सरकारी अस्पतालों में ही करवाएं डिलीवरी

सरकारी अस्पतालों में ही करवाएं डिलीवरी

नवांशहर सिविल सर्जन डा. गुरदीप सिंह कपूर ने सोमवार को अपने कार्यालय में जिले के समूह प्रोग्राम अफसरों और सीएमओ के साथ बैठक की जिसमें कोविड-19 की जिले में मौजूदा स्थिति सहित राष्ट्रीय सेहत प्रोग्रामों के काम की प्रगति के बारे में विचार चर्चा की गई। इस दौरान उक्त अधिकारियों ने अपने-अपने प्रोग्रामों की प्रगति रिपोर्ट सिविल सर्जन के सामने पेश की।

JagranMon, 22 Feb 2021 10:39 PM (IST)

जागरण संवाददाता, नवांशहर

सिविल सर्जन डा. गुरदीप सिंह कपूर ने सोमवार को अपने कार्यालय में जिले के समूह प्रोग्राम अफसरों और सीएमओ के साथ बैठक की, जिसमें कोविड-19 की जिले में मौजूदा स्थिति सहित राष्ट्रीय सेहत प्रोग्रामों के काम की प्रगति के बारे में विचार चर्चा की गई। इस दौरान उक्त अधिकारियों ने अपने-अपने प्रोग्रामों की प्रगति रिपोर्ट सिविल सर्जन के सामने पेश की।

इस मौके पर सिविल सर्जन ने कोविड-19 सहित जच्चा-बच्चा सेहत सेवाओं पर खास तौर पर ध्यान देने के लिए कहा। उन्होंने अधिकारियों को हिदायत दी कि गर्भवती महिलाओं की जल्द से जल्द रजिस्ट्रेशन करनी जरूरी है। जिससे उनके सभी एएनसी चेकअप समय पर सरकारी अस्पताल में माहिर डाक्टरों के पास से करवाए जाएं। उन्होंने कहा कि जच्चा-बच्चा की सुरक्षा के लिए गर्भवती महिलाओं की डिलीवरी सरकारी अस्पताल में ही करवाई जाए। हाइ रिस्क महिलाओं की सूची तैयार करके उन पर खास तौर पर ध्यान देना चाहिए।

इसके अलावा सिविल सर्जन ने रुटीन टीकाकरण, जन्म और मौत के काम, आयुष्मान भारत सरबत सेहत बीमा योजना, यूडीआइडी और नशा मुक्त भारत अभियान समेत 104 मेडिकल हेल्पलाइन नंबर के बारे में भी कामकाज की समीक्षा की। सिविल सर्जन ने बायोमेडिकल वेस्ट के प्रबंधों के बारे में भी जानकारी साझी की। उन्होंने समूह प्रोग्राम अफसरों से कहा कि सभी सेहत प्रोग्रामों के बनते लक्ष्य समय पर पूरे करना हमारी जिम्मेदारी है, जिनको ईमानदारी से निभाना चाहिए।

इस मौके पर सिविल सर्जन ने कोविड-19 की रोकथाम के लिए एसएमओ को दिशा-निर्देश जारी किए। उन्होंने कहा कि पिछले दिनों कोविड-19 के मामलों में विस्तार देखने को मिल रहा है। इसलिए उन्होंने एसएमओ को सैंपलिग बढ़ाने व होम क्वारंटाइन के बारे में सख्ती से पालन करवाने के लिए भी हिदायत की। स्कूलों में अध्यापकों और बच्चों को कोविड-19 से बचाव के लिए जागरूक करने और आपसी दूरी बना कर रखने, मास्क पहनने और हाथों को बार-बार धोने के लिए जागरूक करने के लिए कहा।

उन्होंने जिले में कन्या भ्रूणहत्या को रोकने के लिए पीएनडीटी एक्ट को सख्ती से लागू करवाने पर भी जोर दिया। उन्होंने इसके लिए जिला परिवार भलाई अफसर को निरंतर स्कैनिग सेंटरों कीफेकिग करने के लिए कहा।

इस मौके सहायक सिविल सर्जन डा. बलविदर सिंह, जिला परिवार भलाई अफसर डा. जतिदर सिंह, जिला टीकाकरण अफसर डा. दविदर ढांडा, जिला सेहत अफसर डा. कुलदीप राय समेत एपीडीमोलाजिस्ट डा. जगदीप व श्यामा वैद्य, जिला मास मीडिया और सूचना अफसर जगत राम, ब्लाक एक्सटेंशन एजूकेटर विकास विर्दी, डीपीएम राम सिंह समेत समूह ब्लाकों के सीएमओ और स्टाफ सदस्य मौजूद थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.