चार दिन से मंडी में बैठे हैं किसान, नहीं मिल रहा गेहूं का खरीदार

चार दिन से मंडी में बैठे हैं किसान, नहीं मिल रहा गेहूं का खरीदार

जिला प्रशासन की सरकारी विज्ञप्ति में दावा किया जा रहा है कि मंडी में किसानों की फसल 24 घंटे के अंदर खरीदी जा रही है।

JagranTue, 20 Apr 2021 11:39 PM (IST)

संवाद सहयोगी,मोगा

जिला प्रशासन की सरकारी विज्ञप्ति में दावा किया जा रहा है कि मंडी में किसानों की फसल 24 घंटे के अंदर खरीदी जा रही है। दैनिक जागरण की पड़ताल में सामने आया गांव दौलेवाला के करनैल सिंह, गांव डरौली भाई के लवप्रीत सिंह चार दिनों से मंडी में गेहूं खरीद का इंतजार कर रहे हैं, लेकिन न तो सरकारी एजेंसी आ रही है, आढ़ती के पास जाते हैं तो वह कहते हैं कि बारदाना खत्म है, जब बारदाना आएगा, तब खरीद होगी। सवाल उठता है कि जिला प्रशासन का दावा सही है या मंडियों में चार-चार दिन से बैठे किसान।

मंडियों में परेशान हो रहे किसानों के बीच मौसम भी खलनायक बना हुआ है। मंडी में पर्याप्त संख्या में तिरपाल तक मौजूद नहीं है, गेहूं से भरी बोरियां बिना तिरपाल के खुले में पड़े हुई हैं। क्या है सरकार का दावा

डिप्टी कमिश्नर एमके अराविद कुमार के अनुसार 19 अप्रैल की सायं कुल एक लाख 76 हजार 908 मीट्रिक टन गेहूं पहुंची। आमद हुई गेहूं में एक लाख 48 हजार 500 मीट्रिक टन गेहूं की खरीद की जा चुकी है। जिला मंडी अफसर मनदीप सिंह ने बताया कि इस सीजन के दौरान अब तक पनग्रेन द्वारा 48,881 मीट्रिक टन गेहूं, मार्कफेड द्वारा 36,978 मीट्रिक टन, पनसप द्वारा 32,432 मीट्रिक टन गेहूं, एफसीआइ द्वारा 7146 मीट्रिक टन तथा पंजाब वेयर हाउस द्वारा 23,063 मीट्रिक टन गेहूं 19 अप्रैल की सांय तक खरीदी जा चुकी है। किसानों को 24 घंटे में गेहूं खरीदकर वापस भेजा जा रहा है। क्या कहते हैं किसान

गांव दौलेवाला निवासी किसान करनैल सिंह ने बताया कि वे 16 अप्रैल की सुबह मंडी में गेहूं लेकर आए थे, पंखा लग चुका है, गेहूं सूखा है लेकिन अभी तक कोई खरीददार नहीं आया, उधर गेहूं हर रोज चोरी हो रहा है। आड़ती के बात जाते हैं तो कहते हैं कि वारदाना नहीं है। यही स्थिति गांव डरौलीभाई के किसान लवप्रीत सिंह की है। लवप्रीत का कहना है कि चार दिन से कोई खरीद एजेंसी गेहूं खरीदने नहीं आई है। पानी तक की मंडी में कोई व्यवस्था नहीं है। उन्हें घर से पानी लाना पड़ रहा है।

घल्लकलां निवासी करनैल सिंह दो दिन से मंडी में गेहूं की खरीद के इंतजार में बैठे हैं, यही स्थिति गांव खोसा पांडो निवासी मग्गर सिंह, बुक्कनवाला निवासी बलौर सिंह व बलबिदर सिंह की है, वे दो दिन से गेहूं खरीद के इंतजार में मंडी में बैठे हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.