प्रदेश कांग्रेस सरकार के खिलाफ 10 दिसंबर को कलेक्ट्रेट पर जन आक्रोश रैली में ज्‍यादा संख्‍या में भाग लेने का आह्वान

कांग्रेस ही महंगाई के खिलाफ 12 दिसंबर को जयपुर में रैली करने जा रही है। पेट्रोल.डीजल पर वैट जितना कम करना चाहिए था उतना नहीं किया। महिलाओं पर अत्याचार व अपराध में प्रदेश का ग्राफ ज्यादा है। बूथ अध्यक्षों बूथ प्रभारियों व शक्ति केंद्र प्रभारियों को सक्रिय भूमिका निभानी होगी।

Vijay KumarWed, 08 Dec 2021 12:36 AM (IST)
ना तो रोजगार दिया और ना बेरोजगारी भत्ता दिया। बूथों की 21 सदस्यीय कार्यसमिति जल्द बनानी चाहिए : किशनगोपाल दरगड़

 जासं, अजमेर। पूर्व शिक्षा मंत्री व अजमेर उत्तर विधानसभा क्षेत्र के विधायक वासुदेव देवनानी ने कहा है कि पार्टी के कार्यकर्ताओं को कांग्रेस सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए अभी से तैयारी करनी होगी। यह तभी संभव है, जब हम जनता के बीच जाएंगे और जनता को भाजपा से जोड़ेंगे। उन्होंने कांग्रेस सरकार की विफलताओं के खिलाफ 10 दिसंबर को कलेक्ट्रेट पर होने वाले जन आक्रोश रैली कार्यक्रम में ज्यादा से ज्यादा संख्या में भाग लेने का आह्वान किया। देवनानी मंगलवार को रामनगर स्थित संत कुटीर में शहर भाजपा दाहरसेन मंडल की कार्यसमिति की बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि अशोक गहलोत सरकार केवल अपना शासन बचाने में लगी हुई है। 

कांग्रेस ही महंगाई के खिलाफ 12 दिसंबर को जयपुर में रैली करने जा रही है

पिछले तीन साल में कांग्रेस सरकार की एक भी उपलब्धि नहीं रही है। कांग्रेस के कुशासन में महंगाई आसमान छू गई है। यह बड़ी हास्यास्पद बात है कि कांग्रेस ही महंगाई के खिलाफ 12 दिसंबर को जयपुर में रैली करने जा रही है। जबकि असल में महंगाई की जनक कांग्रेस ही है। उसकी रैली से यह जाहिर होता है कि वह अपने खिलाफ ही रैली कर रही है। इससे पहले मंडल अध्यक्ष व पार्षद दीपेंद्र लालवानी ने स्वागत भाषण करते हुए कार्यक्रम में रूपरेखा पेश की। संचालन मंडल के महामंत्री सत्येंद्र कुमार शर्मा ने किया।

महंगाई-पेट्रोल.डीजल पर वैट जितना कम करना चाहिए था, उतना नहीं किया

उन्होंने कहा कि पेट्रोल.डीजल पर वैट जितना कम करना चाहिए था, उतना नहीं किया। यहीं कारण है कि देश के अन्य राज्यों के मुकाबले राजस्थान में पेट्रोल-डीजल बहुत ज्यादा महंगा है और इसी कारण प्रदेश में महंगाई तेजी से बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि राज्य की कांग्रेस सरकार ने तीन साल में एक भी जनहित का कार्य नहीं किया है और केवल अपना शासन बचाने में ही मशगूल रही है। 10 दिसंबर को भाजपा के प्रदर्शन में बड़ी संख्या में भाग लेकर कांग्रेस सरकार को जड़ से उखाड़ फेंकने की शुरूआत करनी है।

महिलाओं पर होने वाले अत्याचार और अपराध में प्रदेश का ग्राफ बहुत ज्यादा है

देवनानी ने कहा कि राज्य में महिलाओं पर अत्याचार और अपराध में तेजी से बढ़ोतरी हुई है। महिलाओं पर होने वाले अत्याचार और अपराध में प्रदेश का ग्राफ अन्य राज्यों के मुकाबले बहुत ज्यादा है। महिलाएं असुरक्षित महसूस कर रही हैं। ऐसा लगता ही नहीं है कि राजस्थान में सरकार नाम की कोई चीज है।

सरकार ने ना तो बेरोजगारों को रोजगार दिया और ना ही बेरोजगारी भत्ता दिया है

इसी प्रकार कांग्रेस सरकार ने बेरोजगारों के साथ विश्वासघात किया है। सरकार ने ना तो बेरोजगारों को रोजगार दिया और ना ही बेरोजगारी भत्ता दिया है। इससे बेरोजगार अपने आपको ठगा.सा महसूस कर रहे हैं। देवनानी ने पार्टी कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि वे 10 दिसंबर को होने वाले प्रदर्शन में बड़ी संख्या में ना केवल खुद भाग लें, बल्कि अपने साथ ज्यादा से ज्यादा संख्या में लोगों को भी लेकर आएं।

बूथ अध्यक्षों, बूथ प्रभारियों व शक्ति केंद्र प्रभारियों को सक्रिय भूमिका निभानी होगी

इस आंदोलन को सफल बनाने की रणनीति अभी से बनानी होगी। इसके लिए मंडल के सभी पदाधिकारियों के अलावा बूथ अध्यक्षों, बूथ प्रभारियों और शक्ति केंद्र प्रभारियों को भी पूरी तरह सक्रिय भूमिका निभानी होगी।

बूथों की 21 सदस्यीय कार्यसमिति जल्द बनाई जानी चाहिए : किशनगोपाल दरगड़

शहर भाजपा के उपाध्यक्ष व दाहरसेन मंडल के प्रभारी किशनगोपाल दरगड़ ने कहा कि संगठन को सशक्त बनाने के लिए बूथ इकाइयों को मजबूत बनाना होगा। उन्होंने कहा कि बूथों की 21 सदस्यीय कार्यसमिति जल्द से जल्द बनाई जानी चाहिए। भाजपा ही एक ऐसी पार्टी है, जिसमें बूथ अध्यक्ष से लेकर राष्ट्रीय अध्यक्ष तक निर्वाचित होते हैं। इस मौके पर नगर निकाय के प्रदेश संयोजक व पूर्व मेयर धर्मेन्द्र गहलोत, शहर भाजपा महामंत्री व पार्षद रमेश सोनी, जिला उपाध्यक्ष जयकिशन पारवानी, राजकुमार ललवानी, पार्षद वीरेंद्र वालिया, ज्ञान सारस्वत, प्रतिभा पाराशर, मनोज मामनानी, विक्रमसिंह राठौड़, विकास जैन, अरविंद पाराशर, श्वेता शर्मा, अनुराधा पारीक, विकास लालवानी, महेंद्र सिंह बोरोज, सुल्तानसिंह, सुलोचना शुक्ला, सुधा शुक्ला, आशाष शर्मा, कैलाशचंद तिवारी, कन्हैयालाल जोशी आदि मौजूद रहे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.