पूर्व सरपंच की याद में पर्यावरण संरक्षण के लिए एक हजार पौधे लगाएंगे युवा

शिरोमणी अकाली दल के सीनियर नेता स्वर्गीय बलकार सिंह बराड़ पूर्व सरपंच हुसनर की याद में उनके बेटे लखविदर सिंह व भतीजे हरसिमरन सिंह की अगुआई में नौजवानों को एक हजार पौधे लगाने की शुरुआत की

JagranWed, 21 Jul 2021 10:58 PM (IST)
पूर्व सरपंच की याद में पर्यावरण संरक्षण के लिए एक हजार पौधे लगाएंगे युवा

संवाद सूत्र, गिद्दड़बाहा (श्री मुक्तसर साहिब) : शिरोमणी अकाली दल के सीनियर नेता स्वर्गीय बलकार सिंह बराड़ पूर्व सरपंच हुसनर की याद में उनके बेटे लखविदर सिंह व भतीजे हरसिमरन सिंह की अगुआई में नौजवानों को एक हजार पौधे लगाने की शुरुआत की। इस संबंध में युवाओं ने बताया कि हम गांव में एक हजार पौधे लगाकर इन पौधों की पूरी तरह से देखभाल करेंगे व गांव को पूरी तरह से हरा भरा बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि दूषित हो रहे वातावरण को बचाने के लिए हर इंसान को एक एक पौधा जरुर लगाना चाहिए व उसका पालन पोषण करे यह समय की मुख्य जरूरत है। नौजवानों ने कहा कि लगातार दूषित हो रहे वातावरण, बढ़ रही ज्यादा गर्मी, कम हो रहा पानी व कम हो रहे पेड़ों को अगर न संभाला तो आने वाली पीढ़ी हमे कभी भी माफ नहीं करेगी। उन्होंने बताया कि हम सबका फर्ज बनता है कि अपना व हमारी आने वाली पीढ़ी के भले लिए ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाए। इस मौके पर जगसीर सिंह, सुखजिदर सिंह, जगजीत सिंह, वरिदर सिंह, मनदीप सिंह, भूपिदर सिंह, योद्धा सिंह, हैपी सिंह, गुरप्रीत सिंह, रेशम सिंह, रम्मी सिंह, कुलबीर सिंह, मोहनी का विशेष सहयोग रहा। भाई घनईया कैंसर रोको सेवा सोसायटी ने पर्यावरण की संभाल

इधर, कोटकपूरा में मानवता की भलाई वाले सेवा कामों में लगातार प्रयासरत भाई घनईया कैंसर रोको सेवा सोसायटी ने पर्यावरण की संभाल के लिए जहा ़खुद मु़फ्त पौधे बाँटने का प्रयास शुरू कर दिया है, वहाँ पर्यावरण प्रेमीओ समेत आम लोगों को भी प्रेरित करते कहा है कि वह गलोबिग वॉर्मिंग से बचने के लिए अधिक से अधिक प्रयास करे । संस्था के प्रधान गुरप्रीत सिंह चन्दबाजा और सीनियर मीत प्रधान कुलतार सिंह संधवां विधायक कोटकपूरा के नेतृत्व मे सोसायटी के वफद ने गाव -गाव जा कर लोगों को फलदार, फूलदार और छायादार पौधो कंटते इस के अनेकों ़फायदों से भी जानकार करवाया । गांव चन्दबाजा से शुरू हुआ उक्त का़िफला मिशरीवाला, घुमियारा, मोरांवाली, पक्का, टहना, धूड़कोट आदि में पहुँचा और हर गाँव के निवासियों को उन की पसंद मुताबिक लगभग 2000 पौधे बाँटे । डा देविन्दर सैफी, सुखविन्दर सिंह बब्बू और मघघर सिंह फरीदकोट ने कई जगह सवाल -जवाब करते बताया कि कई लोग वृक्षों को सि़र्फ आक्सीजन और लकडी के काम आने का स्त्रोत मानते हैं परन्तु वह इन बातों से बिल्कुल ही अनजान हैं कि वृक्षों के ओर भी अनगिनत लाभ हैं ।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.