Punjab Assembly Election 2022: लुधियाना नार्थ से शिअद ने भाजपा से आए आरडी शर्मा पर लगाया दांव, राेचक हाेगा मुकाबला

Punjab Assembly Election 2022 शिअद ने आरडी शर्मा काे लुधियाना नार्थ हलके से टिकट देकर समीकरण को रोचक बना दिया है। हालांकि इसके साथ ही अकाली दल अपने टिकट के प्रमुख दावेदारों को मनाने में भी जुट गया है।

Vipin KumarPublish:Thu, 25 Nov 2021 11:05 AM (IST) Updated:Thu, 25 Nov 2021 11:05 AM (IST)
Punjab Assembly Election 2022: लुधियाना नार्थ से शिअद ने भाजपा से आए आरडी शर्मा पर लगाया दांव, राेचक हाेगा मुकाबला
Punjab Assembly Election 2022: लुधियाना नार्थ से शिअद ने भाजपा से आए आरडी शर्मा पर लगाया दांव, राेचक हाेगा मुकाबला

लुधियाना, [भूपेंदर सिंह भाटिया]। Punjab Assembly Election 2022: आखिर वही हुआ जिसकी चर्चा थी। सालों तक भाजपा के पास रही लुधियाना नार्थ हलके की सीट से शिअद ने फिर भाजपा से आए आरडी शर्मा पर ही दांव लगाया है। पार्टी उम्मीद कर रही है कि इस तरह से चुनाव में आरडी को शिअद व बसपा का वोट तो मिलेगा साथ में वह भाजपा का वोट भी प्राप्त करेंगे।

शिअद की इस रणनीति ने नार्थ हलके के समीकरण को रोचक बना दिया है। हालांकि इसके साथ ही शिअद अपने टिकट के प्रमुख दावेदारों को मनाने में भी जुट गया है। इस बात की आशंका अकाली नेताओं को है कि अगर बगावत हुई तो बात बिगड़ जाएगी। शिअद के अपने दावेदारों की उम्मीदों को इस घोषणा से धक्का तो लगा है। इसलिए शिअद के प्रवक्ता डा. चीमा ने ने ट्विटर पर पूर्व डिप्टी मेयर आरडी शर्मा को टिकट देने की घोषणा की और उसके बाद उन्हें लेकर विजय दानव के घर पहुंच गए।

नार्थ हलके में पहले से भाजपा का ही आधार रहा है। पिछले विधानसभा चुनाव में भी भाजपा के प्रत्याशी प्रवीण बांसल केवल पांच हजार मतों के अंतर से हार गए थे। बांसल के बाद हलके में भाजपा के दूसरे बड़े नेता आरडी शर्मा थे। शिअद ने कभी इस सीट पर दावा नहीं किया। अब गठबंधन टूटने के बाद पार्टी पहली बार शिअद अकेले मैदान में उतर रहा है। प्रबीण बांसल के इस बार लुधियाना सेंट्रल से चुनाव लड़ने की चर्चा है। वहीं, शिअद के एक अपने नेता मदनलाल बग्गा पहले ही आप का दामन थाम चुके हैं। इन सब समीकरणों पर मंथन के बाद शिअद अध्यक्ष सुखबीर बादल ने आरडी शर्मा पर दांव लगाया है।

विजय दानव के घर पहुंचे चीमा, गोशा को किया फोन

शिअद नेताओं को यह पता था कि आरडी शर्मा को टिकट देने के बाद उनके अपने नेता नाराज होंगे। इसलिए डा. चीमा ने साथ में डैमेज कंट्रोल भी शुरू कर दिया। उन्होंने पहले टिकट के दावेदार विजय दानव से बात की फिर आरडी शर्मा और कमल चेतली को साथ लेकर दानव के घर पहुंच गए। इस मुलाकात में विजय दानव ने कहा कि टिकट उनके लिए मायने नहीं रखता। वह शिअद के सिद्धांतों के साथ जुड़े हैं। पार्टी का फैसला उन्हें पूरी तरह मंजूर है। इसके बाद चीमा ने अन्य दावेदार गुरदीप सिंह गोशा से भी फोन पर बातचीत की पार्टी के फैसले के बारे में बताया। गोशा उस समय पंजाब से बाहर थे।

नार्थ हलके की राजनीति में सक्रिय रहा है शर्मा का परिवार

नार्थ हलके में आरडी शर्मा का परिवार लंबे समय से राजनीति में सक्रिय रहा है। उनकी माता प्रेम शर्मा मौजूदा समय में पार्षद हैं और पहले भी पार्षद रह चुकी हैं। शर्मा खुद भाजपा की आरे से नगर निगम में डिप्टी मेयर रह चुके हैं और लंबे समय से राजनीति में हैं।