आंगनबाड़ी वर्करों ने विधायक के घर के आगे किया प्रदर्शन

आल पंजाब आंगनबाड़ी मुलाजिम यूनियन ब्लाक गिद्दड़बाहा की और से प्रदर्शन किया गया।

JagranTue, 27 Jul 2021 10:12 PM (IST)
आंगनबाड़ी वर्करों ने विधायक के घर के आगे किया प्रदर्शन

संवाद सूत्र, दोदा (श्री मुक्तसर साहिब) आल पंजाब आंगनबाड़ी मुलाजिम यूनियन ब्लाक गिद्दड़बाहा की तरफ से ब्लाक प्रधान जसविदर कौर बराड़ की अगुआई में कांग्रेस के विधायक प्रीतम सिंह कोटभाई के घर के आगे अपनी मांगों तथा मसलों को लेकर भूख हड़ताल कर सरकार के खिलाफ नारेबाजी की गई। इसमे यूनियन के राज्य दफ्तर सचिव छिदरपाल कौर थांदेवाला भी पहुंची। बड़ी संख्या में एकत्रित हुई वर्करों तथा हेल्परों ने अपने रक्त के साथ ज्ञापन लिखकर विधायक की पत्नी परमजीत कौर को मुख्यमंत्री पंजाब कैप्टन अमरिदर सिंह के नाम पर दिया।

नेताओं ने मांग की कि आंगनबाडी सेंटरों ने तीन वर्ष से छह वर्ष तक के बच्चे जो सरकार ने 2017 में छीनकर सरकारी प्राइमरी स्कूलों में भेज दिए थे को समझौते के अनुसार वापस सेंटरों में भेजा जाए। नर्सरी अध्यापकों का दर्जा आंगनबाड़ी वर्करों को दिया जाए। पंजाब की आंगनबाड़ी वर्करों तथा हेल्परों को हरियाणा पैटर्न पर मान भत्ता दिया जाए। एनजीओ अधीन कार्य करती वर्करों तथा हेल्परों को मुख्य विभाग के अधीन लाया जाए।

इस मौके पर गगनदीप मल्लन, रणबीर कौर, लखविदर कौर हुस्नर, किरण कौर सुखना, जसवीर कौर कोटभाई, जसवीर कौर बुटर बखुआ तथा मनजीत कौर आदि उपस्थित थे। ------------------------ सुपरवाइजरों को तरक्की दे सरकार

संवाद सहयोगी, श्री मुक्तसर साहिब

सामाजिक सुरक्षा तथा स्त्री और बाल विकास विभाग से संबंधित आल पंजाब सुपरवाइजर एसोसिएशन के नेताओं ने पंजाब सरकार से मांगों को पूरा करने की गुहार लगाई है। एसोसिएशन के एक वफद ने गुरपाल कौर, गुरमीत कौर, जसपाल कौर, रणजीत कौर, कुलदीप कौर, परमजीत कौर तथा कुलविदर कौर की अगुआई में डीसी द्वारा पंजाब सरकार को ज्ञापन भेजकर मांग की है कि सुपरवाइजरों से सीडीपीओ की तरक्की की जाए। उन्होंने बताया मुख्य मांगों के हक में उन्होंने 26 तथा 27 जुलाई को दो दिन के लिए कार्य छोड़ हड़ताल की गई है। उन्होंने कहा कि मुख्य मांगों में छठे पे कमिशन की सिफारिशों को रद करने, वर्ष 2015 में नियुक्त सुपरवाइजरों में 34 सुपरवाइजरों का परखकाल समय तय करने, एसीडीपीओ की असामियों को बहाल करने, एडवाईजरी बोर्ड अधीन एरिये के छह प्रोजेक्ट विभाग अधीन लाए तथा सुपरवाइजरों के लिए दफ्तरों तथा सर्कल हैडक्वार्टर के जरुरी इंफ्रास्क्टचर देने संबंधी मांगें भी शामिल थी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.