कांस्टेबल के रिजल्ट के खिलाफ युवाओं ने दूसरे दिन भी बस स्टैंड जाम किया

पंजाब पुलिस द्वारा हाल ही में कांस्टेबल के पदों के लिए लिखित परीक्षा लेने के बाद जारी किए मेरिट लिस्ट के विरोध में दूसरे दिन भी युवाओं ने बस स्टैंड जाम कर नारेबाजी की।

JagranPublish:Mon, 29 Nov 2021 05:45 PM (IST) Updated:Mon, 29 Nov 2021 05:45 PM (IST)
कांस्टेबल के रिजल्ट के खिलाफ युवाओं ने दूसरे दिन भी बस स्टैंड जाम किया
कांस्टेबल के रिजल्ट के खिलाफ युवाओं ने दूसरे दिन भी बस स्टैंड जाम किया

जागरण संवाददाता, पटियाला : पंजाब पुलिस द्वारा हाल ही में कांस्टेबल के पदों के लिए लिखित परीक्षा लेने के बाद जारी किए मेरिट लिस्ट के विरोध में दूसरे दिन भी युवाओं ने बस स्टैंड जाम कर नारेबाजी की। सोमवार को एडीजीपी एएस राय ने धरने पर बैठे युवाओं को मीटिग के लिए बुलाया, जिसके बाद सात सदस्यीय कमेटी का गठन कर इन्हें भेज दिया। सोमवार दोपहर को युवक व युवतियों ने बस स्टैंड चौक जाम कर दिया। वहीं दोपहर ढाई बजे एडीजीपी ने मीटिग के लिए इन्हें बुलाया। धरने पर बैठे युवाओं की मांग थी कि मेरिट लिस्ट रद करते हुए पहले की तरह ही भर्ती प्रक्रिया पूरी की जाए। धरने पर बैठे लड़के-लड़कियों ने कहा कि यदि सरकार ने लिस्ट रद नहीं की तो वे तीन दिसंबर को होने वाले ट्रायल नहीं होने देंगे। पब्लिक हुई परेशान

बस स्टैंड पर दूसरे दिन भी जाम लगने की वजह से भारी ट्रैफिक समस्या हुई और लोगों को जाम से परेशान होना पड़ा। पुलिस ने बस स्टैंड से रेलवे कालोनी जाने वाली रोड पर ट्रैफिक डाइवर्ट की, वहीं बसों को बस स्टैंड से दूरी पर रोका गया। वहीं राजपुरा से आने वाली ट्रैफिक को सरहिदी गेट एरिया से डायवर्ट किया। इंद्रजीत पटियाला और रवि कुमार ने कहा कि लिस्ट में किसी भी कैंडीडेट के नंबर नहीं दिखाए गए और 30 प्रतिशत वाले उम्मीदवारों को ट्रायल पर बुलाने की बात कहने के बाद सरकार मुकर गई है। रोष प्रदर्शन कर रही जगदीप कौर ने कहा कि कैप्टन सरकार के समय लागू नियमों को चन्नी सरकार ने बदलकर युवाओं से रोजगार का अवसर छीन लिया है। सरकार अपने राज्य के निवासियों को रोजगार देने के बजाय बाहरी राज्यों के उम्मीदवारों को सिलेक्ट कर रही है।