प्रगतिशील किसान के खेत में मनाया खेत दिवस

प्रगतिशील किसान के खेत में मनाया खेत दिवस
Publish Date:Fri, 30 Oct 2020 04:16 PM (IST) Author: Jagran

जेएनएन, अमरगढ़, संगरूर :

जिले के किसानों को पराली न जलाने हेतु जागरूक करने के लिए गांव बागड़िया के प्रगतिशील किसान जसवंत सिंह के खेत में खेत दिवस आयोजित किया गया। जिसमें डीसी संगरूर रामवीर ने शामिल होते हुए कहा कि पंजाब सरकार की हिदायत पर जिले के समूह एसडीएम की ओर से सब डिवीजन स्तर पर किसानों को कैंप, सेमिनार व खेतीबाड़ी दिवस मनाकर पराली में सुपरसीडर, हैप्पीसीडर, मलचर से गेहूं बोने को जागरूक किया जा रहा है। क्योंकि पराली जलाने से पैदा होने वाला धुंआ जहरीला होता है। इससे सांस, आंखें व गले की बीमारियां जन्म लेती हैं। इन दिनों महामारी का भी थोड़ा असर बाकी है। ऐसे में जो मरीज घर पर शिफ्ट किए गए है। उन्हें यह धुंआ किसी जहर से कम नहीं है। इस मौके डा. जसविदर सिंह गरेवाल मुख्य खेतीबाड़ी अफसर ने बताया कि पराली जलाने से प्रति एकड़ तीस किलो यूरिया, बारह किलो डीएपी व पाटास तत्व नष्ट होते हैं, धरती की उपज शक्ति घटती है। इसलिए पराली जलाने से बचा जाए। खेतीबाड़ी अफसर मालेरकोटला हरिपाल सिंह ने किसानों को गेहूं के बीज का संशोधन व बोने के तरीके के बारे में बताया। किसान हरदीप सिंह द्वारा अपने चार वर्षों से पराली न जलाकर की जा रही खेती के नुक्ते सांझे किए। इस मौके डा. जसमीन सिंह सिद्धू खेतीबाड़ी विकास अफसर मालेरकोटला, डा. कुलदीप कौर खेतीबाड़ी विकास अफसर व इंद्रदीप कौर खेती उप निरीक्षक उपस्थित थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.