रेल ट्रैक की सफेदी सहित लाइनों पर प्राइमर का काम पूरा

रेल ट्रैक की सफेदी सहित लाइनों पर प्राइमर का काम पूरा

नार्दन रेलवे की अंबाला डिवीजन के सरहिद सेक्शन में पांच फरवरी को विभिन्न स्टेशनों का निरीक्षण करने पहुंच रहे नार्दन रेलवे के जीएम आशुतोष गगल के दौरे को लेकर रूपनगर रेलवे स्टेशन की आभा को युद्ध स्तर पर निखारे जाने का काम जारी है।

Publish Date:Sun, 17 Jan 2021 03:41 PM (IST) Author: Jagran

अरुण कुमार पुरी, रूपनगर: नार्दन रेलवे की अंबाला डिवीजन के सरहिद सेक्शन में पांच फरवरी को विभिन्न स्टेशनों का निरीक्षण करने पहुंच रहे नार्दन रेलवे के जीएम आशुतोष गगल के दौरे को लेकर रूपनगर रेलवे स्टेशन की आभा को युद्ध स्तर पर निखारे जाने का काम जारी है। रेलवे स्टेशन के प्रवेश द्वार के सामने सौ फीट ऊंचा राष्ट्रीय ध्वज लगाने का कार्य भी शुरू किया जा चुका है। इस कड़ी में रूपनगर के साथ कीरतपुर साहिब, आनंदपुर साहिब, नंगल डैम, ऊना हिमाचल, अंब अंदौरा व दौलतपुर चौक वाले रेलवे स्टेशन पर भी बड़े स्तर पर सुधार किए जा रहे हैं, लेकिन अगर रूपनगर रेलवे स्टेशन में सबसे ज्यादा विकास कार्य किए जा रहे हैं। पिछले सप्ताह आंबाला डिवीजन के डीआरएम गुरिदर मोहन सिंह टीम के साथ सारे स्टेशनों का दौरा कर ज्यादातर कार्यों को जीएम के निरीक्षण दौरे से पहले पूरा किए जाने के निर्देश दे चुके हैं। अब तक रूपनगर के रेलवे स्टेशन पर सफेदी सहित ट्रैक की सफाई के साथ लाइनों पर प्राइमर करने सहित उपकरणों की सफाई का काम भी पूरा किया जा चुका है। इसके अलावा पार्किंग स्टैंड में भी काफी सुधार किया गया है। यहां तक कि प्लेटफार्म की शड को नया रूप प्रदान किया जा चुका है। दूसरे प्लेटफार्म की अगर बात करें तो प्लेटफार्म की चारदीवारी बनाए जाने के बाद अब उसमें भर्ती डालने का काम भी जारी है। पूर्व में जब प्लेटफार्म नंबर एक को ऊंचा किया जाना था, तो उसका काम पूरा करने में आठ माह का समय लगा था। अब नया प्लेटफार्म के काम को कुछ दिनों में पूरा करने की तरफ कदम बढ़ाया जा रहा है। राष्ट्रीय ध्वज लगाने के लिए गड्ढा खोदने का काम शुरू

स्टेशन के बाहर लगाए जाने वाले सौ फीट ऊंचे राष्ट्रीय ध्वज को लगाने की जगह का चयन करने के बाद वहां पर गड्ढा खोदने का काम शुरू है। । राष्ट्रीय ध्वज के आड़े आने वाले पेड़ों की कटाई भी वन विभाग ने पूरी कर ली है। उम्मीद है कि जीएम के दौरे से पहले राष्ट्रीय ध्वज लगाने का काम काफी हद तक पूरा कर लिया जाएगा। इस बारे जब स्टेशन सुपरिंटेंडेंट तेजिदरपाल से बात की गई तो उन्होंने कहा कि जो भी विकास कार्य चल रहे हैं,वह तमाम लोगों की जरूरत को ध्यान में रखने सहित ज्यादातर गाड़ियों के चलन को कम देखते हुए तेज गति से संभव हो रहे हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.