प्रदेश में बीपीईओ के 69 फीसद पद खाली

प्रदेश में बीपीईओ के 69 फीसद पद खाली

नवांशहर सरकारी स्कूलों में पंजाब कांग्रेस सरकार के पांचवें साल में भी ब्लाक प्राथमिक शिक्षा अधिकारियों (बीपीईओ) के 228 पदों में से 157 पद खाली हैं जो 69 फीसद बनते हैं। इस बारे में गवर्नमेंट टीचर्स यूनियन पंजाब के प्रधान सुखविदर सिंह चाहल की अध्यक्षता में मंडल की हुई वर्चुअल बैठक में चिता जताई गई। यह जानकारी यूनियन के महासचिव कुलदीप सिंह दौड़का ने दी है।

JagranFri, 09 Apr 2021 11:02 PM (IST)

जागरण संवाददाता, नवांशहर

सरकारी स्कूलों में पंजाब कांग्रेस सरकार के पांचवें साल में भी ब्लाक प्राथमिक शिक्षा अधिकारियों (बीपीईओ) के 228 पदों में से 157 पद खाली हैं, जो 69 फीसद बनते हैं। इस बारे में गवर्नमेंट टीचर्स यूनियन पंजाब के प्रधान सुखविदर सिंह चाहल की अध्यक्षता में मंडल की हुई वर्चुअल बैठक में चिता जताई गई। यह जानकारी यूनियन के महासचिव कुलदीप सिंह दौड़का ने दी है।

उन्होंने बताया कि सरकारी स्कूलों में बच्चों की संख्या बढ़ने के बावजूद अध्यापकों के पद घटाएं जा रही हैं। सीएंडवी के पद माध्यमिक स्कूलों में खत्म किए जा रहे हैं। माध्यमिक स्कूलों के 228 पीटीआइ के पदों को तबादले के नाम पर खत्म किया जा रहा है। लेक्चरर कैडर को मास्टर कैडर के पीरियड देकर मास्टर काडर के पद खत्म किए जा रहे हैं।

प्राथमिक में सातवीं कक्षा होने के बावजूद नई पद न देना और अपर प्राथमिक में विषयवार अध्यापकों के पदों को न भरना पंजाब की शिक्षा को तबाही की तरफ ले जाएगा।

उन्होंने पंजाब में ब्लाक प्राथमिक शिक्षा अधिकारियों के जिलावार खाली पदों की जानकारी देते हुए बताया कि रूपनगर में दस में से दस, बरनाला में तीन में से तीन, जालंधर में 17 में से 16, होशियारपुर में 21 में से 19, मोगा में 6 में से 5, मानसा में 5 में 4, गुरदासपुर में 19 में से 15, कपूरथला में 9 में से 7 (मई के बाद एक और खाली), फतेहगढ़ साहिब में 8 में से 6 (अप्रैल के बाद एक और खाली), लुधियाना में 19 में से 14, जिला शहीद भगत सिंह नगर में 7 में से 5, अमृतसर में 15 में से 10, संगरूर में 12 में से 8, फिरोजपुर में 11 में से 7, एसएएस नगर मोहाली में 8 में से 5, पठानकोट में 7 में से 4, फाजिल्का में 8 में से 4, तरनतारन में 9 में से 4, बठिडा में 7 में से 3, श्री मुक्तसर साहिब में 6 में से 2, पटियाला में 16 में से 5, (मई के बाद और खाली) और फरीदकोट में 5 में से एक पद खाली है। उन्होंने कहा है कि लगभग 10 हजार प्राथमिक स्कूलों के प्रशासनिक अधिकारियों के पद खाली रख कर किस तरह प्रदेश में शिक्षा सुधार किया जा रहा है, इसे सिर्फ पंजाब सरकार और उच्च शिक्षा अधिकारी ही बता सकते हैं।

इस बैठक में गुरविदर सिंह, प्रिंसिपल अमनदीप शर्मा, पुष्पिंदर सिंह हरपालपुर, मनोहर लाल शर्मा, गुरदीप सिंह बाजवा, कुलदीप पुरेवाल, करनैल फिल्लौर, बलविदर भुट्टो, सुरजीत सिंह मोहाली, रणजीत मान, मंगल टांडा, भगवंत, देवी दयाल, हरिदर, दिलबाग सिंह, ज्ञान राज, परमजीत सिंह शोरेवाला, गुरदास सिंह सिद्धू, हरमनप्रीत कौर गिल, जगजीत सिंह मान, हरमीत बराड़, सुरिदर औजला, गुरप्रीत, गणेश, परमजीत सिंह आदि शामिल थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.