ भी कर सकते हैं। इस संबंध में मैं काफी पहले बजरंग नगर पुलिस थाने में रिपोर्ट दर्ज करा चुका, लेकिन इस संबंध में कोई कार्रवाई नहीं हुई। पुलिस आयुक्त को भी अवगत कराया गया, लेकिन उन्होंने कोई ध्यान नहीं दिया। उन्होंने कहा कि हैनीट्रैप में फंसाकर मेरी आवाज को दबाने का षडयंत्र किया जा रहा है ।लेकिन मैं न तो पहले दबाव में आया और न ही आगे किसी के दबाव में आऊंगा। सोलंकी ने किसी का नाम नहीं लिया, लेकिन उनका इशारा विरोधी खेमे की तरफ था ।

पार्टी के प्रभारी को घेरा

जयपुर जिला प्रमुख चुनाव में खुद के दो समर्थक जिला परिषद सदस्यों के भाजपा के खेमे में जाने और उनके कारण भाजपा का बोर्ड बनने के आरोपों से घिरे सोलंकी ने प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष व जयपुर के प्रभारी गोविंद मेघवाल को घेरा है। उन्होंने कहा कि मेघवाल ने मुझ पर क्रास वोटिंग कराने का गलत आरोप लगाया है।

उन्होंने जल्दबाजी में दिल्ली रिपोर्ट भेजी है।

उन्होंने कहा कि मेघवाल को कांग्रेस के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है । वह खुद बहुजन समाज पार्टी और भाजपा जैसी पार्टियों में घूमकर आए हैं। वह मुझसे पार्टी के प्रति निष्ठा का प्रमाण पत्र मांग रहे हैं। उन्होंने कहा कि मेरे राजनीतिक विरोधियों से मेघवाल मिले हुए हैं। उल्लेखनीय है कि पायलट और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बीच चल रही खींचतान में सोलंकी ने खुलकर मोर्चा संभाल रखा है। सोलंकी पायलट के पक्ष में लगातार बयानबाजी करते रहे हैं। वह सरकार के मंत्रियों पर भी कई तरह के आरोप लगा चुके हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.