रोशनी के लिए जलाई मोमबत्ती से दिव्यांग परिवार का जला आशियाना

खेमकरण में बिजली गुल होने के कारण घर में रोशनी करने के लिए जलाई मोमबत्ती से दिव्यांग परिवार का आशियाना जल गया।

JagranPublish:Mon, 29 Nov 2021 06:27 PM (IST) Updated:Mon, 29 Nov 2021 06:27 PM (IST)
रोशनी के लिए जलाई मोमबत्ती से दिव्यांग परिवार का जला आशियाना
रोशनी के लिए जलाई मोमबत्ती से दिव्यांग परिवार का जला आशियाना

संवाद सूत्र, खेमकरण : खेमकरण के वार्ड नंबर छह में बिजली गुल होने के कारण घर में रोशनी करने के लिए जलाई मोमबत्ती से दिव्यांग परिवार का आशियाना जल गया। इस हादसे में उनका सारा सामान नष्ट हो गया।

दरअसल, इन दिनों पावरकाम मुलाजिम अपनी मांगों को लेकर हड़ताल पर हैं। ऐसे में जिले में जहां पर फीडर में समस्या आती है तो बिजली गुल हो जाती है। अब उसे ठीक तो पावरकाम मुलाजिम ही कर सकते हैं परंतु हड़ताल के कारण वे काम नहीं कर रहे। राज मसीह ने बताया कि वह और उसकी पत्नी आशा मसीह दोनों दिव्यांग हैं। शनिवार की रात को पत्नी आशा की तबीयत खराब हो गई। उसे वह एंबुलेंस के माध्यम से सुरसिंह के अस्पताल लेकर गया, क्योंकि खेमकरण अस्पताल में डाक्टर नहीं है। इलाके में कहीं फीडर में फाल्ट आने से चार दिन से बिजली सप्लाई ठप थी। बिजली कर्मियों की हड़ताल के कारण वे इसे ठीक नहीं कर रहे। उनके घर का इनवर्टर भी बंद हो चुका था।

शनिवार की रात को उनके बच्चों ने रोशनी के लिए मोमबत्ती जलाई जो अचानक वहां रखे कपड़ों पर गिर गई और देखते ही देखते आग पूरे घर में फैल गई। इससे फ्रिज, एलसीडी, वाशिग मशीन, इनवर्टर, पंखा, बिस्तर, कपड़े की पेटी, रसोई का सामान जल गया। मोहल्ला निवासियों ने मुश्किल से आग पर काबू पाया, पर तब तक सारा सामान नष्ट हो चुका था। पूर्व विधायक विरसा सिंह वल्टोहा, नगर पंचायत के पूर्व अध्यक्ष परमजीत सिंह गिल, बलदेव सिंह मनावा, पार्षद रिकू धवन, हरजीत सिंह बलेर, रणजीत सिंह राणा, तेजिदर सिंह गोरखा, गोल्डी बाजवा ने पीड़ित परिवार के साथ दुख व्यक्त किया। पीड़ित परिवार ने प्रशासन से मुआवजे की मांग की है।