Kisme kitna Hai Dum: टैलेंट शो के ग्रेंड फिनाले में पहुंची पंजाब की चित्राक्षी, Little Master में भी मचा चुकी है धमाल

राजपुरा की चित्राक्षी बत्तरा किसमें कितना है दम टैलेंट शो के ग्रेंड फिनाले में पहुंच गई है। डीडी पंजाबी टीवी शो के फिनाले के लिए गांधी कालोनी स्थित उनके घर और स्कूल में शूटिंग हो गई है। अब अगले महीने चंडीगढ़ में ग्रेंड फिनाले की संभावना है।

Vinay KumarFri, 30 Jul 2021 03:55 PM (IST)
राजपुरा में माता-पिता व भाई के साथ चित्राक्षी प्रतिस्पर्धा में मिले सर्टिफिकेट, मैडल, मोमेंटों दिखाती हुई।

राजपुरा, पटियाला [प्रिंस तनेजा]। मन में अगर कुछ कर गुजरने की चाह हो तो कुछ भी किया जा सकता है, ऐसे ही अपने बुलंद हौंसले के दम पर होली एंजल स्कूल राजपुरा 9वीं कक्षा की छात्रा चित्राक्षी बत्तरा 'किसमें कितना है दम' टैलेंट शो के ग्रेंड फिनाले में पहुंच गई है। बताया जा रहा है कि डीडी पंजाबी टीवी शो के फिनाले के लिए राजपुरा की गांधी कालोनी स्थित उनके घर और स्कूल में वीरवार को शूटिंग हो गई है। अब अगले महीने तक चंडीगढ़ में गेंड्र फिनाले होने की संभावना है। शो के विजेता को डांसिंग, सिंगिग व मॉडलिंग की दुनिया में हुनर दिखाने का अवसर मिलेगा। होनहार बेटी के शो के अंतिम चरण तक पहुंचने से स्वजन, रिश्तेदार और राजपुरा क्षेत्रवासी खुश हैं। चित्राक्षी ने कहा कि जीवन का लक्ष्य कोरियो ग्राफर बनकर अपनी अकादमी खोलने का रहा है। इसलिए उसे डांसिंग के अलावा अभिनय व मॉडलिंग में भी रुचि है।

 

सोनी, स्टार प्लस व जीटीवी में मचा चुकी है तहलका

चित्राक्षी ने बताया कि डांसिग की कला उसे अपनी मम्मी से विरासत में मिली है जो डांस टीचर रह चुकी हैं। चित्राक्षी ने स्कूलों में अपने डांस का लोहा मनवाने के साथ ही 2018 में जीटीवी चर्चित शो डीआइडी लिटिल मास्टर में भी देहरादून, दिल्ली व मुम्बई में खुब धमाल मचाया और चौथे राउंड में उसे निराशा मिली। उसके बाद 2019 स्टार प्लस के चर्चित शो डांस प्लस ऑडिशन में दिल्ली में खूब वाहवाही लूटी और उसे मुम्बई आने का पत्र दिया गया लेकिन फोन कॉल न आने से वह नहीं जा पाई।

हमारे स्कूल की होनहार छात्रा है चित्राक्षी: सेबी थॉमस

बेहतर प्रदर्शन कर प्रदेश, शाही जिला पटियाला व राजपुरा का नाम रोशन करने की तमन्ना रखने वाली चित्राक्षी के बारे में होली एंजल स्कूल के डायरेटर सेबी थॉमस का कहना है कि वह होनहार है। वह केवल डासिंग व सिंगिग में ही नहीं पढ़ाई में भी उसने महारत हासिल कर रखी है। पूरे स्कूल को उस पर गर्व है कि छोटी सी आयु में ही उसने वह मुकाम हासिल कर लिया है जहां तक पहुंचने के लिए करोड़ों विद्यार्थियों का सपना होता है। हमारी दिली इच्छा है कि वह किस में कितना है दम की टॉपर बनकर ही लौटे ताकि उसे स्कूल की तरफ से सम्मानित किया जा सके।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.