साहित्यकार डा. उड़ारी को भाई हरी सिंह अवार्ड से किया गया सम्मानित

साहित्यकार डा. उड़ारी को भाई हरी सिंह अवार्ड से किया गया सम्मानित

साहित्यकार डा. चरनजीत सिंह उड़ारी को सादे समागम के दौरान भाई हरि सिंह अवार्ड से सम्मानित किया।

Publish Date:Fri, 04 Dec 2020 10:00 PM (IST) Author: Jagran

संवाद सहयोगी, संगरूर : साहित्यकार डा. चरनजीत सिंह उड़ारी को सादे समागम के दौरान भाई हरी सिंह अवार्ड से सम्मानित किया गया है। इस मौके उनके शागिर्द व साहित्यकार मोहन शर्मा ने मंच का संचालन किया। भाई हरी सिंह के बेटे ज्ञानी कर्म सिंह भंडारी, सुखविदर सिंह व पोते गुरप्रीत सिंह लाडी, हरप्रीत सिंह सिद्धू पुलिस कप्तान संगरूर द्वारा नकद राशि व सम्मान चिन्ह भेंट किया गया। समागम में मोहन शर्मा ने बताया कि पेंशनर राज्य नेता राज कुमार अरोड़ा द्वारा उन्हें सुझाव दिया गया था कि यह अवार्ड प्रत्येक वर्ष किसी साहित्यकार व समाज सेवी को मिलना चाहिए। जिसके तहत आज डा. चरनजीत सिंह उडारी की साहित्य के क्षेत्र में किए गए प्रयास को देखते हुए उन्हें अवार्ड से सम्मानित किया गया है।

इस मौके पर विशेष तौर पर पधारे कर्म सिंह जख्मी प्रधान मालवा लिखारी सभा, गुरतेज सिंह गरेवाल एडवोकेट, गगनजीत सिंह सीबिया प्रधान जिला बार एसोसिएशन, महिदरपाल सिंह पाहवा, दसवीर सिंह डल्ली, सौरव गर्ग वरिष्ठ उप प्रधान जिला बार एसोसिएशन, ललित गर्ग, डा. अमनदीप कौर गोसल, डा. सुखचरनजीत सिंह ने उन्हें शुभकामनाएं दी। इस मौके पर समारोह में शामिल हुए साहित्यकारों ने कहा कि साहित्य समाज का आइना होता है, इससे आने वाली पीड़ी को कुछ न कुछ सीख मिलती है, इसलिए लोगों को साहित्य के प्रति रुचि बढ़ानी चाहिए तथा युवाओं को इससे जोड़ने की जरूरत है। इसके प्रोत्साहन के लिए सरकार व संस्थाओं को आगे आना चाहिए।

इस अवसर पर सुखचैन सिंह, जसवीर कौर, तिलक राज सतीजा, गिरधारी लाल, सुरिदर सिंह सोढी, पवन शर्मा, सुखदेव शर्मा, जनकराज शर्मा, नसीब चंद, मूलचंद शर्मा आदि उपस्थित थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.