सिविल अस्पताल में मुलाजिमों की हड़ताल पर भारी पड़ी मानवता

मोगा लोगों की जिदगी जब दांव पर लगी है तब एनएचएम के तहत काम कर रहे मुलाजिमों के एक गुट ने मंगलवार को सिविल अस्पताल में हड़ताल कर स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित करने की कोशिश की। इस दौरान कोरोना प्रोटोकाल का उल्लंघन कर सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। वहीं दूसरी ओर बहुत ही संवेदनशील स्थिति के बीच कुछ मुलाजिमों ने मानवता का अनुकरणीय उदाहरण दिया और उन्होंने लोगों की जिदगी को देखते हुए अपनी सेवाएं बरकरार रखीं।

JagranTue, 27 Apr 2021 11:11 PM (IST)
सिविल अस्पताल में मुलाजिमों की हड़ताल पर भारी पड़ी मानवता

राजकुमार राजू, मोगा

लोगों की जिदगी जब दांव पर लगी है, तब एनएचएम के तहत काम कर रहे मुलाजिमों के एक गुट ने मंगलवार को सिविल अस्पताल में हड़ताल कर स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित करने की कोशिश की। इस दौरान कोरोना प्रोटोकाल का उल्लंघन कर सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। वहीं दूसरी ओर बहुत ही संवेदनशील स्थिति के बीच कुछ मुलाजिमों ने मानवता का अनुकरणीय उदाहरण दिया और उन्होंने लोगों की जिदगी को देखते हुए अपनी सेवाएं बरकरार रखीं।

यही नहीं हड़ताल के कारण फ्लू कार्नर का काम प्रभावित होते दिखा, तो ब्लड ट्रांसफ्यूजन अफसर (बीटीओ) डा. सुम्मी गुप्ता खुद फ्लू कार्नर पर पहुंची और उन्होंने सैंपलिग शुरू करवाकर काम को प्रभावित नहीं होने दिया। डा. सुम्मी ही नहीं बल्कि एनएचएम मुलाजिमों के दूसरे गुट ने अपनी सेवाएं बरकरार रखते हुए संवेदनशील समय में हड़ताल करने वालों को सबक सिखाया।

गौरतलब है कि जिले में इस समय एनएचएम के तहत करीब 250 मुलाजिम काम कर रहे हैं। इनमें से एक गुट ने मंगलवार सुबह करीब 11.30 बजे हड़ताल का एलान कर दिया। इससे टीकाकरण, क्लेरिकल, फंड वितरण, स्टाफ नर्स, जच्चा-बच्चा के वैक्सीनेशन का काम प्रभावित हुआ। कुछ स्टाफ कोविड की रिपोर्टिग, टेस्टिंग, मोटीवेशन, होम क्वारंटाइन की ड्यूटी में लगा है। ये काम भी प्रभावित हुआ।

कोविड के कारण इस समय फ्लू कार्नर का काम बेहद संवेदनशील है। ब्लड ट्रांसफ्यूजन अफसर को जब पता चला कि कोरोना के चलते टेस्ट की सैंपलिग के लिए आ रहे मरीजों की सैंपलिग हड़ताल के कारण बाधित हो रही है और मरीज परेशान हो रहे हैं, तो वह बिना किसी अधिकारी के आदेश पर स्वेच्छा से मौके पर पहुंची और सैंपलिग शुरू कराई, तब जाकर मरीजों को राहत मिली।

------------

रेगुलर किया जाए, शारीरिक दूरी की उड़ी धज्जियां

एनएचएम इंप्लाइज एसोसिएशन पंजाब के डा. इन्द्रजीत सिंह राणा एवं अमरजीत सिंह के नेतृत्व में मंगलवार को 30-40 कर्मचारियों ने रेगुलर करने की मांग को लेकर सिविल सर्जन आफिस के बाहर कोरोना प्रोटोकाल का उल्लंघन करते हुए पंजाब व केंद्र सरकार के खिलाफ हड़ताल करते हुए नारेबाजी। इस दौरान प्रदर्शनकारियों के चेहरे पर मास्क तो थे, लेकिन शारीरिक दूरी की धज्जियां उड़ा रहे थे।

डा. इन्द्रजीत राणा ने कहा कि सरकार उनकी रेगुलर करने की मांग की अनदेखी कर रही है। यदि अब भी सरकार ने उनकी मांग नहीं मानी, तो आंदोलन और तेज हो सकता है। इस दौरान धरने को मनजीत कौर, बेअंत कौर, सुखविदर कौर ने भी संबोधित किया। वहीं डा. सिमर पाल सिंह ने कहा कि 10 वर्षो से एनएचएम के कर्मचारियों की अनदेखी किए जाने का बदला मुलाजिम आने वाले विधानसभा चुनाव में लेंगे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.