डेंगू के संदिग्ध सब इंस्पेक्टर विनोद कुमार की डीएमसी में मौत

पंजाब पुलिस में तैनात सब इंस्पेक्टर विनोद कुमार की लुधियाना के डीएमसी अस्पताल में मंगलवार सुबह मौत हो गई।

JagranTue, 30 Nov 2021 06:39 PM (IST)
डेंगू के संदिग्ध सब इंस्पेक्टर विनोद कुमार की डीएमसी में मौत

जासं, तरनतारन : पंजाब पुलिस में तैनात सब इंस्पेक्टर विनोद कुमार की लुधियाना के डीएमसी अस्पताल में मंगलवार सुबह मौत हो गई। वह ट्रैफिक सेल तरनतारन शहरी के इंचार्ज थे। बताया जा रहा है कि विनोद डेंगू के मरीज थे। हालांकि सेहत विभाग ने इसकी पुष्टि नहीं की है। एक सप्ताह बाद पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद यह स्पष्ट होगा।

गांव कोट धर्म चंद कलां निवासी विनोद कुमार को 16 अगस्त को पंजाब के डीजीपी ने पदोन्नत करके सब इंस्पेक्टर बनाया था। करीब साढ़े चार साल से वह ट्रैफिक सेल में सेवाएं निभा रहे थे। उनको ड्यूटी के दौरान पांच नवंबर को बुखार की शिकायत हुई तो अमृतसर के मेडसिटी अस्पताल में उनको दाखिल करवाया गया। परंतु प्लेटलेट सेल लगातार कम होते गए। बाद में उनको नैयर अस्पताल (अमृतसर ) में ले जाया गया। सेहत में सुधार न होने पर उन्हें सोमवार को लुधियाना के डीएमसी अस्पताल में भर्ती करवाया गया। जिले में अब तक 298 लोग हुए डेंगू पीड़ित

जिले में अब तक 1212 संदिग्ध लोगों के सैंपल लिए गए, जिनमें 298 लोग डेंगू से पीड़ित पाए गए। इनमें 205 तरनतारन शहर, नौ लोग पट्टी शहर के निवासी हैं। वहीं देहाती क्षेत्र के 84 लोग डेंगू पाजिटिव पाए गए हैं। डेंगू के कुल पाजिटिव मामलों में 173 पुरुष और 125 महिलाएं हैं। आतंकियों का किया था मुकाबला, समाज सेवक भी थे

सब इंस्पेक्टर विनोद कुमार के परिवार में पत्नी अंजू शर्मा, दो बेटे केवल शर्मा, नवशीष शर्मा और बेटी रितिका शर्मा (आस्ट्रेलिया में) हैं। पंजाब में आतंकवाद के दौर में (1989 में) पंजाब पुलिस में भर्ती होकर विनोद कुमार ने बहादुरी के साथ आतंकियों का मुकाबला भी किया था। हिदू परिवार से संबंधित विनोद की सिख धर्म में भी काफी श्रद्धा थी। वह हमेशा पगड़ी पहनते थे। प्रत्येक दिन मंदिर और श्री दरबार साहिब में माथा टेकने के मौके दान देने और गुरु घर में सेवा करने के अलावा गरीब और बेसहारा बच्चों को पढ़ाने, बेटियों के विवाह करने में भी वह आर्थिक मदद करते थे। कोविड महामारी दौरान भी सब इंसपेक्टर विनोद कुमार ने अपनी ड्यूटी बेमिसाल तरीके से निभाई थी। इस पर उनको 15 अगस्त को जिला स्तरीय कार्यक्रम के दौरान कैबिनेट मंत्री सुखबिदर सिंह सुख सरकारिया ने उनको सम्मानित किया था। विधायक अग्निहोत्री ने भी जिताया दुख

हलका विधायक डा. धर्मबीर अग्निहोत्री, डिप्टी कमिश्नर कुलवंत सिंह धूरी, एसएसपी हरविदर सिंह विर्क, एसपी (ट्रैफिक) बलजीत सिंह ढिल्लों, डीएसपी सुच्चा सिंह बल्ल, बरजिदर सिंह, तिृप्ता सूद, कांग्रेस नेता संदीप अग्निहोत्री, कश्मीर सिंह सिद्धू ,चेयरमैन हरजिदर सिंह ढिल्लों, जतिदर सूद, शुबेग सिंह धुन्न, अवतार सिंह तनेजा, सोनू दोदे, मनजीत सिंह ढिल्लों, अमन सूद, रितिक अरोड़ा, मनोज अग्निहोत्री ने परिवार के साथ दुख जाहिर किया।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.