बंधुआ मजदूर बनाए बेटे को जिमींदार से बचाने को मां ने लगाई गुहार

गूंगे व बहरे युवक हरदेव सिंह वासी लुबानियांवाली को बंधुआ मजदूर बनाकर रखने व मां-बेटे के साथ मारपीट करने का मामला पंजाब राज अनुसूचित जाति कमिशन के ध्यान में आया है।

JagranSat, 19 Jun 2021 12:05 AM (IST)
बंधुआ मजदूर बनाए बेटे को जिमींदार से बचाने को मां ने लगाई गुहार

संवाद सहयोगी, श्री मुक्तसर साहिब : गूंगे व बहरे युवक हरदेव सिंह वासी लुबानियांवाली को बंधुआ मजदूर बनाकर रखने व मां-बेटे के साथ मारपीट करने का मामला पंजाब राज अनुसूचित जाति कमिशन के ध्यान में आया है। पीड़ित मां बलजीत कौर पत्नी तारा सिंह वासी की शिकायत कापी कमिशन के मेंबर डा. तरसेम सिंह सियालका के पास पहुंची। इसमें बलजीत कौर ने कहा है कि 32 वर्षीय बेटे को गांव के ही एक जमींदार ने बंधुआ मजदूर बनाकर रखा है। बचपन से लेकर अब तक जिमींदार परिवार ने बेटे को कोई पैसा नहीं दिया और न ही उसको किसी दूसरी जगह पर कार्य करने के लिए जाने दिया जाता है। बलजीत कौर ने बताया कि बेटे को जिमींदार के घर से चुपचाप लाकर किसी अन्य जगह पर भेज दिया था, लेकिन तीन माह बाद जब बेटा घर वापस आया तो जिमींदार घर आ गया। बेटे से मारपीट की। जब बेटे को बचाने बीच में आई तो उसके साथ भी बुरा व्यवहार किया तथा मारपीट की। पीड़ित ने बताया कि थाना सदर बरीवाला में भी शिकायत दी थी, लेकिन उसकी कोई सुनवाई नहीं हुई। जिमींदार फिर से बेटे को साथ ले जाने की कोशिश कर रहा है। पीड़ित बलजीत कौर ने बताया कि उक्त जिमीदार दबाव बनाकर हमसे 31 हजार रुपये वसूलना चाहता है। एससी कमिशन ने लिया शिकायत का नोटिस

कमिशन के मेंबर डा. सियालका ने बताया कि कमिशन के पास जो मामला मुक्तसर जिले का आया है, वह काफी दुखदायी है। एक मां ने अपने पुत्र को बंधुआ मजदूरी से मुक्त करवाने के लिए कमिशन की शरण में आई है तथा खुद पर हुए जुर्म का खुलासा किया है। शिकायत पर एसएसपी मुक्तसर ने आरोपित लोगों के खिलाफ क्या कार्रवाई की है, उसका पता लगाने के लिए 10 जुलाई को रिपोर्ट मांगी है। इस मामले में जिला पुलिस की भूमिका की समीक्षा करने के बाद ही कमिशन अगला कदम उठाएगा। इस मौके पर डा. सियालका के लोक संपर्क अधिकारी सतनाम सिंह गिल, पीए शिवजोत सिंह आदि उपस्थित थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.