सरकार के रडार पर शहर की अवैध कालोनियां, बिलली के खंभे व इंटरलाकिंग टाइलें लगाई जा रहीं

संगरूर में धड़ल्ले से बन रही अवैध कालोनियों की एक शिकायत पर 22 अक्टूबर को की गई थी।

JagranSat, 13 Nov 2021 06:10 AM (IST)
सरकार के रडार पर शहर की अवैध कालोनियां, बिलली के खंभे व इंटरलाकिंग टाइलें लगाई जा रहीं

सचिन धनजस, संगरूर

संगरूर में धड़ल्ले से बन रही अवैध कालोनियों की एक शिकायत पर 22 अक्टूबर को नगर कौंसिल के विजिलेंस विभाग द्वारा की गई छापामारी के बाद पांच कालोनियों व कालोनाइजरों के खिलाफ कार्रवाई के लिए अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर को लिखा गया है। साथ ही पीएपीआर एक्ट 1995 व रेगुलाइजेशन पालिसी 2018 के अनुसार कार्रवाई अमल में लाने के लिए लिखा गया है।

हालांकि, अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर ने कहा कि अभी तक उन्हें इस तरह का कोई पत्र नहीं मिला है, जैसे ही कोई पत्र मिलेगा, तुर्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

गौर हो कि 22 अक्टूबर को नगर कौंसिल के विजिलेंस विभाग ने शहर में अवैध रूप से चल रहे निर्माण समेत शहर में अवैध रूप से बन रही कालोनियों की चेकिंग की थी। जिसके बाद टीम ने अपनी रिपोर्ट डायरेक्टर स्थानीय सरकार को सौंप दी और फिर 10 नवंबर को डायरेक्टर ने एडीसी को पत्र लिखकर पांच कालोनियों का जिक्र किया है, जिसमें एक कालोनी के बारे में कहा गया है कि एक कालोनी को रिवेन्यू रास्ता नहीं लगता, फिर भी कालोनी में कोठियों व कामर्शियल निर्माण चल रहा है। बिजली के खंभे व इंटरलाकिंग टाइलें लगाई जा रहीं

एक अवैध कालोनी में इंटरलाकिग टाइलें लगाकर खंबे लगाए जा रहे हैं, जिसे मुख्य रोड से जोड़ा जा रहा है, लेकिन नगर कौंसिल इस तरफ बिल्कुल भी ध्यान नहीं दे रही है। टीम ने अपनी जांच में पाया कि अवैध कालोनियों में नक्शे तक पास किए जा रहे हैं, जिस पर नगर कौंसिल अधिकारियों ने अनभिज्ञता जताई है। यही नहीं, रिपोर्ट में लिखा गया है कि जो कालोनियां नियमित करवाई गई है, उनका नियमित करवाने के समय रकबा कम दिखाया गया है, जबकि असल में रकबा बहुत अधिक है, जिससे नगर कौंसिल को आर्थिक नुकसान हो रहा है। रिपोर्ट में एडीसी को पीएपीआर एक्ट 1995 व रेगुलाइजेशन पालिसी 2018 अनुसार कार्रवाई अमल में लाने के लिए लिखा गया है, ताकि संगरूर में चल रहे अवैध कालोनियों को नियमित किया जाए। कार्रवाई के लिए अभी नहीं नहीं मिला कोई पत्र : एडीसी

एडीसी लतीफ अहमद ने दैनिक जागरण से बातचीत में कहा कि उन्हें इस तरह का कोई पत्र अभी नहीं मिला है। जब पत्र मिलेगा, उसे पढ़ने के बाद बनती कार्रवाई को अमल में लाया जाएगा।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.