गांव मन्नण में 6.77 करोड़ से बनी आइटीआइ, जिले के युवा तकनीकी कोर्स कर बनेंगे हुनरमंद

मंत्री राणा गुरजीत सिंह ने कहा कि आज की युवा पीढ़ी को तकनीकी शिक्षा से जोड़ना जरूरी हो चुका है।

JagranSat, 04 Dec 2021 08:27 PM (IST)
गांव मन्नण में 6.77 करोड़ से बनी आइटीआइ, जिले के युवा तकनीकी कोर्स कर बनेंगे हुनरमंद

जागरण संवाददाता, तरनतारन : तकनीकी शिक्षा मंत्री राणा गुरजीत सिंह ने पूर्व लोकसभा स्पीकर गुरदयाल सिंह ढिल्लों की याद में गांव पंजवड़ में पांच करोड़ की लागत से डी-फार्मेसी कालेज की स्वीकृति देते हुए कहा कि आज की युवा पीढ़ी को तकनीकी शिक्षा से जोड़ना जरूरी है, क्योंकि तकनीकी शिक्षा से संबंधित क्षेत्र में दूसरे राज्यों के लोग पंजाब में सेवाएं दे रहे हैं और यहां के युवा पढ़ाई के बाद विदेश जा रहे हैं। ऐसे में युवा पीढ़ी को तकनीकी शिक्षा से जोड़ने के लिए सरकार ब्लू प्रिंट तैयार कर रही है।

गांव मन्नण में 6.77 करोड़ की लागत से तैयार आइटीआइ कालेज का उद्घाटन करते हुए तकनीकी शिक्षा मंत्री राणा गुरजीत सिंह ने कहा कि पंजाब की इंडस्ट्री को जरूरत के मुताबिक स्टाफ नहीं मिल रहा। परंतु मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की अगुआई में सरकार द्वारा प्रयास किया जा रहा है कि आने वाले पांच वर्ष में राज्य के युवाओं को तकनीकी शिक्षा से संबंधित डिप्लोमा कोर्स करवाए जाए। हलका विधायक डा. धर्मबीर अग्निहोत्री की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा कि पंजाब की सरकार विकास को जहां समर्पित है, वहीं हलका विधायक को चिता रहती है कि क्षेत्र के युवाओं को अच्छी शिक्षा मिल सके।

उन्होंने कहा कि लोकसभा के पूर्व स्पीकर गुरदयाल सिंह ढिल्लों कांग्रेस के कदवार नेता थे, उनकी याद में गांव पंजवड़ में ढाई एकड़ में जमीन पर डी-फार्मेसी कालेज को मंजूरी दी गई है। बकायदा पंचायत द्वारा जमीन देने का भी प्रस्ताव भी पारित कर दिया गया है। इस अवसर पर विधायक रमनजीत सिंह सिक्की, चेयरमैन हरजिदर सिंह ढिल्लों, शुबेग सिंह धुन्न, डा. संदीप अग्निहोत्री, कश्मीर सिंह सिद्धू, अवतार सिंह तनेजा, राणा डियाल, राणा गंडीविड, रमन झब्बाल, मंजीत सिंह ढिल्लों, लेक्चरर शक्ति शर्मा, सोनू दोदे, संजीव कुंद्रा और मनोज अग्निहोत्री मौजूद थे।

वादा निभाया, आइटीआइ में कुल 220 सीटें: विधायक

विधायक डा. धर्मबीर अग्निहोत्री ने कहा कि हलके के विकास को समर्पित रहकर जिम्मेदारी निभाई जा रही है। गांव मन्नण की पंचायत द्वारा दी गई जमीन पर तैयार आइटीआइ में 3.60 करोड़ की मशीनरी लगाई गई है। आइटीआइ में कुल 220 सीटें है। यहां पर इलेक्ट्रीशन, सोलर टैक्नीशियन, सर्वेर, रेफरीजेशन व एयर कंडीशन के अलावा वेलडर की क्लासें बकायदा शुरू हो चुकी है। उन्होंने बताया कि चुनावों में किए गए वायदे को पूरा करते हुए आइटीआइ का तोहफा क्षेत्र निवासियों को दिया गया है ताकि इलाके की युवा पीढ़ी अपने पैरों पर खड़ी हो सकी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.