नशों के विरुद्ध मिल कर लड़ें लड़ाई : संतोष विर्दी

नशों के विरुद्ध मिल कर लड़ें लड़ाई : संतोष विर्दी

नवांशहर कार्यकारी सीनियर मेडिकल अफसर डा. गुरपाल कटारिया की अगुआई में जिला अस्पताल नवांशहर में शुक्रवार को नशामुक्त भारत अभियान के अंतर्गत प्रशिक्षण कम जागरूकता कार्यक्रम करवाया गया। जिसमें सेहत विभाग के स्टाफ समेत सहित आम लोगों ने शिरकत की।

JagranFri, 22 Jan 2021 10:31 PM (IST)

जागरण संवाददाता, नवांशहर

कार्यकारी सीनियर मेडिकल अफसर डा. गुरपाल कटारिया की अगुआई में जिला अस्पताल नवांशहर में शुक्रवार को नशामुक्त भारत अभियान के अंतर्गत प्रशिक्षण कम जागरूकता कार्यक्रम करवाया गया। जिसमें सेहत विभाग के स्टाफ समेत सहित आम लोगों ने शिरकत की।

इस मौके पर जिला सामाजिक सुरक्षा अधिकारी संतोष विर्दी ने बताया कि नशे का आदी व्यक्ति जहां आर्थिक तौर पर कमजोर हो जाता है, वहीं सामाजिक तौर पर हीन भावना का शिकार होकर मानसिक परेशानी में उलझ कर रह जाता है। नशे के कारण व्यक्ति के शरीर पर भी दुष्प्रभाव पड़ता है। ऐसे में नशे के खिलाफ मिलकर जागरूक होते हुए लड़ाई लड़नी चाहिए।

इस मौके पर सेहतकर्मी मंग गुरप्रसाद ने कहा कि पंजाब सरकार द्वारा राज्य में नशे को जड़ से खत्म करने के लिए नशा मुक्त भारत अभियान सहित डैपो प्रोग्राम भी चलाया जा रहा है। इन प्रोग्रामों के अंतर्गत आम लोगों के सहयोग के साथ जनता को नशों के विरुद्ध जागरूक किया जा रहा है। नशा पीडि़तों के लिए सेहत विभाग की तरफ से विशेष प्रबंध किए गए हैं, जिससे नए मरीजों को इलाज की सेवाएं मुहैया करवाकर नशामुक्त किया जा सके। उन्होंने कहा कि नशा एक रोग है और इसका इलाज जरूरी है।

इस मौके पर हरमनदीप सिंह जिला कैरियर काउंसलर ने कहा कि नौजवानों को खेलों में रुचि रखनी चाहिए, जिसके साथ उनको अनुशासनात्मक जीवन जीने की प्रेरणा मिलती है। नौजवान पीढ़ी को नशे के कोढ़ से दूर रहना चाहिए और जो नौजवान नशे करने के आदी हो चुके हैं, उनको नशा छुड़ाओ केंद्र में भर्ती करवाना चाहिए, ताकि नशे की लानत दूर हो सके।

इस दौरान सुरजीत सिंह जिला मास्टर ट्रेनर डैपो ने कहा कि सेहत विभाग नशा छुड़ाओ प्रोग्राम के अंतर्गत मुफ्त सेहत सेवाएं मुहैया करवाने के लिए वचनबद्ध है। कोरोना काल के दौरान भी सरकार ने नशों की आदत से पीडि़त मरीजों के इलाज और देखभाल के लिए विशेष कदम उठाए, जिसके कारण अधिक से अधिक नौजवान नशे की आदत से छुटकारा पा सके।

इस मौके पर तरसेम लाल ब्लाक एक्सटेंशन एजुकेटर ने समूह स्टाफ के साथ-साथ आम लोगों से भी अपील की है कि सभी मिल कर नशे के कोढ़ को खत्म करके में अपना योगदान डालने के लिए आगे आएं। उन्होंने बताया कि जिला अस्पताल नवांशहर में ओट सेंटर चल रहा है, जहां नशे के रोगी का मुफ्त इलाज करने के साथ-साथ मनदीप सिंह और उनके साथी की तरफ से काउंसिलिग भी की जाती है।

इस मौके पर मनदीप सिंह, मनदीप कौर, राजिदर कौर, काउंसलर परमवीर प्रिस, सुरिदर सिंह, विकास, राजेश, राजविंदर कौर, कमलजीत कौर, कुलवंत सिंह, प्रवेश कुमार, राजविदर सिंह, सोहन लाल, राहुल कुमार, परमिदर और अर्बन नवांशहर की आशा वर्कर, सफाई सेवक आदि उपस्थित थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.