Protest In Patiala: सरकार के खिलाफ गरजे कर्मचारी, छठे वेतन आयोग की सिफारिशों के विरोध में हल्लाबोल महारैली

वीरवार को पटियाला में 20 से ज्यादा यूनियनों के हजाराें सदस्यों ने वीरवार को विरोध रैली की। अनाज मंडी पटियाला में हल्लाबोल महारैली में पंजाब यूटी इंप्लाइज और पेंशनर्स साझा फ्रंट के हजारों सदस्य इकट्ठा हुए और छठे वेतन आयोग की सिफारिशों का विरोध किया।

Pankaj DwivediThu, 29 Jul 2021 04:46 PM (IST)
पटियाला में छठे वेतन आयोग की सिफारिशों के विरोध में रैली करते कर्मचारी। जागरण

संवाद सहयोगी, पटियाला। Protest In Patiala: पंजाब सरकार के छठे वेतन आयोग की सिफारिशें लागू करने के विरोध व अन्य मांगें पूरी करवाने के लिए 20 से ज्यादा यूनियनों के हजाराें सदस्यों ने वीरवार को विरोध रैली की। अनाज मंडी पटियाला में हल्लाबोल महारैली में पंजाब यूटी इंप्लाइज और पेंशनर्स साझा फ्रंट के हजारों सदस्य इकट्ठा हुए। इस दाैरान कर्मचारियाें ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

पंजाब-यूटी मुलाजिम और पेंशनर्स साझा फ्रंट ने छठे वेतन आयोग की सिफारिशों में बदलाव करने, कच्चे मुलाजिमों को विभागीय पोस्टों पर रेगुलर करवाने, विभिन्न विभागों में काम करते मान भत्ता वर्करों के लिए कम से कम वेतन कानून लागू करवाने, पुरानी पेंशन स्कीम बहाल, महंगाई भत्तों की बकाया किश्तें जारी करवाने, नए भर्ती किये जा रहे मुलाजिमों पर केंद्रीय वेतन स्केल के बजाय पंजाब के स्केल लागू करवाने की मांगें उठाई। उन्होंने कहा कि पुनर्गठन के नाम पर विभिन्न विभागों में पोस्टें खत्म की जा रही हैं। राज्य के विभिन्न जिलों से पहुंचे हजारों मुलाजिमों/ पेंशनर्स और कच्चे कंट्रेक्ट वर्करों ने रैली करने के बाद मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के निवास की तरफ रोष मार्च का भी एलान किया।

यह भी पढ़ें-Fraud In Ludhiana: लुधियाना की महिला प्रोफेसर से ठगी, मुंबई में फ्लैट दिलाने का झांसा देकर 21.64 लाख का लगाया चूना

 

गवर्नमेंट टीचर्स यूनियन पटियाला रैली के लिए रवाना

लुधियाना। गवनर्मेंट स्कूल टीचर्स यूनियन पंजाब के सरप्रस्त चरण सिंह सराभा की अध्यक्षता में अध्यापकों का संगठन पटियाला होने जा रही हल्ला बोल रैली के लिए रवाना हो गया। संगठन के मनीश शर्मा, परमिंदर पाल, ज्ञान सिंह ने जानकारी देते कहा कि अध्यापकों की पंजाब सरकार से मांग है कि छठे पे कमिशन के नोटिफिकेशन में संशोधन कर 3.8 मल्टीप्लाई फैक्टर अनुसार कम से कम 26,000 वेतन दिया जाए। इस माैके पर हरदीप कौर, बलदेव सिंह, बलवंत सिंह, भूपिंदर सिंह, स्वर्ण सिंह, बलविंदर सिंह, बलवीर सिंह व दलजीत सिंह आदि माैजूद थे।

यह भी पढ़ें-पंजाब प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की बड़ी कार्रवाई, लुधियाना के दो यूनिट किए बंद; 9 इंडस्ट्रीज पर लगाया जुर्माना

 

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.