सत्ता ने फिर थोपा प्रधान, ट्रक आपरेटरों का विरोध बरकार

सत्ता ने फिर थोपा प्रधान, ट्रक आपरेटरों का विरोध बरकार

द दशमेश ट्रक आपरेटर एसोसिएशन संगरूर की प्रधानगी को लेकर पिछले करीब कई दिन से चल रहे विवाद में वीरवार सुबह उस समय नया मोड़ आ गया जब प्रधान पद के चुनाव से ठीक दो घंटे पहले सत्ताधारी पार्टी कांग्रेस ने कर्मजीत सिंह वालिया नामक व्यक्ति को ट्रक आपरेटर एसोसिएशन का प्रधान एलान कर दिया।

JagranThu, 25 Feb 2021 04:12 PM (IST)

जागरण संवाददाता, संगरूर

द दशमेश ट्रक आपरेटर एसोसिएशन संगरूर की प्रधानगी को लेकर पिछले करीब कई दिन से चल रहे विवाद में वीरवार सुबह उस समय नया मोड़ आ गया, जब प्रधान पद के चुनाव से ठीक दो घंटे पहले सत्ताधारी पार्टी कांग्रेस ने कर्मजीत सिंह वालिया नामक व्यक्ति को ट्रक आपरेटर एसोसिएशन का प्रधान एलान कर दिया। जिला योजना बोर्ड के चेयरमैन राजिदर राजा बीरकलां की मौजूदगी में ट्रक यूनियन में नए प्रधान बनाए जाने की घोषणा की गई व कर्मजीत सिंह को हार पहनाकर ताजपोशी करने उपरांत प्रधान की कुर्सी पर विराजमान कर दिया।

दूसरी तरफ नया प्रधान थोपे जाने का पिछले कई दिनों से विरोध कर रहा ट्रक आपरेटरों का बड़े खेमा इसके विरोध में अड़ा रहा व नए प्रधान को फिर से नामंजूर कर दिया। ट्रक यूनियन को पुलिस छावनी में तबदील कर दिया गया व भारी पुलिस बल तैनात करके किसी को भी ट्रक यूनियन तक पहुंचने नहीं दिया गया व बैरिकेड लगाकर रास्ते बंद करके कुछ ट्रक आपरेटरों की मौजूदगी में नए प्रधान का एलान करके सत्ताधारी पक्ष वापस लौट गया।

विरोधी पक्ष ने इसका विरोध जारी रखा व कर्ममजीत सिंह को प्रधान मानने से साफ इंकार करते हुए चुनाव के लिए गठित की गई पांच सदस्यीय कमेटी को ही एसोसिएशन को चलाने के अधिकार देकर आगे काम करने व अपना संघर्ष जारी रखने का एलान किया।

उल्लेखनीय है कि वीरवार को ट्रक आपरेटर एसोसिएशन के प्रधान का चुनाव रखा गया था। 471 से अधिक ट्रक आपरेटर अपने वोट का इस्तेमाल करके प्रधान का चयन करने वाले थे। मतदान की प्रक्रिया सुबह नौ बजे आरंभ होनी थी, लेकिन इससे पहले ही भारी पुलिस बल ट्रक यूनियन में तैनात कर दिया गया व चारों तरफ बैरिकेड लगा दिए गए। चुनाव मैदान में उतरे प्रत्याशियों व अन्य ट्रक आपरेटरों को यूनियन के समीप भी नहीं भटकने दिया गया। प्रधानगी के लिए गुरमीत सिंह काका, राजिदर सिंह राज भम्माबदी, सुरिदर सिंह छिदी, रविदरपाल सिंह गरचा, हरविदर सिंह लक्की, राजिदर कुमार मैदान में थे। वहीं दो उम्मीदवार पूर्व प्रधान हरजीत सिंह वालिया व रणदीप सिंह मिटू प्रधानगी के नामांकन वापस ले गए थे। इन दोनों उम्मीदवार, एसोसिएशन के पूर्व प्रधान मनजीत सिंह जवंधा, नगर सुधार ट्रस्ट के चेयरमैन नरेश गाबा, मार्केट कमेटी संगरूर के चेयरमैन अनिल कुमार घीचा, राजिदर राजा बीरकलां की मौजूदगी में कर्मजीत सिंह वालिया को प्रधान बना दिया।

चुनाव कमेटी सदस्य जगदीश कुमार बड़रुखां, जगतार सिंह नत्ता, गुरंट सिंह उप्पली, सुखचरणजीत सिंह सोहियां, प्यारा सिंह, प्रधानगी के उम्मीदवार रविदरपाल गरचा ने सत्ताधारी पक्ष द्वारा थोपे गए प्रधान संबंधी कहा कि उन्हें यह प्रधान कतई मंजूर नहीं है। आपरेटरों के बीच से ही किसी को चुनाव या सर्वसम्मति से चुने जाने की मांग रखी गई थी, लेकिन एक बार फिर सत्ताधारियों ने प्रधान थोप दिया, जो उन्हें कतई मंजूर नहीं है। इस धक्केशाही खिलाफ जल्द ही अगले संघर्ष का एलान किया जाएगा। समूह ट्रक आपरेटरों की सहमति के बाद अदालत का दरवाजा खटखटाएंगे। --------------------- चुनाव कमेटी चलाएगी अगला प्रबंध एसोसिएशन के कार्रवाई रजिस्टर पर 300 से अधिक ट्रक आपरेटरों के हस्ताक्षर करवाए गए। हस्ताक्षर करके प्रस्ताव पास किया गया कि 25 फरवरी को रखी एसोसिएशन के प्रधान का चुनाव प्रशासन की धक्केशाही के कारण नहीं हो पाया। इसके मद्देनजर चुनाव के लिए बनाई गई पांच सदस्यीय कमेटी ही एसोसिएशन का अगला सारा प्रबंध चलाएगी। साथ ही एसोसिएशन के प्रधान के सभी अधिकार पांच सदस्यीय चुनाव कमेटी को दिए गए।

----------------------

सर्वसम्मति से किया प्रधान का चयन

जिला योजना बोर्ड के चेयरमैन राजिदर राजा बीरकलां ने कहा कि प्रधान का चयन ट्रक आपरेटरों की सहमति से किया गया है। कर्मजीत सिंह वालिया समूह ट्रक आपरेटरों की उम्मीदों पर खरा उतरेंगे। ट्रक आपरेटरों की हर प्रकार की समस्या को सरकार तक पहुंचाने व हल करवाने में अहम भूमिका निभाई जाएगी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.