top menutop menutop menu

डिस्पोजल ठीक न होने पर भड़के लोग, दो घंटे किया यातायात ठप

संवाद सूत्र, गिद्दड़बाहा (श्री मुक्तसर साहिब)

जल सप्लाई व सेनिटेशन की नाकामियों से भड़के लोगों ने मंगलवार की सुबह लंबी वाले फाटक पर धरना लगाकर यातायात ठप कर दिया। जल सप्लाई व सेनिटेशन विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। गिद्दड़बाहा के गांव, मोहल्ला बैंटाबाद व वार्ड नंबर 13 व 14 के निवासी मौजूद रहे।

प्रदर्शनकारियों ने बताया कि अगस्त में लंबी वाला फाटक पर रेलवे ट्रैक के नीचे से गुजरता सीवरेज अचानक धंस जाने से लंबी रोड पर स्थित सीवरेज डिस्पोजल को शहर की तरफ से जाते सीवरेज की सप्लाई बंद हो गई थी। रेलवे विभाग से प्रवानगी आदि न मिलने के चलते विभाग ने अपने स्तर पर लिफ्ट पंप व मछली मोटर लगाकर शहर के कुछ हिस्से का सीवरेज उसमें डालना शुरू कर दिया था। पांच माह बीतने पर भी उक्त समस्या का कोई हल नहीं निकला। इस कारण गिद्दड़बाहा गांव, मोहल्ला बैंटाबाद व वार्ड नंबर 13 व 14 के निवासियों ने सीवरेज विभाग के खिलाफ मोर्चा खोल दिया।

मोहल्ला वासियों पूर्व नगर कौंसिल अध्यक्ष जसवीर सिंह मान, पूर्व पार्षद सुखमंदर सिंह, अध्यक्ष गुरुद्वारा नानकसर साहिब लखविद्र सिंह, मास्टर राज कुमार, डॉ. सुखदेव सिंह, राज सिंह मान, बंत सिंह मसौन, सुनील कुमार व रणजीत सिंह ने बताया कि वह बीते लंबे समय से सीवरेज ओवरफ्लो व सीवरेज युक्त पेयजल की सप्लाई से परेशान हैं। बीते तीन सप्ताह से लंबी रोड डिस्पोजल की निकासी बंद पड़ी है। विभाग ने उसे ठीक नहीं किया व उक्त लिफ्ट पंप व मछली मोटर से लंबी रोड की ओर सीवरेज के पानी की निकासी जारी रखी। इसी वजह से उनके इलाके में सीवरेज का पानी लगातार ओवरफ्लो हो रहा है व अब तो पेयजल में भी सीवरेज के पानी में मिलकर आ रहा है। इनसेट

जल्द शुरू होगा जिस्पोजल : एसडीओ

करीब दो घंटे चले इस धरने के दौरान एसडीओ राकेश मोहन मक्कड़ ने कहा कि लंबी रोड से गांव बबानियां तक पांच किलोमीटर तक पाइप डाली गई है। जिससे सीवरेज का पानी जाएगा। जबकि लाल कोठी डिस्पोजल से आगे सीमेंट की पाइप डाली गई है और उसके जोड आदि चेक किए जा रहे है जिसे जल्द ही चालू कर दिया जाएगा। एसडीओ ने कहा कि 15 फरवरी को लिफ्ट पंप व मछली मोटर हटा दी जाएगी जिसके बाद प्रदर्शनकारियों ने अपना धरना समाप्त किया।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.