पंजाब सीएम चरणजीत सिंह चन्नी बोले- पंजाब में हर बुरे काम में बादलों का हाथ, भुगतनी पड़ेगी सजा

पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी ने बादलों पर निशाना साधा। कहा कि राज्य में हर बुरे काम के पीछे बादलों का हाथ है। कहा कि माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। उन्हें अपने किए की सजा भुगतनी होगी।

Kamlesh BhattThu, 25 Nov 2021 05:28 PM (IST)
रैली को संबोधित करते चरणजीत सिंह चन्नी। फोटो- डीपीआर

जेएनएन, बाघा पुराना (मोगा)। पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी आज प्रकाश सिंह बादल व सुखबीर सिंह बादल के खिलाफ आक्रामक नजर आए। कहा कि पंजाब के विरुद्ध हरेक बुरे काम में बादलों का हाथ रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य में केबल माफिया, रेत माफिया, ट्रांसपोर्ट माफिया बादल सरकार में ही फले फूले। माफियाओं ने अंधी लूट मचाई। बादल सरकार में माफियाओं ने पंजाब की अर्थव्यवस्था को चोट पहुंचाई। उन्हें अपने किए की सजा भुगतना पड़ेगी। यह दिन बहुत दूर नहीं है। 

चन्नी ने कहा कि जब माफियाओं पर लगाम कसी जा रही है तो बादल बचाव के लिए हाथ-पैर मार रहे हैं। कहा कि उनके गुनाह माफी के लायक नहीं हैं। मुख्यमंत्री ने केबल माफिया के खिलाफ ई वाले केबल माफिये के खिलाफ ईडी की कार्रवाई का स्वागत किया। कहा कि यह देर से लिया गया फैसला है। 

मुख्य मंत्री चन्नी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर भी निशाना साधा। केजरीवाल को उन्होंने अफवाह फैलाने वाला नेता बताया। कहा कि केजरीवाल और उनकी टीम को यह बात याद रखनी चाहिए कि इतिहास गवाह है कि पंजाबी हमेशा अपनी धरती और लोगों को बेहद प्यार करते हैं। पंजाबियों ने न तो कभी राज्य की सत्ता बाहरी व्यक्ति के हाथ में सौंपी है और न ही भविष्य में ऐसा होने देंगी। मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि दिल्ली माडल का कोई अस्तित्व नहीं है, जबकि कांग्रेस के पंजाब माडल के साथ लोगों को बेहतर शासन मुहैया करवाया जा रहा है।

केजरीवाल पर चुटकी लेती मुख्यमंत्री ने कहा कि उसे तो राज्य के बारे में बुनियादी समझ भी नहीं है। दिल्ली के मुख्यमंत्री को चुनौती देते मुख्यमंत्री चन्नी ने उनको राज्य के दो रिवायती खेल ‘गिल्ली डंडा ’ और ‘बंदर खुंटे ’ बीच वाला फर्क बताने के लिए कहा। चन्नी ने कहा कि वह साधारण परिवार से ताल्लुक रखते हैं और उनकी समस्याओं से भलीभांति परिचित हैं। इस दौरान चन्नी ने अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाईं।

ये उपलब्धियां गिनाईं

बिजली बिलों के 1500 करोड़ रुपये के बकाये माफ किए गए। घरेलू खपतकारों के लिए बिजली दरों 3 रुपये प्रति यूनिट घटाईं गई हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में मोटरों के 1200 करोड़ रुपये माफ किए। पानी का खर्च घटाकर 50 रुपये महीना किया। रेट घटाकर 5.50 रुपये प्रति क्यूबिक फुट किया।  गन्ने पर 50 रुपये प्रति क्विंटल बढ़ाया। 

घोषणाएं

बाघापुराना में एक नर्सिंग कालेज स्थापित किया जाएगा।  शहीद भगत सिंह के नाम पर स्टेडियम बनाने का ऐलान।  गुरुनानक कालेज और स्पोर्टस अकादमी के लिए ग्रांट के साथ बाघापुराना के दो मौजूदा अस्पतालों को अपग्रेड करन का भी ऐलान। 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.