सैंपलों की रिपोर्ट आने की बाद ही वाटर व‌र्क्स की डिग्गियों में भरा जाएगा पानी

सैंपलों की रिपोर्ट आने की बाद ही वाटर व‌र्क्स की डिग्गियों में भरा जाएगा पानी

शहर में वाटर व‌र्क्स का पानी सप्लाई न होने के कारण स्थिति चिंताजनक है।

JagranFri, 23 Apr 2021 05:18 PM (IST)

रोहित कुमार, श्री मुक्तसर साहिब

शहर में वाटर व‌र्क्स का पानी सप्लाई न होने के कारण स्थिति गंभीर बनती जा रही है। नहरों में पानी न आने के कारण फसलों की बिजाई में लगातार देरी होने के कारण किसानों में भी परेशानी पाई जा रही है। पानी की सप्लाई को लेकर अभी भी प्रशासन में भी संशय बरकरार है। कोई भी अधिकारी स्थिति को सही तरीके से बताने में असमर्थ है। शहर में पानी न सप्लाई होने से लोगों में भारी परेशानी पाई जा रही है।

नहरों की सफाई के लिए 10 अप्रैल से पानी की बंदी लगी हुई है। प्रशासन द्वारा यह बंदी 22 अप्रैल तक लगाई गई थी लेकिन समय पूरा होने के बावजूद भी पानी नहीं छोड़ा गया। बंदी से पहले नहरों में काला पानी आने के कारण सेनीटेशन विभाग ने पानी लेना बंद कर दिया था जिस कारण वाटर वक्र्सों में पानी जमा नहीं हो पाया। लंबी चली बंदी के कारण अब वाटर व‌र्क्स की डिग्गियों में पानी समाप्त हो चुका।

किसान यूनियन कादियां के जिला महासचिव गुरतेज सिंह उदेयकरण ने कहा कि पानी न आने के कारण हरा चारा, सब्जियों को नुकसान हो रहा है। उन्होंने बताया कि हरे चारे के लिए हर चौथे दिन बाद पानी की आवश्यकता होती है। गांव बधाई, रामगढ़ चुंघा, मौड, बलमगढ़, चक जानीसर आदि गांवों में नरमें की बिजाई होती है। यह समय बिजाई का है। अगर पानी न मिला तो बिजाई में देरी होगी। जिस कारण फसल का नुक्सान होगा और फसल की झाड़ में भी कमी आएगी।

जल तथा सेनीटेशन विभाग के एक्सईएन अमृतपाल ने कहा कि जो नहरों में काली पानी आया है, उसके सैंपल लिए गए है। उन्होंने बताया कि उसके सैंपलों को चंडीगढ़ लेबोट्ररी भेजा गया है। सैंपलों की रिपोर्ट सही आने के बाद ही नहरों में से पानी लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि अगर रिपोर्ट सही आती है तो उसके बाद नहरों में से पानी लेकर वाटर वक्र्सों में एकत्रित करने के बाद ही शहर के लिए पानी छोड़ा जाएगा। इनसेट

30 तक पानी आने की उम्मीद : एक्सईएन

एक्सईएन पीएचडी अबोहर मंडल मुख्त्यार सिंह ने बताया कि फिरोजपुर दरिया से पानी आ रहा है। नहरों में सफाई का कार्य चल रहा है। इसलिए 30 अप्रैल तक पानी आने की संभावना है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.