Rajasthan: कर्नल श्याम सिंह भाटी का निधन, गजेंद्र सिंह शेखावत ने जताया शोक

कर्नल श्याम सिंह भाटी का निधन, गजेंद्र सिंह शेखावत ने जताय शोक। फाइल फोटो

Rajasthan र्नल श्याम सिंह भाटी का गुरुवार रात्रि को निधन हो गया। उनका अंतिम संस्कार शुक्रवार को पूर्ण सैन्य सम्मान के साथ जोधपुर में हुआ। उनके पुत्र विक्रम सिंह ने मुखाग्नि दी। केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने उनके निधन पर शोक जताया है।

Sachin Kumar MishraFri, 26 Feb 2021 06:23 PM (IST)

जोधपुर, संवाद सूत्र। Rajasthan: भारत और पाकिस्तान के बीच 1971 में हुए युद्ध के हीरो कर्नल श्याम सिंह भाटी का गुरुवार रात्रि को निधन हो गया। उनका अंतिम संस्कार शुक्रवार को पूर्ण सैन्य सम्मान के साथ जोधपुर में हुआ। उनके पुत्र विक्रम सिंह ने मुखाग्नि दी। केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने उनके निधन पर शोक जताया है। कर्नल श्याम सिंह को 1971 के वार हीरो होने के कारण सैन्य सम्मान व आठ राजपूताना राइफल्स द्वारा कैप्टन तरूण उपाध्याय के नेतृत्व में लास्ट सलामी व गन सैल्यूट सम्मान दिया गया। वे अस्सी वर्ष के थे। वार हीरो के निधन पर केंद्रीय मंत्री शेखावत समेत अन्य जनप्रतिनिधियों ने श्रद्धांजलि अर्पित की है। कर्नल भाटी के निधन पर श्रदांजलि देते हुए शेखावत ने कहा कि उनकी वीरता की गाथा उन्हें सदा हमारे बीच जीवित रखेंगी।

1971 की मैनामती की प्रसिद्ध लड़ाई के हीरो कर्नल श्याम सिंह भाटी का गुरुवार देर रात निधन हो गया। जोधपुर के तापू गांव में साल 1941 में उनका जन्म हुआ था। उनके पिता ठाकुर खेत सिंह भाटी जोधपुर रियासत की सरदार इन्फैंट्री में अफसर थे। उन्होंने दूसरे विश्व युद्ध में हिस्सा लिया था। मेजर जनरल शेर सिंह ने बताया कि भारत-पाकिस्तान के बीच 1971 में हुए भारत-पाक युद्ध में कर्नल भाटी मैनामति की प्रसिद्ध लड़ाई के हीरो थे। उस दौरान मैनामति की लड़ाई बहुत महत्वपूर्ण मानी गई थी। नौ दिसंबर, 1971 की रात बांग्लादेश में मैनामति की लड़ाई में राजपूताना राइफल्स की टुकड़ी ने मेजर श्याम सिंह भाटी के नेतृत्व में महत्वूपर्ण कब्जा जमा लिया था।

कर्नल श्याम सिंह भाटी ओसियां तहसील के तापू गांव से संबद्ध रखते थे। कर्नल की पार्थिक देह 10 पैरा के सैन्य वाहन में ले जाया गया। सेना के 10 पैरा द्वारा गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। 10 पैरा के मेजर निक्टन उपस्थित थे। स्वर्गाश्रम में जस्टिस एनएन माथुर, मेजर जनरल शेर सिंह , मेजर जनरल दलबीर सिंह, ब्रिगेडियर फतेह सिंह, पूर्व कुलपति डॉ. गुलाब सिंह चौहान, जिला सैनिक कल्याण अधिकारी कर्नल एसएस राठौड, एक्स सर्विसमैन लीग अध्यक्ष कर्नल लक्ष्मण सिंह राठौड़, कर्नल उम्मेद सिंह गुणावटी, कर्नल सिद्धार्थ सिंह, कर्नल एसएस राठौड़, कर्नल गिरेन्द्र सिंह, कर्नल नरपत सिंह, सेंट्रल स्कूल स्कीम कॉलोनी विकास समिति के अध्यक्ष शंकर सिंह मेड़तिया उपस्थित रहे।

कर्नल श्याम सिंह भाटी का निधन देश के अपूर्णीय क्षतिः गजेंद्र सिंह शेखावत

केंद्रीय जल शक्ति मंत्री व जोधपुर के सांसद गजेंद्र सिंह शेखावत ने मां भारती के सपूत, मरुधरा के अजेय योद्धा कर्नल श्याम सिंह भाटी के निधन पर गहरा शोक किया और कहा कि कर्नल भाटी अब हमारे बीच नहीं रहे, किंतु उनकी वीरता की गाथा उन्हें सदा हमारे बीच जीवित रखेंगी। शेखावत ने कहा कि इन्होंने 1971 के युद्ध में पाकिस्तान की टैंक ब्रिगेड से घिर जाने के बावजूद पोस्ट नहीं छोड़ी थी। ऐसे नायकों के बारे में जानकर गर्व से मस्तक ऊंचा हो जाता है कि वे हमारी धरती में जन्मे। शेखावत ने जोधपुर के पूर्व महापौर शिवलाल टाक के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है।शेखावत ने कहा कि पूर्व महापौर टाक का निधन जोधपुर के लिए अपूर्णीय क्षति है। जोधपुर के विकास में शिवलाल जी का महत्वपूर्ण योगदान रहा है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.