रेलवे स्टेशन पर प्लेटफार्म व फुट ओवरब्रिज का काम शुरू, तीन करोड़ होंगे खर्च

रेलवे स्टेशन पर प्लेटफार्म व फुट ओवरब्रिज का काम शुरू, तीन करोड़ होंगे खर्च

रूपनगर रेलवे स्टेशन पर आने वाले यात्रियों सहित अपनों का इंतजार करने वालों के लिए अच्छी खबर है ।

Publish Date:Sun, 29 Nov 2020 04:43 PM (IST) Author: Jagran

संवाद सहयोगी, रूपनगर: रूपनगर रेलवे स्टेशन पर आने वाले यात्रियों सहित अपनों का इंतजार करने वालों के लिए अच्छी खबर है । लंबे इंतजार के बाद रेलवे स्टेशन पर दूसरे प्लेटफार्म के साथ साथ फुट ओवरब्रिज का निर्माण कार्य शुरू हो गया है। इस पर लगभग साढ़े तीन करोड़ का खर्च आएगा। लोगों की मांग व जरूरत को देखते हुए दैनिक जागरण ने सबसे पहले उत्तर रेलवे के पूर्व जीएम बुद्दला कोटी के समक्ष उस वक्त यह मुद्दा प्रमुखता के साथ उठाया था, जब आठ साल पहले वह यहां दौरे पर आए थे। उस वक्त उन्होंने दूसरे प्लेटफार्म व फुट ओवरब्रिज की जरूरत को जायज मानते हुए विश्वास दिलाया था कि लोगों के हित में इन दोनों मांगों को जल्द पूरा किया जाएगा। जीएम के रिटायर होते ही उनका विश्वास भी ठंडे बस्ते में चला गया, लेकिन दैनिक जागरण ने इस मुद्दे को जिदा रखा व बार बार समाचार पत्र के माध्यम से अधिकारियों का ध्यान भी आकर्षित करने का प्रयास जारी रखा। इसके बाद फरवरी 2020 में प्लेटफार्म बनाने व फुटओवरब्रिज बनाने की जहां मंजूरी मिल गई, वहीं जिले के अंतर्गत पड़ते नंगल रेलवे स्टेशन पर भी फुट ओवरब्रिज बनाने को मंजूरी मिल गई। अभी इसका काम शुरू भी नहीं हुआ था कि कोरोना संकट आ गया, जिसके चलते काम रुक गया था, जो अब शुरू हो गया है।

उल्लेखनीय है कि लगभग डेढ़ दशक से अति व्यस्त रेलवे स्टेशनों की कड़ी में आ चुके रूपनगर के रेलवे स्टेशन पर जहां दूसरे प्लेटफार्म का अभाव चला आ रहा था, वहीं फुट ओवरब्रिज न होने के कारण लोगों को बड़ी परेशानी का सामना भी करना पड़ता था। लोग अकसर मांग करते रहते थे कि स्टेशन पर दूसरे प्लेटफार्म के साथ साथ फुट ओवरब्रिज भी होना चाहिए। यह मांग इसलिए भी जायजा थ कि इस रेलवे स्टेशन पर चार रेल ट्रैक हैं। कई बार एक ही समय में विपरीत दिशा से दो सवारी गाड़ियां स्टेशन पर आ जाती हैं। ऐसे में जो गाड़ी प्लेटफार्म नंबर एक पर लगती है , उसकी सवारी को तो कोई खतरा नहीं रहता, लेकिन जो गाड़ी लाइन नंबर दो या तीन अथवा चार पर लगती है, उसकी सवारी को बिना प्लेटफार्म गाड़ी से जान हथेली पर रख उतरना पड़ता है । स्टेशन से बाहर निकलने के लिए भी रेल ट्रैक को चलते हुए पार करना पड़ता है। ऐसे में कई बार हादसे भी हो चुके हैं। रूपनगर में दूसरे प्लेटफार्म व फुट ओवरब्रिज के निर्माण का कार्य शुरू हो गया है। द्ध इसके लिए लिए साढ़े तीन करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। कोरोना के चलते कार्य में देरी जरूर हो गई है, लेकिन यह प्रोजेक्ट मार्च 2021 तक हर हाल में पूरा कर लिया जाएगा।

गुरप्रीत सिंह, इंचार्ज, आइडब्लयू।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.