कोरोना के 80 नए केस , दो की मौत

कोरोना के 80 नए केस , दो की मौत

जिले में सोमवार को कोरोना के जहां 80 केस आए हैं वहीं दो पीड़ितों की मौत हो गई।

JagranMon, 19 Apr 2021 10:56 PM (IST)

जागरण संवाददाता, रूपनगर: जिले में सोमवार को कोरोना के जहां 80 केस आए हैं, वहीं दो पीड़ितों की मौत हो गई। इसके अलावा108 लोग कोरोना मुक्त भी हुए हैं। डीसी सोनाली गिरी ने बताया कि जिले में सोमवार तक 180725 सैंपल एकत्र किए जा चुके हैं और इनमें से 172590 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आ चुकी है। अब तक 6922 लोग कोरोना पाजिटिव आ चुके हैं और इनमें से 5781 कोरोना को हराकर स्वस्थ हो चुके हैं। अब तक 240 लोगों की मौत हो चुकी है। सोमवार को रूपनगर में 33, चमकौर साहिब में 18, आनंदपुर साहिब में 13, मोरिडा और नंगल में आठ- आठ केस मिले हैं। सीएमओ ने टीकाकरण अभियान का लिया जायजा संवाद सूत्र, चमकौर साहिब: सीनियर मेडिकल अफसर सीएचसी चमकौर साहिब डी. सीपी सिंह ने ब्लाक चमकौर साहिब अधीन कोविड-19 टीकाकरण अभियान का जायजा लिया। उन्होंने पीएचसी अमराली और दुम्मणा में टीकाकरण अभियान में शामिल हुए लाभार्थियों से बातचीत की। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस की लड़ी को तोड़ने के लिए सभी को टीकाकरण जरूर करवाया चाहिए। इस मौके पर अवतार सिंह घुम्मण फार्मेसी अफसर, बीइइ हरविदर सिंह सैनी, एसआइ नागर सिंह, स्टाफ नर्स लखविदर कौर, मंजू स्टाफ नर्स, सरपंच गांव अमराली व किरनदीप भी उपस्थित थे। बिना पीपीई किट पहने कर दिया महिला का अंतिम संस्कार संवाद सूत्र, श्री चमकौर साहिब

चमकौर साहिब में सोमवार को एक महिला की कोरोना के कारण मौत हो गई। इसके बाद मृत महिला के शव के संस्कार के लिए उसके पारिवारिक सदस्यों ने शव को शमशान घाट तक ले जाने के लिए नगर पंचायत की वैन मंगवाई, जिसके अमले ने पीपीई किट नहीं पहनी थी। इसके बाद सेहत विभाग ने मृतका के पारिवारिक सदस्यों को तीन पीपीई किट उपलब्ध करवाई, लेकिन वैन के हेल्पर और चालक बिना पीपीई किट से कोरोना पीड़ित के शव को शमशान घाट लेकर गए, जहां पारिवारिक सदस्यों ने अंतिम संस्कार कर दिया। वहीं इस बारे में

एसएमओ डा. सीपी सिंह ने कहा कि उन्होंने एक कर्मचारी को छह पीपीई किट लेकर भेजा था, पर ऐसी लापरवाही क्यों हुई, इसकी जांच करेंगे। उधर वैन के कर्मचारी से बात की गई तो उसने कहा कि वैन का हेल्पर को पीपीई फिट नहीं आई और उसे वैन में चढ़ने नहीं दिया गया। नगर पंचायत के प्रधान शमशेर सिंह भंगू ने कहा कि वह अपने किसी भी मुलाजिम की जान जोखिम में नही डालेंगे। उन्होंने कहा कि वह इस संबंधी पता करेंगे कि वह क्यों बिना किट पहने एक पीड़ित महिला के संस्कार के लिए गए थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.