नए ही नहीं, पुराने चेहरों पर भी दाव लगाएगी कांग्रेस पार्टी

संदीप अग्निहोत्री जानकारी देतु हुए (फाइल फोटो)
Publish Date:Fri, 30 Oct 2020 05:23 PM (IST) Author:

तरनतारन [धर्मबीर सिंह मल्हार]। नवंबर-दिसंबर माह के मध्य में नगर कौंसिल के चुनाव होने की संभावना है। इसके मद्देनजर सत्ता का फायदा लेते हुए कांग्रेस ने अंदर ही अंदर इन चुनावों की तैयारी कर ली है। शहर की कुल 23 वार्ड हैं। अगर नई वार्डबंदी मंजूर होती है तो संख्या 27 तक पहुंच सकती है। इन वार्डो में कांग्रेस द्वारा पुराने चेहरों के साथ कुछ नए लोगों को भी पार्षद बनने का मौका दिया जा रहा है। कौंसिल के पिछले चुनाव में शिअद और भाजपा आमने-सामने थी। आने वाले चुनाव में भी स्थिति ऐसी बनती है तो कांग्रेस को अधिक लाभ होने की उम्मीद है। हालांकि पिछले चुनाव में शिअद ने 16, भाजपा ने सात सीटों पर जीत दर्ज करवाई थी और कांग्रेस का कहीं भी खाता नहीं खुला था।

इस बार शिअद की सरगर्मी लंबे समय से ठप नजर आ रही है। भाजपा से संबंधित जो पार्षद पिछला चुनाव जीते थे उनमें से कुछ चेहरे हलका विधायक डा. धर्मबीर अग्निहोत्री के खेमे से जुड़ चुके हैं। हालांकि इस खेमे में कुछ पुराने तजुर्बेकार ऐसे भी चेहरे हैं, जो पिछले चुनाव में शिअद की टिकट पर जीतने के बाद कांग्रेस से हाथ मिला चुके हैं। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह द्वारा शहरी क्षेत्र के विकास को दी जा रही तरजीह के बाद हलका विधायक डा. धर्मबीर अग्निहोत्री ने अपने लड़के संदीप अग्निहोत्री की अगुआई में बनाई कमेटी की बैठक इसी सप्ताह ली जा रही है। इसमें शहर की सभी वार्डो से कांग्रेस की टिकट पर मैदान में उतारे जाने वाले चेहरों पर चर्चा होगी। अब होगा दिन रात एक नगर कौंसिल की हद में आने वाली सड़कों की मरम्मत, पीने के पानी के नए ट्यूबवेल, नई कालोनियों में सीवरेज सिस्टम, स्ट्रीट लाइटें, सफाई व्यवस्था के प्रबंधों का जायजा लेने के लिए विधायक डा. धर्मबीर अग्निहोत्री अब दिन-रात एक करते नजर आएंगे।

उनका दावा है कि नगर कौंसिल चुनाव में कांग्रेस को ऐतिहासिक जीत मिलेगी। महिलाओं को भी मिलेगा मौका शहर की कमान संभाल रहे विधायक के लड़के डा. संदीप अग्निहोत्री ने कहा कि साफ-सुथरा प्रशासन, बिना भेदभाव विकास के बदले कांग्रेस पार्टी पूरी तरह से मजबूत है। नगर कौंसिल चुनाव के लिए वर्करों में पूरा उत्साह है। इसी उत्साह के बलबूते नगर कौंसिल के चुनाव लड़े जाने हैं। उन्होंने कहा कि इन चुनावों में महिलाओं के अलावा युवा वर्ग व तजुर्बेकारों को भी मैदान में उतारा जाना है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.