Reet Exam: रीट परीक्षा से पहले नकल और पेपर आउट कराने वाले दो दर्जन गिरफ्तार, इन जिलों में बंद रहेगा इंटरनेट

Reet Exam राजस्थान में रीट परीक्षा में नकल और पेपर आउट कराने के साथ ही मूल अभ्यर्थियों के स्थान पर डमी परीक्षार्थी बिठाने के आरोप में पुलिस ने राज्य के विभिन्न जिलों से अब तक दो दर्जन लोगों को गिरफ्तार किया है।

Sachin Kumar MishraSat, 25 Sep 2021 06:07 PM (IST)
रीट परीक्षा से पहले नकल और पेपर आउट कराने वाले दो दर्जन गिरफ्तार। फाइल फोटो

जागरण संवाददाता, जयपुर। राजस्थान शिक्षक पात्रता परीक्षा (रीट) में नकल और पेपर आउट कराने के साथ ही मूल अभ्यर्थियों के स्थान पर डमी परीक्षार्थी बिठाने के आरोप में पुलिस ने राज्य के विभिन्न जिलों से अब तक दो दर्जन लोगों को गिरफ्तार किया है। शिक्षकों के 31 हजार पदों की भर्ती के लिए रविवार को दो पारी में होने वाली परीक्षा में 16 लाख से अधिक अभ्यर्थी शामिल होंगे। परीक्षा के दो दिन पहले से जिस तरह नकल और पेपर आउट कराने वाले गिरोह का खुलासा हो रहा है, उसको देखते हुए सरकार ने राज्य के 12 जिलों में 12 घंटे के लिए इंटरनेट बंद करने का फैसला लिया है। परीक्षा केंद्रों पर शनिवार शाम से ही पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

परीक्षा केंद्र के प्रभारी या अन्य किसी कर्मचारी को मोबाइल फोन का उपयोग नहीं करने दिया जाएगा। परीक्षा केंद्रों की वीडियो रिकार्डिंग होगी। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि जिस जिले में फर्जीवाड़ा सामने आएगा, वहां जिला कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक की जिम्मेदारी तय की जाएगी। सरकार ने सरकारी और निजी बसों के साथ ही जयपुर मेट्रो में परीक्षा देने वाले अभ्यर्थियों व उनके परिजनों के लिए यात्रा नि:शुल्क करने की घोषणा की है। सामाजिक और धार्मिक संस्थाओं के सहयोग से अभ्यर्थियों के रहने और भोजन का नि:शुल्क प्रबंध किया गया है ।

इन जिलों में बंद रहेगा इंटरनेट

सरकार ने जिला कलेक्टरों को इंटरनेट बंद करने का फैसला लेने का अधिकार दिया है। इसके तहत उदयपुर, सीकर, झुंझुनूं, दौसा, अलवर, चूरू, सवाईमाधोपुर, जयपुर ग्रामीण, बीकानेर, श्रीगंगानगर और हनुमानगढ़ जिलों में रविवार सुबह छह से शाम छह बजे तक इंटरनेट बंद रहेगा। जयपुर में परीक्षा केंद्रों के अतिरिक्त सड़कों पर 10 हजार पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है।

फर्जीवाड़ा करने वालों में शिक्षक और कोचिंग संचालक भी

पुलिस ने शनिवार से ही परीक्षा में फर्जीवाड़ा करने वालों को गिरफ्तारी शुरू कर दी है। एसओजी की सूचना पर डूंगरपुर पुलिस ने सरकारी स्कूल के एक शिक्षक भंवरलाल जाट सहित छह लोगों को गिरफ्तार किया गया है। जाट ने प्रत्येक मूल अभ्यर्थी के बदले डमी परीक्षार्थी परीक्षा में बिठाने के लिए पांच युवकों से तीन-तीन लाख रुपये की रकम ली थी। जाट से हुई पूछताछ के बाद डमी परीक्षार्थियो को गिरफ्तार किया है। बाड़मेर में सरकारी स्कूल के दो शिक्षकों सुरेश और रमेश विश्नोई को गिरफ्तार किया गया है। दोनों शिक्षकों ने पांच मूल अभ्यर्थियों के परिजनों से डमी परीक्षार्थी बिठाने के बदले 12-12 लाख की रकम ली थी। इस तरह बाड़मेर में अब तक कुल सात गिरफ्तारी हुई हैं। जयपुर में पुलिस ने स्कूल व्याख्याता मनोहर लाल को गिरफ्तार किया है। वह रविवार को डमी परीक्षार्थी बनकर परीक्षा देने वाला था। इसके बदले उसने 15 लाख लिए थे। इससे पहले शुक्रवार को दौसा, अलवर और सीकर जिलों में कुल 10 गिरफ्तारियां की गई थीं। अलवर में एक कोचिंग संचालक को पकड़ा गया था।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.