पटवारियों ने बंद किया कामकाज, 325 गांव होंगे प्रभावित

अपनी मांगों को लेकर लगातार संघर्ष की राह पर चल रहे पटवारियों ने अब अतिरिक्त सर्किलों का कामकाज ठप करने का एलान कर दिया है।

JagranTue, 22 Jun 2021 06:41 PM (IST)
पटवारियों ने बंद किया कामकाज, 325 गांव होंगे प्रभावित

जागरण टीम, संगरूर

अपनी मांगों को लेकर लगातार संघर्ष की राह पर चल रहे पटवारियों ने अब अतिरिक्त सर्किलों का कामकाज ठप करने का एलान कर दिया है। इसके तहत मंगलवार को दी रेवेन्यू पटवार यूनियन द्वारा विभिन्न ब्लाकों में अतिरिक्त पटवार सर्किलों का कामकाज बंद करने का एलान किया है।

मालेरकोटला में जिला संगरूर व मालेरकोटला के प्रधान दीदार सिंह छोकरा ने बताया कि रेवेन्यू पटवार यूनियन व दी कानूनगो एसोसिएशन पंजाब द्वारा जिला संगरूर व मालेरकोटला के 142 अतिरिक्त सर्किल का काम बंद होने से कुल 325 गांव का काम प्रभावित होगा।

दी रेवेन्यू पटवार यूनियन तहसील संगरूर की बैठक सैंट्रल पटवारखाना संगरूर में तहसील प्रधान संदीप सिंह भुल्लर की अगुवाई में हुई। यूनियन की मुख्य मांगों पर विचार विमर्श किया गया। सात जून से तलवंडी साबो से अतिरिक्त पटवार सर्किलों का काम पंजाब बाडी के आदेश पर बंद किया गया है। अब यूनियन ने प्रस्ताव डालकर तहसील संगरूर के अतिरिक्त पटवार सर्किल मंगवाल, राम नगर सीबिया, अकोई साहिब, घाबदां, गगड़पुर, भिडरा, दुग्गां ए, बहादरपुर, लोंगोवाल, ढडरियां का काम बंद कर दिया है। मूनक सहित 15 अतिरिक्त सर्किलों का काम बंद कर दिया गया है।

दी रेवेन्यू पटवार यूनियन के तहसील मूनक प्रधान सुखजिदर सिंह ने बताया कि सब डिवीजन मूनक में कुल 22 पटवार सर्किल हैं, इनके तहत 48 गांव आते हैं। इन सर्किलों पर केवल सात पटवारी काम करते हैं। काम बंद होने से करीब 33 गांव का काम प्रभावित होगा। जिला खजांची तरसेम सिंह, महासचिव बलराज सिंह, खजांची विपन कुमार, आंचल कुमार, जगसीर सिंह, हरदीप सिंह, बलविदर सिंह, काजल गुप्ता, वनीता मित्तल उपस्थित थे। ------------ यह हैं मांगें वर्ष 2016 में भर्ती 1227 पटवारियों की 18 महीने ट्रेनिग को सेवाकाल में शामिल किया जाए, पटवारियों को टैक्निकल ग्रेड दी जाए, डेटा एंट्री का काम प्राइवेट कंपनी से लेकर पटवारियों/कानूनगों के हवाले किया जाए, उन्हें डेटा साफटवेयर मुहैया करवाए जाएं, दफ्तरी भत्ता 140 से बढ़ाकर 3 हजार रुपये, स्टेशनरी भत्ता 100 रूपये से बढ़ाकर 2 हजार व बसता भत्ता 100 रूपये से बढ़ाकर दो हजार किया जाए आदि।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.