सरकार के खिलाफ मुलाजिमों का हल्ला बोल- बिजली कर्मियों ने एक्सईएन कार्यालय को जड़ा ताला

वीरवार को बिजली कर्मियों ने एक्सईएन सिटी ए‌र्क्सएन रूरल ईस्ट सब डिवीजन साउथ सब डिवीजन नार्थ सब डिवीजन सरना सुजानपुर मीरथल नरोट जैमल सिंह व धार सब डिवीजनों पर भी पूरी तरह से कामकाज बंद कर तालाबंदी कर दी।

JagranThu, 25 Nov 2021 09:25 PM (IST)
सरकार के खिलाफ मुलाजिमों का हल्ला बोल- बिजली कर्मियों ने एक्सईएन कार्यालय को जड़ा ताला

जागरण संवाददाता, पठानकोट: सरकार के खिलाफ कर्मचारी संगठनों ने हल्ला बोल दिया है। मांगों को लेकर विभिन्न विभागों के कर्मचारी सड़कों पर उतर आए हैं। कर्मचारियों के सरकार के खिलाफ बिगुल बजाने से आम जनता के लिए भारी परेशानियां पैदा हो गई हैं। पिछले 10 दिनों से हड़ताल पर बैठे पावरकाम कर्मियों ने वीरवार को एक्सईएन सिटी के कार्यालय पर ताला जड़ा दिया है, जिस कारण विभाग से संबंधित सभी कार्यालयों का कामकाज ठप होकर रह गया है। लोग कार्यालयों में काम करवाने के लिए आ रहे हैं, लेकिन आगे तालाबंदी देखकर लौटने को मजबूर हैं।

ज्वाइंट फोर्म के आह्वान पर वीरवार को 11वें दिन भी बिजली कर्मी हड़ताल पर डटे रहे। प्रधान दिनेशवर सिंह के नेतृत्व में बिजली कर्मियों ने विभाग व सरकार के खिलाफ रोष प्रदर्शन किया। पदाधिकारियों ने कहा कि उनसे बात करने के लिए सरकार कोई कदम नहीं उठा रही, जिस कारण वह मजबूरन ऐसा कदम उठाने को मजबूर हुए हैं। कर्मचारियों ने सरकार को चेताते हुए कहा कि समय रहते अगर उनकी मांगों का हल न किया तो वह 2022 विधान सभा के चुनाव का बायकाट कर सकते हैं। इस मौके पर विजय कुमार, सतीश कुमार, नरेश कुमार, धर्मपाल, नरेंद्र कुमार, गौरव घरोटा, रजनीश कुमार, अमित कुमार, नितिन कुमार, विशाल कालिया, वीरेंद्र सिंह गिल, राहुल कुमार, राकेश भट्टी, दविद्र अमरी, अमन सैनी, अपरिद्र सिंह, रिश्व शर्मा,प्रदीप कुमार, रमेश कुमार, हरदीप कुमार, कमल ठाकुर, राज कुमार, बलवीर सिंह, राम सिंह व नरोत्तम सिंह आदि मौजूद थे। सिटी कार्यलय को छोड़कर सभी सब डिवीजनों पर कर्मचारियों ने की तालाबंदी

वीरवार को बिजली कर्मियों ने एक्सईएन सिटी, ए‌र्क्सएन रूरल, ईस्ट सब डिवीजन, साउथ सब डिवीजन, नार्थ सब डिवीजन, सरना, सुजानपुर, मीरथल, नरोट जैमल सिंह व धार सब डिवीजनों पर भी पूरी तरह से कामकाज बंद कर तालाबंदी कर दी। एक्सईएन सिटी कार्यालय के बाहरी मेन गेट पर इसलिए, तालाबंदी नहीं की गई क्योंकि, उक्त कार्यालय के समक्ष एसएसपी पठानकोट की रिहायश है और उनका यही मेन रास्ता है। कैश काउंटर बंद देखकर उपभोक्ता भी हुए परेशान

उधर, सिटी के तीनों कैश काउंटरों पर कामकाज बंद होने के कारण उपभोक्ताओं को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। बिजली से संबंधित शिकायतों का समाधान करवाने के लिए लंबा समय इंतजार करना पड़ रहा है। बात जिले की करें तो पावरकाम की आठ सब सब डिवीजनों में 1200 से अधिक फाइलें लटक गई हैं। लोगों के बिजली बिल जमा नहीं हो रहे हैं। लोग बोले- बिल जमा न हुआ तो जुर्माना देना पड़ेगा

वीरवार को बिजली बिल जमा करवाने आए प्रभदीप शर्मा, राजेश कुमार, राकेश शर्मा व राजेश भगत ने कहा कि बिल जमा न होने के कारण उन्हे लेट फीस देनी पड़ेगी। विभागीय अधिकारियों से जब इस संबंधी पूछो तो एक ही जवाब मिलता है वह क्या कर सकते हैं? बिल की लेट फीस पर अधिकारियों का कहना है कि यह सब उच्चाधिकारियों के ध्यान में हैं। लिहाजा इस पर सरकार की ओर से जो फैसला आएगा वही मान्य होगा।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.