पत्नी से नया स्मार्टफोन मांगा तो पेट्रोल डालकर आग लगाई, 50 फीसद झुलसी, पीजीआइ रेफर

पत्नी से नया स्मार्टफोन मांगा तो पेट्रोल डालकर आग लगाई, 50 फीसद झुलसी, पीजीआइ रेफर

थाना सदर के तहत आते गांव बडली में एक शादीशुदा महिला ने पति से स्मार्टफोन मांगा तो उसने पेट्रोल डालकर आग लगा दी।

JagranThu, 04 Mar 2021 11:59 PM (IST)

जागरण संवाददाता, पटियाला : थाना सदर के तहत आते गांव बडली में एक शादीशुदा महिला ने पति से स्मार्टफोन मांगा तो उसने पेट्रोल डालकर आग लगा दी। आरोपित ने 11 फरवरी की रात 11 बजे इस घटना को अंजाम दिया था, उसके बाद से वह घर से फरार है। झुलसी पीड़िता के शोर मचाने पर साथ के मकान में रहने वाली उसकी बहन ने आकर आग बुझाते हुए उसे अस्पताल दाखिल करवाया, जहां से उसे पीजीआइ रेफर किया गया। पीड़िता की पहचान 24 वर्षीय आरती निवासी गांव बडली के रूप में हुई है। पीड़िता ने होश में आने के बाद दो दिन पहले पुलिस ने पीजीआइ में उसके बयान लिए। इसके बाद पुलिस ने बुधवार को आरती के पति कुलदीप गिर के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। चौकी भुन्नरहेड़ी के इंचार्ज निशान सिंह ने कहा कि फिलहाल आरोपित फरार है, जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लेंगे। महिला 50 फीसद झुलसी है लेकिन शरीर के अंदरूनी अंगों पर असर हुआ है। इस वजह से उसकी हालत गंभीर बनी हुई है।

आरती की शादी कुलदीप गिर के साथ करीब छह साल पहले हुई थी। शादी के बाद चार व दो साल की दो बेटियां हैं। कुलदीप खेतीबाड़ी व कंबाइन चलाने का काम करता है। वह अक्सर काम के सिलसिले में बाहरी राज्यों में जाता था। आरती पिछले कुछ समय से पति से स्मार्टफोन मांग रही थी क्योंकि उसके पास साधारण फोन था। पहले तो कुलदीप ने दुकान से फोन खरीद लिया लेकिन बाद में आरती को फोन नहीं दिया। अपने शक के चलते आरोपित ने फोन न देते हुए घर में झगड़ा करना शुरू कर दिया। 11 फरवरी की रात को कमरे में दाखिल होने के बाद उसने बेड पर लेटी आरती पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी और कमरे की कुंडी लगाकर खुद फरार हो गया। शोर सुनने के बाद आरती की बहन ने बचाव किया लेकिन तब तक काफी झुलस चुकी थी। अनफिट होने की वजह से केस दर्ज होने में देरी हुई

चौकी इंचार्ज निशान सिंह ने बताया कि पहले तो आरती अनफिट थी, जिस वजह से पुलिस को बयान नहीं मिले। आरती का चेहरा व शरीर बुरी तरह से झुलसा हुआ है। पीजीआई में रेफर किए जाने के बाद जब उसे होश आया तो परिवार ने पुलिस को सूचना दी, जिसके बाद आरती के बयान पर केस दर्ज कर लिया गया है। दोनों बहनें एक ही घर में ब्याही हुई हैं, साथ वाले घर में रहती थी

पीड़िता आरती की बड़ी बहन उसके जेठ के साथ ब्याही हुई है। दोनों भाइयों के बीच बंटवारा हो गया था, जिस वजह से बगल में बने घर में आरती की बड़ी बहन अपने परिवार के साथ रहती थी। दोनों घरों के दीवार बनी हुई है। देर रात आरती को आग लगाने के बाद जब उसका पति फरार हो गया तो शोर सुनकर उसकी बहन भागकर मौके पर पहुंची थी। आरती की बड़ी बहन व उसके पति ने किसी तरह से आग बुझाने के बाद आरती को अस्पताल में पहुंचाया था।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.