दिन दहाड़े लुटेरे कारीगर के घर से पिस्तौल दिखा पांच मिनट में सोना लूटकर फरार

दिन दहाड़े लुटेरे कारीगर के घर से पिस्तौल दिखा पांच मिनट में सोना लूटकर फरार
Publish Date:Sun, 27 Sep 2020 09:31 PM (IST) Author: Jagran

संवाद सहयोगी, मोगा :रविवार की दोपहर में बिना नंबर की पल्सर मोटरसाइकिल पर सवार होकर तीन हथियारबंद बदमाशों ने सोने के जेवरात बनाने वाले एक कारीगर के घर पिस्तौल दिखाकर 89 ग्राम सोना लूटकर ले गए।

लूट की पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है। सूचना मिलने पर डीएसपी सिटी बरजिदर सिंह भुल्लर, थाना साउथ सिटी के प्रभारी संदीप सिंह, थाना सिटी-1 के प्रभारी गुरप्रीत सिंह, सीआइओ स्टाफ मोगा के प्रभारी इंस्पेक्टर त्रिलोचन सिंह बड़ी संख्या में पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए थे। पुलिस ने मौके से सीसीटीवी फुटेज कब्जे में लेने के साथ ही पूछताछ के लिए तीन बंगाली कारीगरों को हिरासत में ले लिया है।

क्या है मामला

मेन बाजार स्थित पुरानी सब्जी मंडी के चौबारे पर पिछले दस सालों से मिटू नामक बंगाली कारीगर परिवार के साथ रह रहा था। वह ज्वैलर्स के सोना चांदी लेकर उनके लिए जेवरात बनाता है। इस काम के लिए उसने दो कारीगर शेख मानिक व कमल भी रखे हैं। मिटू बंगाली की पत्नी ब्यूटी भी वहीं पर रहती है। दूसरे कमरे में कारीगर जेवरात तैयार करते हैं। रविवार को दोपहर लगभग 2:15 बजे एक बिना नंबर के पल्सर मोटरसाइकिल पर सवार तीन युवक सीढि़यां चढ़ते हुए मिटू के चौबारे पर स्थित कमरे के बाहर पहुंचे। इनमें से एक युवक के हाथ में पिस्तौल थी। सभी लुटेरों के मुंह ढके हुए थे।

अचानक तीन युवकों को ऊपर आते देख मिटू अपने कमरे से बाहर निकला तो एक युवक ने पिस्तौल तानते हुए उससे सोने की मांग की। लुटेरे के हाथ में पिस्तौल देख मिटू उस कमरे में चला गया जहां कारीगर काम कर रहे थे। कमरे में जाते ही एक लुटेरे ने मिटू को एक तरफ रखा साथ ही दूसरे ने कमरे में बनी ड्रॉज में रखा सोना अपने कब्जे में ले लिया। लगभग पांच मिनट में कमरे में मौजूद पूरा सोना लेकर तीनों लुटेरे उसी पल्सर मोटरसाइकिल से मेन बाजार की तरफ फरार हो गए। थापर चौक व प्रताप रोड में 24 घंटे रहता है नाका

गौरतलब है कि मेन बाजार में थापर चौक व प्रताप रोड पर 24 घंटे पुलिस का नाका रहता है लेकिन रविवार को कहीं भी पुलिस का नाका नहीं था, जिसके कारण लुटेरे आराम से लूट की वारदात को अंजाम देकर फरार हो गए। पुलिस ने मौके से सीसीटीवी कैमरे की फुटेज कब्जे में लेने के बाद मिटू सहित उसके साथ काम करने वाले दोनों कारीगरों को भी हिरासत में लेकर सीआईए स्टाफ पूछताछ के लिए ले गए। जहां देर शाम तक उनके पूछताछ की जा रही थी, लेकिन फिलहाल पुलिस को लुटेरों का कोई सुराग नहीं लग सका है।

पुलिस इन इन घटनाओं का भी नहीं पाई सुराग

गैंगेस्टर को रंगदारी देने की बजाय पुलिस को सूचित करने पर मोटरसाइकिल सवार दो बदमाशों ने 14 जुलाई को न्यू टाउन बाजार में सुपरसाइन नामक कपड़े के शो रूम मालिक तेजिदर सिंह उर्फ पिका की गोली मारकर हत्या कर दी थी। बाद में चार सितंबर को पुरानी दाना मंडी में चावल व्यापारी राजेश कुमार को तीन हथियारबंद लुटेरों ने लूटने की कोशिश की थी, लूट में असफल रहने पर उन्होंने चावल व्यापारी को गोली मार दी थी, खुद मौके से फरार हो गए थे। पुलिस के पास दोनों घटनाओं के सीसीटीवी कैमरे मौजूद हैं, वारदात को अंजाम देने वालों के नाम पर भी पुलिस को पता चल गए लेकिन अभी किसी भी वारदात का पुलिस खुलासा नहीं कर सकी है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.