आज आएगी कोरोना वैक्सीन की डोज, शाम को रजिस्टर्ड लाभार्थियों को आएगा मैसेज

आज आएगी कोरोना वैक्सीन की डोज, शाम को रजिस्टर्ड लाभार्थियों को आएगा मैसेज

नवांशहर जिले में कोरोना वैक्सीन को लेकर तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। जिलावासियों के लिए खुशखबरी है कि शुक्रवार सुबह तक वैक्सीन की पांच हजार डोज पहुंच जाएगी। पहले वीरवार शाम तक उक्त वैक्सीन को पहुंचना था पर इस संदर्भ में ज्यादा भीड़ होने के कारण चंडीगढ़ से सेहत विभाग ने जिले के स्वास्थ्य विभाग को इसे शुक्रवार सुबह ले जाने के लिए कहा है।

Publish Date:Thu, 14 Jan 2021 10:00 PM (IST) Author: Jagran

सुशील पांडे, नवांशहर

जिले में कोरोना वैक्सीन को लेकर तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। जिलावासियों के लिए खुशखबरी है कि शुक्रवार सुबह तक वैक्सीन की पांच हजार डोज पहुंच जाएगी। पहले वीरवार शाम तक उक्त वैक्सीन को पहुंचना था, पर इस संदर्भ में ज्यादा भीड़ होने के कारण चंडीगढ़ से सेहत विभाग ने जिले के स्वास्थ्य विभाग को इसे शुक्रवार सुबह ले जाने के लिए कहा है।

इस डोज को सबसे पहले जिले के 4376 स्वास्थ्य कर्मचारियों को लगाया जाएगा। इसमें सरकारी व गैर सरकारी स्वास्थ्य कर्मचारी शामिल हैं। शनिवार को इनमें से पहले 500 लाभार्थियों को वैक्सीन का टीका लगेगा। इसके लिए कोविड एप पर रजिस्ट्रेशन की जा चुकी है। सरकार की ओर से इशारा मिलते ही जिले का स्वास्थ्य विभाग सभी को शुक्रवार शाम तक मैसेज भेज देगा और उनको टीका लगने का स्थान व समय बता दिया जाएगा। यह जानकारी जिला टीकाकरण अधिकारी डा. दविदर ढांडा ने दी है।

--------------

पठलावा में हुई थी पहली मौत

प्रदेशभर में जिले के गांव पठलावा में कोरोना से पहली मौत हुई थी। इस मौत के पांचवे दिन जिले सहित प्रदेशभर में क‌र्फ्यू लग गया था। जो जहां था, वहीं रह गया। स्कूल, कालेज व बाजार आदि बंद हो गए थे। लोग घरों में कैद हो गए। ऐसा मंजर किसी ने कभी पहले नही देखा था। क‌र्फ्यू व लाकडाउन के कारण करीब दो माह तक लोग अपने घरों में कैद रहे। अब जब जिले में कोरोना की वैक्सीन आ रही है, तो लोगों ने राहत की सांस ली है और एक नई उम्मीद की शुरुआत हुई है।

------------------

लाभार्थी के लिए ये हैं प्रबंध

वैक्सीनेशन के दौरान सेशन साइट के गेट पर तैनात वैक्सीनेशन आफिसर लाभार्थी का पंजीकरण चेक करेगा। इसके बाद उसे वेटिग एरिया में भेजा जाएगा। यहां कंप्यूटर आपरेटर लाभार्थी का पहचान पत्र देखेगा और कोविड पोर्टल पर पंजीकरण चेक करेगा। इसके बाद उसे वैक्सीनेटर के पास भेजा जाएगा। वैक्सीनेटर के तौर पर डाक्टर, नर्स या कोई एएनएम तैनात हो सकता है। वैक्सीनेशन के बाद उसे 30 मिनट के लिए आब्जर्वेशन रूम में भेजा जाएगा। वहां दो स्टाफ सदस्य तैनात होंगे। किसी लाभार्थी को अगर परेशानी होती है, तो एक्सपर्ट कमेटी जिसमें हार्ट स्पेशलिस्ट, न्यूरोलाजिस्ट, गैस्ट्रोलाजिस्ट, मेडिसिन स्पेशलिस्ट सहित अन्य विशेषज्ञ शामिल होंगे, फ‌र्स्टएड देंगे। अगर हालत बिगड़ती है तो इसके लिए सेशन साइट के बाहर एंबुलेंस का प्रबंध किया जाएगा। वैक्सीन की दूसरी डोज लगने के बाद भी 14 दिन तक लाभार्थी सर्विलांस पर रहेगा। लाभार्थी को उसके नोडल आफिसर का नंबर दिया जाएगा। इसके अलावा जिले को जोन में बांटकर हेल्पलाइन नंबर भी जारी किए जाएंगे।

-----------------

वैक्सीनेशन के चार चरण

पहला चरण : हेल्थ केयर वर्कर व आंगनबाड़ी वर्कर

दूसरा चरण : पुलिस, सेना, एयरफोर्स व निगम कर्मी।

तीसरा चरण : 50 साल से अधिक उम्र के लोग।

चौथा चरण : 50 साल के कम उम्र के लोगों को लगेगी वैक्सीन।

-------------

जिले में तैयारियां मुकम्मल रखें

वैक्सीन की तैयारियों की समीक्षा के लिए चंडीगढ़ हेडक्वार्टर के वरिष्ठ डाक्टरों ने बुधवार को सूबे के सभी टीकाकरण अफसरों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिग की और जिले में बनाए गए पांचों सेंटरों में तैयारियां मुकम्मल करने के लिए कहा। जिला टीकाकरण अधिकारी डा. दविदर ढांडा ने बताया कि जिले में जो कोरोना की पांच हजार डोज अभी आ रही हैं, उनमें से सबसे पहले इसे 4376 स्वास्थ्य कर्मियों को लगाया जाएगा। इसके बाद फ्रंटलाइन के बाकी कर्मचारियों के टीकाकरण की शुरूआत होगी।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.