लुधियाना में लगेगी दुनिया की सबसे तेज एडवांस मशीन, 26 कारोबारी मिलकर बनाएंगे प्रिंटिंग एवं पैकेजिंग कलस्टर

प्रिंटिंग एंड पैकेजिंग इंडस्ट्री की सांकेतिक फोटो।

लुधियाना के कारोबारी प्रिटिंग व पैकेजिंग को लेकर नया प्रयास करने जा रहे हैं। औद्योगिक नगरी के 26 कारोबारी मिलकर 20 करोड़ की लागत से प्रिंटिंग व पैकेजिंग के लिए एडवांस मशीन लगाने जा रहे हैं। इससे उनका काम आसान होगा।

Publish Date:Thu, 21 Jan 2021 11:16 AM (IST) Author: Kamlesh Bhatt

लुधियाना [मुनीश शर्मा]। औद्योगिक नगरी लुधियाना देश विदेश में अपने उत्पादों से जानी जाती है। अब शहर के उद्यमी इंडस्ट्री की मुख्य मांग प्रिंटिंग एवं पैकेजिंग को लेकर भी नया प्रयास करने जा रहे हैं। प्रिंटिंग एवं पैकेजिंग इंडस्ट्री से जुड़े 26 कारोबारियों की ओर से एक कलस्टर का निर्माण किया गया है। इसके माध्यम से अब बीस करोड़ के निवेश से लुधियाना में प्रिंटिंग पैकेजिंग कलस्टर बनाया जा रहा है। इसमें दुनिया की सबसे तेज एवं एडवांस मशीन को इंस्टाल करवाया जाएगा।

यह सिक्स कलर की सबसे बड़ी 28 ईंच बाय 40 ईंच की मशीन विद यूवी कोटर इस कलस्टर में लगाई जाएगी। पंद्रह करोड़ लागत की यह मशीन विश्व की सबसे बेहतर मशीन है। इसके साथ ही कलस्टर में हाईस्पीड डाई कटिंग एवं लैमिनेशन मशीन इंस्टाल की जा रही है। इन मशीनों के लग जाने से रोजाना एक घंटे में 16 हजार पीस का निर्माण किया जा सकेगा।

ज्ञात हो कि एक्सपोर्ट की बढ़ती डिमांड के चलते लुधियाना में प्रिंटिंग एवं पैकेजिंग की मांग में तेजी से इजाफा हो रहा है। ऐसे में इस कलस्टर से लुधियाना की डिमांड पूरी हो सकेगी। कारोबारियों के मुताबिक किसी एक प्रिंटर की ओर से इस तरह की मशीनों का लगाए जाने संभव नहीं है। ऐसे में एमएसएमई मंत्रालय की स्कीम के तहत यह कलस्टर काम करेगा।

नौ हजार गज के प्लाट संग डीपीआर तैयार

लुधियाना में बनने जा रहे प्रिंटिंग एंड पैकेजिंग कलस्टर के लिए मॉडर्न प्रिंटिंग एंड पैकेजिंग फोरम (एमपीपीएफ) द्वारा नौ हजार गज के प्लाट की डील के साथ साथ डिटेल्ड प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) को एमएसएमई विभाग भारत सरकार व उद्योग विभाग पंजाब सरकार को सौंप दी गई है। यह विश्वस्तरीय प्रिंटिंग एंड पैकेजिंग कलस्टर लुधियाना के ग्यासपुरा इंडस्ट्रियल जोन हंबड़ा रोड में बनकर तैयार होगा। इसमें जर्मनी व जापान की वर्ल्ड क्लास प्रिंटिंग मशीनों को स्थापित किया जाएगा। लुधियाना व आस पास के एरिया को उच्च क्वालिटी की प्रिंटिंग और पैकेजिंग की उपलबध्ता आसानी से व वाजिब दामों पर हो सकेगी।

बदल जाएगा लुधियाना इंडस्ट्री का स्वरुप

एमपीपीएफ के मैनेजिंग डायरेक्टर नीरज कुमार गुप्ता व डायरेक्टर हेमंत गुप्ता ने बताया कि लुधियाना में प्रिंटिंग एंड पैकेजिंग क्लस्टर की लंबे समय से ज़रूरत महसूस की जा रही थी, क्योंकि मशीनेंं बहुत महंगी हैंं व उनकी उत्पादन क्षमता भी बहुत ज्यादा है, जिससे आम प्रिंटर के लिए उच्च क्वालिटी की मशीनों को लगाना मुश्किल काम है। मौजूदा समय में प्रिंटिंग की अधिकतर मशीनें 20 से 40 वर्ष पुरानी है, जिससे उच्च क्वालिटी का अधिकतर काम दूर दराज के इलाकों से करवाना पड़ता है | इस प्रोजेक्ट पर 20 करोड़ से अधिक की लागत आयगी जिसमे भारत सरकार व पंजाब सरकार मिलकर बड़ा योगदान देंगे। जिससे बड़े पैमाने पर रोजगार भी उपलब्ध होगा।

यह भी पढ़ें : पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट ने दिए जज को आदेश, सुप्रीम कोर्ट के दस फैसले पढ़कर सारांश पेश करें

यह भी पढ़ें : ढाबे पर रोटी मांगी तो पहचान ली आवाज, 19 वर्ष से बिहार से लापता चाचा लुधियाना में इस हाल में मिला

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.