बच्ची को जिंदा रेत में दबाने की आशंका

30 नवंबर की शाम छह बजे से लापता हुई छह वर्षीय मासूम बच्ची के शव का सोमवार को सिविल अस्पताल से तीन मेंबरी डाक्टरी पेनल द्वारा पोस्टमार्टम किया गया।

JagranTue, 07 Dec 2021 03:00 AM (IST)
बच्ची को जिंदा रेत में दबाने की आशंका

धर्मबीर सिंह मल्हार, तरनतारन

30 नवंबर की शाम छह बजे से लापता हुई छह वर्षीय मासूम बच्ची के शव का सोमवार को सिविल अस्पताल से तीन मेंबरी डाक्टरी पेनल द्वारा पोस्टमार्टम किया गया। पोस्टमार्टम की प्रथम रिपोर्ट की मानें तो संभव है कि मासूम को जिदा ही रेत में दबाया गया हो। हालांकि मासूम के साथ दुष्कर्म हुआ या नहीं, इस बाबत कोई रिपोर्ट सामने नहीं आई। परिवार ने पुलिस की ढीली कार्रवाई के विरुद्ध गोइंदवाल साहिब के मुख्य बाजार में धरना लगाकर पुलिस प्रशासन विरुद्ध नारेबाजी करते कहा कि सच्चाई सामने आने तक शव का अंतिम संस्कार नहीं किया जाएगा। हालांकि एसएचओ केवल सिंह ने मौके पर पहुंचकर जब उन्हें कहा कि दो दिनों में आरोपित को पकड़ लिया जाएगा तो वे धरने से उठे और बच्ची की अंतिम संस्कार कर दिया। इससे पहले मासूम की आत्मिक शांति के लिए कैंडल भी जलाए गए।

गोइंदवाल साहिब से संबंधित छह वर्षीय बच्ची का रविवार की शाम को गुरुद्वारा साहिब के परिसर स्थित रेत के ढेर से शव बरामद हुआ था। आम आदमी पार्टी के जिला प्रेस सचिव हरप्रीत सिंह धुन्ना ने धरने की अगुआइ करते हुए पुलिस की ढीली कार्यशैली पर सवाल उठाए। हरप्रीत ने कहा कि पुलिस ने यदि गंभीरता से काम लिया होता तो मासूम अपने परिवार के साथ होती। सोमवार को सब डिवीजन गोइंदवाल साहिब के डीएसपी प्रीतइंद्र सिंह, एसआइ केवल सिंह, ड्यूटी अधिकारी एएसआइ कुलदीप सिंह ने घटनास्थल का निरीक्षण करने के बाद सिविल अस्पताल को पोस्टमार्टम के लिए बोर्ड बनाने का अनुरोध किया। सिविल अस्पताल के एसएमओ डा. स्वर्णजीत धवन ने दैनिक जागरण को बताया कि तीन महिला डाक्टरों पर आधारित बोर्ड बनाया गया। बोर्ड में डा. नीरजलता (बाल रोग विशेषज्ञ), डा. अबादलप्रीत कौर (गायनी विशेषज्ञ) और डा. अलीशा कुमारी (ईएमओ) ने शाम पांच बजे मासूम के शव का पोस्टमार्टम करके परिवार को सौंप दिया। आज आएगी पोस्टमार्टम की प्राथमिक रिपोर्ट

सूत्रों अनुसार, मेडिकल रिपोर्ट में ये सामने आया है कि संभव है कि मासूम को जिदा ही रेत में दबाया गया हो, जिसके चलते उसकी दम घुटने से मौत हुई हो। उधर, अस्पताल के एसएमओ डा. स्वर्णजीत धवन कहते हैं कि मंगलवार को पता चलेगा कि पोस्टमार्टम की प्राथमिक रिपोर्ट क्या कहती है। वहीं, मृतका का विसरा खरड़ लैब में भेजा जा रहा है। डा. धवन मुताबिक, बच्ची की नाक और गला रेत से भरा हुआ था। मासूम बच्ची का शव ठीक हालत में नहीं था। ऐसे में दुष्कर्म हुआ है या नहीं अभी पुष्टि करना जल्दबाजी होगा। पोस्टमार्टम की रिपोर्ट का इंतजार : डीएसपी

सब डिवीजन गोइंदवाल साहिब के डीएसपी प्रीतइंद्र सिंह ने कहा कि बच्ची के लापता होने की शिकायत मिलते ही स्थानीय पुलिस ने उसकी तलाश शुरू कर दी थी। चार दिन तक मासूम का कोई सुराग नहीं लगा तो मां की शिकायत पर अज्ञात लोगों के विरुद्ध अपहरण का मामला दर्ज किया गया। पुलिस ने तीन सदस्यीय डाक्टरों की टीम से पोस्टमार्टम करवाया है। रिपोर्ट का अब इंतजार है। पुलिस ने इस मामले में कोई लापरवाही नहीं बरती।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.