ओला पार्टी एप पर हुए प्यार को पाने के लिए पति का गला काटकर कर दी हत्या

। नौ महीने पहले ओला एप पर प्यार हुआ। उसके साथ नई दुनिया बसाने के ख्वाब पालकर महिला ने अपने प्रेमी की मदद से पति की हत्या कर डाली।

JagranSun, 25 Jul 2021 10:10 PM (IST)
ओला पार्टी एप पर हुए प्यार को पाने के लिए पति का गला काटकर कर दी हत्या

संवाद सहयोगी,मोगा

नौ महीने पहले ओला एप पर प्यार हुआ। उसके साथ नई दुनिया बसाने के ख्वाब पालकर महिला ने अपने प्रेमी की मदद से पति की हत्या कर डाली। बाद में पुलिस से बचने के लिए झूठी कहानी गढ़ने की कोशिश की, लेकिन पुलिस की जांच में वारदात के दो दिन बाद ही उसका सच सामने आ गया। दो बच्चों की मां, उसके प्रेमी व एक अन्य व्यक्ति को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। तीनों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर लिया है। प्रीत नगर में 22 जुलाई की रात को हुई हत्या की गुत्थी पुलिस ने 48 घंटे में सुलझाने के साथ ही हत्या में प्रयोग की गई कुल्हाड़ी व वाहन को कब्जे में ले लिया है।

एसएसपी हरमनबीर सिंह गिल ने बताया कि सिटी साउथ पुलिस को गत वीरवार की रात सूचना मिली थी कि प्रीत नगर गली नंबर 15 निवासी सब्जी विक्रेता सुखविदर सिंह पुत्र बलजीत सिंह पत्नी व बच्चों के साथ घर में सो रहा था। देर रात तेजधार हत्यारों से उसकी हत्या कर दी गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर मृतक के भाई भूपिदर सिंह पुत्र बलजीत सिंह के बयान पर थाना सिटी साउथ में अज्ञात के खिलाफ हत्या केस का केस दर्ज किया था। एसएसपी ने बताया कि मामले की जांच के लिए थाना सिटी साउथ पुलिस, सीआइए मोगा व साइबर सेल की संयुक्त जांच टीम गठित की गई थी।

मामले की जांच करते हुए पुलिस ने फोरेंसिक व डिजिटल टूल्स का भी इस्तेमाल किया गया। घटनास्थल की जांच व मृतक की पत्नी अमनदीप कौर द्वारा पुलिस की बताई गई कहानी में पुलिस को अंतर लगा। यहीं से पुलिस को मृतक की पत्नी पर शक हुआ। अमनदीप कौर ने पुलिस को बताया था कि वारदात वाली रात को वह अपने पति के साथ ही सो रही थी, लेकिन हत्यारों ने कब उसके पति की हत्या कर दी, उसे पता ही नहीं चला। पुलिस को अमनदीप कौर की ये बात हजम नहीं हुई। मृतक के परिवार के दूसरे सदस्यों ने भी पत्नी पर शक जताया था।

पुलिस ने अमनदीप कौर से सख्ती से पूछताछ शुरू की तो वह जल्द ही पुलिस के सामने टूट गई। उसने हत्या का सारा राज पुलिस के सामने खोल दिया। साथ ही अपने प्रेमी व उसके साथियों के नाम भी पुलिस को बता दिए। पुलिस ने उसके बयान की पुष्टि के लिए सीडीआर, आइपीडीआर व सीसीटीवी फुटेज की भी जांच की। इसके बाद अमनदीप कौर ने जो बयान दिए थे, वे सही पाए गए।

अमनदीप कौर ने खुद खोला था दरवाजा

मृतक सुखविदर सिंह की पत्नी अमनदीप कौर ने बताया कि वह लगभग नौ महीने पहले ओला पार्टी मोबाइल एप के माध्यम से संदीप सिंह पुत्र दर्शन सिंह से मिली थी। बाद में उसकी दोस्ती हो गई। बाद में वह घर के बाहर भी मिलने लगे। करीब दो महीने पहले उसने संदीप सिंह पुत्र दर्शन सिंह के साथ शादी रचाने के लिए अपने पति का रास्ते से हटाने की साजिश तैयार कर ली। संदीप सिंह ने इस साजिश में जसबीर सिंह पुत्र गुरमेल सिंह को भी शामिल कर लिया। हत्या की रात अमनदीप कौर ने संदीप के लिए खुद दरवाजा खोला, जबकि जसबीर मोटरसाइकिल पर बाहर इंतजार कर रहा था। वीरवार की रात संदीप व अमनदीप ने कुल्हाड़ी से गला काटकर सुखविदर सिंह की हत्या कर दी। वारदात को अंजाम देने के बाद संदीप व जसबीर मोटरसाइकिल से अपने घर चले गए। कुछ देर बाद अमनदीप कौर ने खुद को बचाने के लिए ड्रामा शुरू कर दिया। उसने शोर मचा दिया कि कोई व्यक्ति उसके पति की हत्या कर गया है।

पुलिस ने हत्या में प्रयोग की गई मोटरसाइकिल पीबी 30जे 2311 व कुल्हाड़ी को सबूत के तौर पर कब्जे में ले लिया है। पुलिस ने अमनदीप कौर पत्नी सुखविदर सिंह निवासी गली नंबर 15, प्रीत नगर , संदीप सिंह पुत्र दर्शन सिंह व जसबीर सिंह पुत्र गुरमेल सिंह निवासी गांव मिधा, जिला मुक्तसर को हिरासत में ले लिया है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.