10 दिन में बेसहारा पशु भेजेंगे गोशाला, 15 लाख प्रति माह गोशाला को मिलेंगे

नानक सिंह खुरमी, मानसा : बेसहारा पशु संघर्ष कमेटी मानसा के धरने में सोमवार को सीएम के बेटे युवराज रणइंदर सिंह व कैबिनेट मंत्री गुरप्रीत सिंह कांगड़ पहुंचे। उन्होंने कमेटी की सभी मांगों को पूरा करने का वादा किया। जिस पर कमेटी ने धरना उठा लिया। इस अवसर पर पश संघर्ष कमेटी के नेता मुनीष बब्बी दानेवालिया, प्रेम अग्रवाल, डॉ.जनक राज ने उनसे कहा कि मानसा जिले में सरकारी गोशाला बनाई जाए, दस दिन के अंदर-अंदर बेसहारा पशुओं को सड़कों से उठाया जाए, गाय सैस को बेसहारा पशुओं के रख-रखाव पर खर्च किया जाए, गो सुरक्षा कानून में संशोधन कर अमरीकन नस्ल के पशुओं को इससे बाहर रखकर उनकी खरीद बेच करने की इजाजत दी जाए। इन मांग को लेकर युवराज रणइंदर सिंह व गुरप्रीत सिंह कांगड़ ने ऐलान किया कि मानसा व समाना हलके को पंजाब सरकार पायलट प्रोजेक्ट के तहत लाकर पशुओं को सड़क से हटाएगी ओर हरे चारे के लिए मानसा की गोशालाओं को 15 लाख रुपये हर माह भेजेगी। वहीं इस के अलावा गांव जोगा में साढे पांच एकड जमीन में गोशाला बनाकर बेसहारा पशुओं को वहां भेजेगी ओर गो सुरक्षा एक्ट में संशोधन पर विचार कर जरुरत के अनुसार बदलाव किया जाएगा।

इस अवसर पर पशु संघर्ष कमेटी के सदस्य रुलदू सिंह, बोघ सिंह, जतिदर आगरा, बिकर सिंह मघाणियां, कामरेड कृष्ण चौहान, गुरप्रीत सिंह बणावाली, मनजीत सिंह सदियोडा ने कहा कि सरकार के भरोसे पर धरने को तीन माह के लिए उठाया गया है। अगर सरकार ने उनकी मांग को पूरा न किया तो फिर से धरना लगाया जाएगा।

इस अवसर पर कामरेड हरदेव अर्शी, पूर्व विधायक अजीतइंदर सिंह, गुरप्रीत कौर, मंगत राय बांसल, नाजर सिंह हलका विधायक, हरबंस सिंह, जुगल गर्ग, हरप्रीत सिंह, बलदेव सिंह, गुरप्रीत सिंह, बूटा सिंह रल्ला, राम सिंह, गुरप्यार सिंह, डॉ. विजय सिगला, बिक्रम टैक्सला, डॉ.अनुराग, केसर सिंह धलेवां, गुरदीप सिंह मानशहिया के अलावा अन्य मौजूद थे।

मृतक के परिवार के लिए मांगी सरकारी नौकरी

इस मौके पर बेसहारा पशु के कारण मौत के मुंह में गए गांव जवाहरके के सनी कुमार को सरकारी नौकरी की मांग को लेकर वफद युवराज रणइंदर सिंह से मिला ओर पीडि़त परिवार को मुआवजा व सरकारी नौकरी देने की मांग की।

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.