पैसे दोगुने करने के नाम पर ठगे 13 लाख

जागरण संवाददाता, रूपनगर

गांव खेड़ी के लोगों ने गांव के ही दो लोगों पर चिट फंड कंपनी के नाम पर लाखों रुपये की ठगी मारने का आरोप लगाया है। रूपनगर प्रेस क्लब में आयोजित प्रेस काफ्रेंस में खेड़ी गांव के निवासी सुख¨वदर ¨सह, सतवीर ¨सह, कुलदीप कौर, म¨हद कौर, गुरमीत कौर, सुरजीत कौर ने बताया कि गांव के ही दो व्यक्तियों ने उनके कम पढ़े लिखे होने का फायदा उठाते हुए उन्हें दोगुने रुपये करने का झांसा देकर लाखों रुपये हड़प लिए। उन्होंने एसएसपी रूपनगर स्वपन शर्मा के पास शिकायत दी है। जिसकी एसएसपी ने इंक्वायरी आगे एसीपी रूपनगर को सौंप दी है। गांववासियों ने बताया कि गुरमीत कौर से सात लाख, म¨हदर कौर से एक लाख छह हजार रुपए, कुलदीप कौर से दो लाख दो हजार रुपये, सुरजीत कौर से एक लाख दो हजार रुपये, सुख¨वदर ¨सह से दो लाख दो हजार रुपये लेकर फ्यूचर च्वाइस नामक कंपनी में लगाने का दोनों व्यक्तियों ने दावा किया और कहा कि तीन साल बाद ये राशि दो गुना करके उन्हें लौटा दी जाएगी। अब जब वो अपने लगाए रुपये और उनके दोगुने होने के समय उनके पास गए, तो उन्होंने उनसे गाली गलौज किया तथा कहा कि कंपनी ही भाग गई है। इसलिए उनके पास आने की कोई जरूरत नहीं है। सतवीर ¨सह ने बताया कि मई माह में उसके घर कुछ अज्ञात लोगों ने हमला कर दिया तथा गोली भी चलाई। जिसकी सूचना उन्होंने पुलिस को दी। एसएसपी दफ्तर में मांगपत्र भी दिया था। लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई। एक मुलाजिम उनके घर आया था तथा मौका देखने के बाद वो चला गया। उन्होंने कहा कि उन्हें शक था कि जिन व्यक्तियों को उन्हें रुपये दोगुने करने के लिए दिए थे उन्होंने ही हमला करवाया है। ऐसा करके वो उनमें दहशत फैलाना चाहते थे। ताकि वो चुप हो जाएं तथा रुपये की मांग न करें। उन्होंने कहा कि उनके अलावा दो दर्जन के आसपास और लोग भी हैं जो इन लोगों के झांसे में आकर लाखों रुपए फंसा चुके हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें शक है कि ये लोग उनके पैसे खुद ही हड़प गए हैं। हमें धमका रहे हैं लाखों लूटने वाले प्रेस कांफ्रेंस करने वाली महिलाओं ने बताया कि गांव के दोनों लोगों ने उन्हें अपनी कार में बिठा बिठाकर बैंक लेकर गए और उन्हें लालच देकर उनके पैसे निकलवाए। बाद में अब वो लोग उनसे सीधे मुंह बात करने की बजाय उन्हें धमका रहे हैं। उन्होंने कहा कि आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई न होने के कारण वो बेहद दुखी हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.