पत्नी के साथ दवाई लेने जाते फाइनांसर की गोलियां मारकर हत्या, लारेंस बिश्नोई गैंग ने ली जिम्मेदारी

खून से लथपथ कार में पड़ा रणजीत सिहं का शव।
Publish Date:Thu, 22 Oct 2020 10:41 PM (IST) Author:

मलोट (श्री मुक्तसर साहिब), जेएनएन। वीरवार दोपहर को हलका मलोट के गांव औलख में फाइनांसर रणजीत सिंह की गोलियां मारकर हत्या कर दी गई। वह पत्‍‌नी को साथ लेकर मुक्तसर से कार से गांव औलख में दवाई लेने के लिए गया था। तभी आरोपितों ने वारदात को अंजाम दिया और कार में ही गोलियों से भून डाला। लारेंस बिश्नोई गैंग ने इसकी जिम्मेदारी ली है।

एसपी राजपाल ने बताया कि मुक्तसर निवासी रणजीत सिंह (37) फाइनांस का कार्य करता था। वह अपनी पत्नी राजवीर कौर के साथा मलोट के गांव औलख में दवाई लेने के लिए आया था। जैसे वह गांव औलख में अस्पताल के सामने पहुंचे तो स्विफ्ट कार सवार चार नौजवानों ने रणजीत सिंह पर गोलियां चलानी शुरू कर दी। गोलियां लगने से रणजीत सिंह की मौके पर ही मौत हो गई।

 

मृतक पर दर्ज है तस्करी के मामले

एसपी राजपाल ने बताया कि मृतक रणजीत सिंह पर पहले एनडीपीएस एक्ट के मामले दर्ज हैं। उन्होंने बताया कि मृतक की शादी करीब ढाई वर्ष पहले हुई थी और उसकी पत्‍‌नी गर्भवती है। उन्होंने बताया कि मामले की छानबीन की जा रही है और मृतक के बैकग्राउंड को चेक किया जा रहा है तथा पता किया जा रहा है कि रणजीत सिंह की किसी से कोई रंजिश तो नहीं थी।

सीसीटीवी कैमरों की जांच की जा रही

आसपास के सीसीटीवी कैमरों की जांच की जा रही है तथा आरोपियों की पहचान की जा रही है। उन्होंने बताया कि पता किया जा रहा है कि रणजीत सिंह का संबंध किसी गैंगस्टर ग्रुप से तो नहीं था। एसपी ने बताया कि फिलहाल मृतक की पत्‍‌नी अभी सदमें हैं। इसके बाद उसका बयान लिया जाएगा।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.