top menutop menutop menu

देहात में शिरोमणि अकाली दल का प्रदर्शन, कांग्रेस सरकार पर दलित व गरीब विरोधी हाेने का लगाया अाराेप

देहात में शिरोमणि अकाली दल का प्रदर्शन, कांग्रेस सरकार पर दलित व गरीब विरोधी हाेने का लगाया अाराेप
Publish Date:Wed, 05 Aug 2020 01:05 PM (IST) Author: Vipin Kumar

जगराओं, [हरविंदर सिंह सग्गू ]। शिरोमणि अकाली दल के प्रधान सुखबीर सिंह बादल के निर्देशों पर गरीब और दलित समुदाय के साथ धक्केशाही के विराेध में बुधवार को गांव स्तर पर शिरोमणि अकाली दल ने प्रदर्शन किया। हल्का प्रभारी और पूर्व विधायक एसआर कलेर की अगुआई में विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न गांवों में  सरकार के खिलाफ रोष प्रदर्शन किए गए।

गांव डला और चीमा में  भारी जनसमूह को संबोधित करते हुए  पूर्व विधायक  एसआर के कलेर  शिरोमणि कमेटी सदस्य  गुरचरण सिंह ग्रेवाल  और पूर्व चेयरमैन कंवलजीत सिंह ने संबोधित करते हुए कहा कि पंजाब की कांग्रेस सरकार हर फ्रंट पर बुरी तरह से फेल हो चुकी है।

उन्हाेंने अाराेप लगाया कि जब से पंजाब में कांग्रेस सरकार आई है तब से गरीब और दलित समुदाय के साथ धक्केशाही ही हो रही है । उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार द्वारा एससी औऱ बीसी विद्यार्थियों के  वजीफे बंद कर दिए गए हैं।  नीले कार्ड बडे स्तर पर काट दिए गए हैं और हर गांव में राशन घोटाला हुआ है। इसके अलावा बिजली के बिलों में भारी बढ़ोतरी की कर दी गई है।

पंजाब में नकली और जहरीली शराब का धंधा अफसरशाही और सत्ताधारी पार्टी की मिलीभगत के साथ धड़ल्ले से चल रहा है। जिस कारण 100 से अधिक लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी। कलेर ने कहा कि  कांग्रेस सरकार द्वारा  बुजुर्गों  की पेंशन जानबूझकर काटी जा रही है। कई-कई महीने बुजुर्गों को पेंशन नहीं दी जा रही। गरीब लोगों को मुफ्त उपचार की सहूलियत भी कांग्रेस सरकार द्वारा बंद कर दी गई है।

इसके अलावा मुख्यमंत्री द्वारा किए गए वादे को पूरा करवाने के लिए  गांव स्तर तक  बड़े स्तर पर  रोष प्रदर्शन किए गए हैं। उन्होंने  सरकार को  उनके किए गए वादों को पूरा करने के लिए नींद से जगाने हेतु लोगों को इस धरना प्रदर्शन में पहुंच कर सफल बनाने के लिए सभी का आभार जताया।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.