लुधियाना के जगराओं में एसडीएम नरिंदर धालीवाल ने चार नए डिपुओं के नियुक्ति पत्र बांटे

जगराओं में एसडीएम नरिंदर सिंह धालीवाल ने चार नए डिपुओं के नियुक्ति पत्र बांटे।

लुधियाना के जगराओं में पंजाब सरकार की मिशन घर-घर रोजगार व कारोबार मुहिम के तहत एसडीएम नरिंदर सिंह धालीवाल ने चार नए डिपुओं के नियुक्ति पत्र बांटे। एसडीएम धालीवाल ने बताया कि पंजाब के खुराक सिविल सप्लाई व खपतकार मंत्री भारत भूषण आशू ने इस मुहिम की शुरुआत की है।

Publish Date:Sun, 17 Jan 2021 04:06 PM (IST) Author: Rohit Kumar

जगराओं, जेएनएन। सब-डिवीजनल मजिस्ट्रेट नरिंदर सिंह धालीवाल ने पंजाब सरकार की मिशन घर-घर रोजगार व कारोबार मुहिम के तहत जगराओ में चार नए डिपुओं के नियुक्ति पत्र बांटे। एसडीएम धालीवाल ने बताया कि पंजाब के खुराक, सिविल सप्लाई व खपतकार मंत्री भारत भूषण आशू ने इस मुहिम की शुरुआत की थी। एसडीएम नरिंदर सिंह धालीवाल ने बताया कि पंजाब सरकार गरीब लोगों के हितों के साथ जुड़ी है जो उनकी आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाने के साथ जनतक बांट प्रणाली को और मजबूत करने में अहम योगदान होगी।

यह भी पढ़ें -  बहुत शातिर हैं ये महिलाएं, पंजाब में हुस्न के जाल में फंसा बनाती थी संबंध, फिर चलता था ब्लैकमेलिंग का खेल

उन्होंने बताया कि अभी जगराओं में चार नए डिपुओं के लिए नियुक्ति पत्र दिए गए है ताकि नाैजवान डिपू खोल कर अपनी आर्थिक स्थिति में सुधार कर सके। अगर कोई भी डिपो खोलना चाहता है तो वे अर्जियां दे सकते है। जानकारी के अनुसार पहले जगराओं में 42 डिपो चलते थे, उसमें से कुछ डिपो बंद और बाकी डिपुओं की सप्लाई जारी रहती है। जिसमें 30 डिपो मालिकों ने डिपो बंद कर दिए थे।

यह भी पढ़ें -  संजय गोयल बने IIA पंजाब चेप्टर के चेयरमैन, लुधियाना चेप्टर के लिए हरिंदर बोपाराय की नियुक्ति

इस बार चार नए डिपो मालिक आनंद किशोर, अतुल, नरेश व अन्य है। एसडीएम धालीवाल ने बताया कि लोगों की सुविधा को देखते हुए डिपो अलाट किए गए है ताकि हरेक घर में राशन आसानी से पहुंच सके।

 

 

 

 

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.