Gangster Lawrence Bishnoi: बिल्डर से फिरौती मांगने के मामले में तिहाड़ जेल से जयपुर लाया गया गैंगस्टर लारेंस बिश्नोई

Gangster Lawrence Bishnoi राजस्थान में जयपुर के बिल्डर निश्चल भंडारी से एक करोड़ रुपये की फिरौती मांगने के मामले में गैंगस्टर लारेंस बिश्नोई को दिल्ली की तिहाड़ जेल से जयपुर लाया गया है। यहां पुलिस उससे पूछताछ करेगी।

Sachin Kumar MishraSat, 25 Sep 2021 09:20 PM (IST)
बिल्डर से फिरौती मांगने के मामले में तिहाड़ जेल से जयपुर लाया गया गैंगस्टर लारेंस बिश्नोई। फाइल फोटो

जागरण संवाददाता, जयपुर, गैंगस्टर लारेंस बिश्नोई को जयपुर पुलिस ने दिल्ली की तिहाड़ जेल से प्रोडक्शन वारंट पर गिरफ्तार किया है। उसे 50 स्पेशल कमांडे की टीम जयपुर लेकर पहुंची। दो दिन पहले ही लारेंस के खास सहयोगी संपत नेहरा को दिल्ली की मंडोली जेल से पुलिस जयपुर लेकर आई थी। दोनों पर जयपुर के एक बिल्डर से वाट्सएप काल पर एक करोड़ रुपये की फिरौती मांगने का आरोप है। पुलिस इस मामले में दोनों से पूछताछ करेगी। लारेंस को जयपुर में गांधी नगर पुलिस थाने की स्पेशल सेल में रखा गया है। उल्लेखनीय है कि बिल्डर निश्चल भंडारी के पास सात सितंबर को वाट्सएप काल आया था। काल करने वाले ने खुद को लारेंस बताते हुए कहा था कि मुझे एक करोड़ रुपये दो, तुम्हें समय दे रहा हूं, जल्दी पैसों की व्यवस्था कर लो।

धमकी मिलने पर बिल्डर ने दर्ज कराई रिपोर्ट

उसने कहा कि पुलिस के पास जाने की गलती नहीं करना, नहीं तो मैं रुपये नहीं कुछ और ही लूंगा। मेरे शूटर हर जगह घूमते हैं। दो दिन बाद नौ सितंबर को फिर वाट्सएप काल आया तो भंडारी ने भय के कारण बात नहीं की। इसके बाद फिर 10 सितंबर को काल आया तो उन्होंने बात कर ली। काल पर मिली धमकी से परेशान भंडारी ने जवाहर नगर पुलिस थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। जांच में सामने आया कि काल नेहरा ने दिल्ली की मंडोली जेल से की थी। जांच में पुलिस को पता चला कि नेहरा ने लारेंस के लिए काल की थी। यह पैसा वह लारेंस को देने वाला था। अब दोनों से जयपुर में आमने-सामने बिठाकर पूछताछ की जाएगी। 

लारेंस बिश्नोई इस तरह बना गैंगस्टर

लारेंस बिश्नोई 2010 में राजनीतिक विज्ञान की परीक्षा में नकल करते हुए पकड़ा गया था। हालांकि वह पहली मंजिल से कूदकर फरार हो गया था। यह लारेंस का पहला अपराध था। इसके बाद उसने घातक अपराध की दुनिया में कदम रखा और एक के बाद एक बड़ी वारदात को अंजाम देता चला गया। पंजाब के अबोहर जिले में समृद्ध किसान परिवार में जन्में लारेंस को नाम कमाने का जुनून सवार है, भले ही बुरे काम करके नाम बने। लारेंस खुद की राबिन हुड छवि बनाने के लिए कुछ भी कर गुजरने को तैयार है। ऐसा अलग-अलग राज्यों की पुलिस द्वारा की गई पूछताछ में सामने आया है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.